हिमाचल में कुदरत का कहर जारी, कुल्लू और शिमला में तबाही, देखें वीडियो

ADVERTISEMENT

Himachal Flood Updates: हिमाचल प्रदेश में कुदरत का कहर बरपा है। कुल्लू जिला खासतौर पर आपदा का शिकार हुआ है, जहां गुरुवार को कम से कम आठ इमारतें ध्वस्त हो गईं।

social share
google news

Himachal Flood Updates: हिमाचल प्रदेश में कुदरत का कहर बरपा है। कुल्लू जिला खासतौर पर आपदा का शिकार हुआ है, जहां गुरुवार को कम से कम आठ इमारतें ध्वस्त हो गईं थी। कुल्लू के तीर्थन घाटी से भी पहाड़ टूटने की तस्वीरें आई हैं। कांगड़ा की चक्की नदी के मंझधार में एक शख्स फंस गया। बाद में उसे बचाया गया। हिमाचल में तमाम रास्ते बंद हो गएं तो शिमला रेलवे स्टेशन पर सन्नाटा पसरा है।

कुल्लू के तीर्थन घाटी में पहाड़ टूटा तो बड़ी-बड़ी चट्टाने मलबे के रूप में नीचे गिर गई। हालांकि इसमें कोई हताहत तो नहीं हुआ, क्योंकि प्रशासन ने पहले ही इसके आसपास रह रहे लोगों को अलर्ट कर दिया था।

कभी सैलानियों से गुलजार रहने वाले शिमला में इस वक्त सैलानी नदारद हैं। लगातार हो रहे भूस्खलन की वजह से रास्ते जगह-जगह बंद हैं। हर एक-दो किलोमीटर के बीच भूस्खलन हुआ है। लोगों में डर है कि मौसम की ये कैसी मार है जिसने हाहाकार मचा दिया है ।

ADVERTISEMENT

ADVERTISEMENT

शिमला में लगातार हो रहा भूस्खलन चिंता का विषय है, इसीलिए प्रशासन ने तय किया है कि जहां-जहां हादसा होने की आशंका है, उन जगहों की स्टडी की जा रही है ।

वैसे तो कुदरत के आगे सब बेबस होते हैं, मगर कुदरत का शिकार हुए लोगों को मदद पहुंचाना सरकार की जिम्मेदारी है और लोगों को सुरक्षित रखने के लिए सरकार को जो करना हो, वो करना चाहिए। ऐसा कहा जा रहा है कि अगर केंद्र सरकार 1600 करोड़ वाली योजना को स्वीकार कर ले तो हालात में सुधार लाया जा सकता है । 

ADVERTISEMENT

    यह भी देखे...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT