Lareb Hashmi : उसने कट... कहा था इसलिए बस कंडक्टर पर किया हमला, पहली बार जिहादी लॉरेब हाशमी का कबूलनामा, देखें

ADVERTISEMENT

अस्पताल में भर्ती लारेब हाशमी
अस्पताल में भर्ती लारेब हाशमी
social share
google news

प्रयागराज से आनंद की रिपोर्ट 

Lareb Hashmi : प्रयागराज में बस कंडक्टर पर चॉपड़ से हमला करने वाला आरोपी लारेब हाशमी ने घटना के पीछे की असली वजह बताई है. उसने कहा है कि कंडक्टर ने धर्म और जाति सूचक गाली दी थी. ऐसा सुना था. इसलिए उसे गुस्सा आया था और इस वारदात को अंजाम दिया. आखिर बस कंडक्टर हरिकेश विश्वकर्मा पर हमला करने वाले लारेब हाशमी ने क्या कहा. आइए जानते हैं. 

बस कंडक्टर पर हमले की घटना के सवाल पर लारेब हाशमी ने कहा कि… उसने पब्लिकली तौर पर जाति सूचक शब्द बोल दिए थे, क…. कहा था उसने. ये बात हमसे नहीं बोले थे दूसरे लोगों से बोले थे. इसी वजह से... हम तो सोचे तो कुछ बोलेंगे...ऐसे ही, लेकिन गुस्सा चढ़ गया.

ADVERTISEMENT

नारे के सवाल पर क्या बोला लारेब हाशमी… ये उनके नारे उनके लिए नहीं था, ये गुस्ताख़ लोगों के लिए गुस्सा चढ़ा था, उनके लिए बोले थे । योगी और मोदी के लिए इसलिए बोले क्योंकि ये लोग गुस्ताख़ लोगों को बचा क्यों रहे हैं। 

पाकिस्तानी खादिम मौलाना हुसैन रिज़वी के सवाल पर : बरेलवी हैं , इसलिए उनको मानते हैं, वो पंजाबी बोलते हैं। उनकी आडिओलॉजी हम लोगों से मिलती है । सर वो बरेलवी है इसलिए फॉलो करते हैं । जानते नहीं है बस नेंट पर देखे थे उनको । वीडियो में गुस्ताख़ लोग उनको पैगाम देने की कोशिश की गई है । उनकी जिक्र किया क्योंकि उन्होंने नबी की इज्जत की बात की थी ।"

ADVERTISEMENT

 

कौन है लारेब हाशमी

Who is Lareb Hashmi : प्रयागराज में बस कंडक्टर पर चापड़ से हमला करने वाला लारेब हाशमी (Lareb Hashmi) आखिर इतना कैसे खतरनाक बन गया. एक इंजीनियरिंग स्टूडेंट के दिमाग में इंसानियत की जगह कैसे जहर बन गया. लारेब हाशमी कैसे जिहादी बना. क्या इसके पीछे भी पाकिस्तान का कनेक्शन है. तो अब ये लारेब हाशमी एटीएस के निशाने पर है. इसके मोबाइल फोन की जांच में कई परतें सामने आईं हैं. जिससे पता चलता है कि पाकिस्तानी मौलाना खादिम हुसैन रिजवी के ऑनलाइन वीडियो देख-देखकर ये कट्टर हुआ है और इस वारदात को अंजाम दिया है. इसके पीछे फंडिंग से जुड़ा कोई मामला है तो उसकी भी एजेंसियां जांच कर रही हैं. उसके आतंकी कनेक्शन का भी पता लगाया जा रहा है. आपको बतां दे कि लारेब हाशमी प्रयागराज में पिछले दिनों एक बस कंडक्टर पर चॉपड़ से हमला कर दिया था. जिससे वो बुरी तरह लहूलुहान हो गया. उसका इलाज अभी चल रहा है. घटना के बाद आरोपी का एक वीडियो सामने आया था. जिसमें उसने जुर्म कबूल कर लिया था. 

ADVERTISEMENT

लारेब मौलाना खादिम से प्रभावित हैं

आरोपी लारेब हाशमी पाकिस्तानी मौलाना खादिम हुसैन रिजवी से प्रभावित है. वीडियो में पाकिस्तानी मौलाना खादिम हुसैन रिज़वी के हवाले से कह रहे हैं...'ए खादिम हुसैन रिज़वी, आपने कहा था, अल्लाह के नाम पर निकलो, फ़रिश्ते आएंगे, एक भी हत्या मत करना, इस्लाम के दुश्मन करेंगे लाशों का ढेर लगाना. .' पाकिस्तानी मौलाना खादिम हुसैन रिज़वी तहरीक-ए-लब्बेक के संस्थापक थे.

यह बात कॉलेज प्राचार्य ने कही

अब आरोपी छात्र लारेब हाशमी को लेकर कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं. यूनाइटेड कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड रिसर्च, जहां लारेब बीटेक की पढ़ाई कर रहा है, के प्रिंसिपल ने कहा कि हाशमी एक शांत छात्र था और सबसे पीछे बैठता था. उन्होंने न तो सवालों का जवाब दिया और न ही किसी से बात की. फैकल्टी ने कहा कि यह ऐसी घटना थी जिसके बारे में सोचा भी नहीं जा सकता था. आरोपी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है.

लारेब ने वीडियो में क्या कहा?

  वीडियो में लारेब ने डासना के महंत यति नरसिंहानंद को धमकी भी दी है. वीडियो में वह कहते हैं, 'मैंने इस्लाम के एक दुश्मन को मार डाला है जो मुसलमानों को गाली दे रहा था...इंशाल्लाह वह नहीं बचेगा, इंशाल्लाह वह मर जाएगा। यहां से लेकर फ्रांस तक, पूरी दुनिया में ये बेचारा नवाज हुजूर के खिलाफ बोलने वाला ये पैगाम दे रहा है, लबिक या रसू अल्लाह, हम जिएंगे तुम्हारे लिए और मरेंगे तुम्हारे लिए, इंशाअल्लाह हम मार डालेंगे। कोई ये न समझे कि ये राज योगी का है या मोदी का, नहीं... हमारे दिन तो मुस्तफा का ही राज है, ऐ मुसलमानों, खुदा के लिए जान कुर्बान करो. वो डासना का बच्चा, *** आ रहा है। आपको बता दूं कि जीवित रहना आपके लिए बेहतर है। या ख़ादिम हुसैन रिज़वी, आपने कहा था, अल्लाह के नाम पर निकलो, फ़रिश्ते आयेंगे, एक भी क़त्ल मत करना, इस्लाम के दुश्मन लाशों के ढेर लगा देंगे, इंशाअल्लाह, लबैक या रसूलल्लाह।

छात्रों ने प्रदर्शन किया

प्रदर्शनकारी छात्रों ने कहा कि हमारे माता-पिता अब हमें कॉलेज आने से मना कर रहे हैं. हम डरे हुए हैं और अपनी सुरक्षा को लेकर चिंतित हैं.' कॉलेज की जिम्मेदारी तय की गयी है. हिंदू संगठनों ने भी कॉलेज में प्रदर्शन कर आतंकी विचारधारा वाले छात्रों पर नकेल कसने की अपील की और कॉलेज पर गंभीर आरोप भी लगाए.

राजनीतिक दलों की प्रतिक्रिया

प्रयागराज की घटना पर बीजेपी प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने कहा, 'प्रयागराज की घटना स्तब्ध करने वाली, स्तब्ध करने वाली और गुस्सा भड़काने वाली है. तुष्टिकरण की राजनीति ने भारत में कट्टरपंथ की वैश्विक समस्या को पनपने का अनुकूल अवसर दिया था. मोदी योगी सरकार ऐसी समस्या को अपने पैरों पर खड़ा नहीं होने देगी. यूपी पुलिस ने मुठभेड़ में कट्टरपंथी तत्व को गिरफ्तार किया है.

समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता अमीक जामई ने कहा, 'हर मामले को धर्म का जामा देने की कोशिश की जा रही है. जो भी मामला धर्म से जोड़ा जा रहा है, इस पूरे मामले की गहनता से जांच होनी चाहिए. ऐसे लोग कट्टरपंथी क्यों हैं? हो रहे हैं. सबसे पहले तो इस बात की जांच होनी चाहिए कि क्या ऐसी घटनाओं के पीछे फीस का मुद्दा है या फिर और भी कोई मुद्दे हैं, उनके पीछे वजह क्या है?

अखिल भारतीय हिंदू महासभा के राष्ट्रीय प्रवक्ता ने कहा कि ऐसे अपराधियों का महिला कांस्टेबलों द्वारा एनकाउंटर कर देना चाहिए ताकि उन्हें स्वर्ग का रास्ता मिल सके. ऐसी घटनाएं लगातार बढ़ती जा रही हैं.

बस कंडक्टर पर हमला किया गया

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में चलती बस में लारेब हाशमी ने बस कंडक्टर पर चापड़ से हमला कर दिया था. हमले के बाद युवक बस से उतरकर भाग गया. घायल बस कंडक्टर को तुरंत प्रयागराज के एसआरएन अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उसका इलाज चल रहा है.

पुलिस ने जब आरोपी लारेब को गिरफ्तार किया तो घटना में प्रयुक्त हथियार बरामद करने के लिए उसे अपने साथ ले गई. इस दौरान उसने पुलिस पर फायरिंग कर दी. जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने भी फायरिंग की जिससे आरोपी के पैर में गोली लग गई. फिलहाल आरोपी को प्रयागराज के एसआरएन अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उसका इलाज चल रहा है.

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...