ऐसे किया था बिभव ने मालीवाल पर 'हमला', पेट पर जब मारा तो चीख पड़ी थी स्वाति, चेहरे पर अंदरूनी चोट का खुलासा

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

Swati Maliwal Case: आम आदमी पार्टी की राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल के साथ मुख्यमंत्री आवास पर हुई कथित मार पिटाई और बदसलूकी की खबरें सुर्खियों में बनी हुई हैं। अब तक जो खुलासे सामने आ चुके हैं वो भी कम हैरान करने वाले नहीं हैं। 

प्राइवेट गाड़ी से सीएम हाउस पहुँची थीं

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक स्वाति मालीवाल 13 मई को एक प्राइवेट गाड़ी से सीएम हाउस पहुंची थीं। 13 मई को दिल्‍ली महिला आयोग की पूर्व अध्‍यक्ष स्‍वाति मालीवाल सिविल लाइंस में मौजूद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर मिलने पहुंची थी। वो मुख्यमंत्री आवास की लॉबी में इंतजार कर रही थी। उसी समय सीएम के पीएस बिभव कुमार वहां पहुंच गए। पहले तो दोनों के बीच बातचीत हुई और फिर बिभव कुमार जोर जोर से चीखने चिल्लाने लगे लेकिन बात यहीं नहीं खत्म हुई उसके बाद बिभव कुमार ने स्‍वाति पर लात, घूसों से हमला कर दिया। इस दौरान बिभव ने राज्‍यसभा सांसद के पेट में भी मारा।

स्वाति चीखी चिल्लाईं थीं

पुलिस को दी अपनी शिकायत में खुद स्वाति मालीवाल ने बताया कि सीएम हाउस के ड्राइंग रूम में जब बिभव ने उनके साथ मारपीट की और गाली गलौज की तब वो चीखी और चिल्लाई भी थीं। इतना ही नहीं, सीएम आवास पर उस वक्त मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल मौजूद भी थे। लेकिन बिभव कुमार ने उन्हें बिना किसी के पूछे बगैर उन्हें सीएम हाउस से बाहर निकला दिया था।

ADVERTISEMENT

चेहरे पर अंदरूनी चोट का खुलासा

सीएम हाउस से स्वाति पैदल निकलीं थीं और कुछ दूर चलने के बाद ही कार पर सवार हुईं ती। और सीधा पुलिस स्टेशन पहुंची थी। दिल्‍ली पुलिस गुरुवार की रात 11 बजे स्वाति मालीवाल को लेकर एम्स ट्रॉमा सेंटर मेडिकल करवाने पहुँची थी जहां करीब तीन घंटे तक स्वाति का मेडिकल करवाया गया। शुरूआती रिपोर्ट का खुलासा है कि स्वाति के चेहरे पर अंदरूनी चोट का अंदेशा है। इससे ये अंदाजा हो जाता है कि स्वाति के साथ किस तरह बेरहमी की गई। 

6 घंटे तक कोई खंडन तक नहीं आया

खुलासा ये भी है कि इस वाकये के करीब 6 घंटे बीत जाने के बाद तक न तो सीएम हाउस से कोई खंडन आया और न ही स्वाति मालीवाल की ओर से ही घटना के बारे में कोई जानकारी दी गई। दिल्ली पुलिस के सूत्रों के हवाले से बताया जा रहा है कि स्वाति मालीवाल सिविल लाइन थाने आईं थीं। हालांकि उन्होंने कोई लिखित शिकायत नहीं दी थी। अब सवाल उठता है कि आखिर आम आदमी पार्टी में चल क्या रहा है? क्या दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के कुछ और निकटवर्ती लोग पार्टी से मुख मोड़ चुके हैं? आखिर स्वाति मालीवाल, अरविंद केजरीवाल जैसे हाईली क्वालिफाइड लोगों के बीच ये मारपीट की नौबत क्यों आईं? 

ADVERTISEMENT

आखिर क्या है सच्चाई?

पिछले चार दिनों से आम आदमी पार्टी की सांसद स्वाति मालीवाल के साथ हुई कथित मार पिटाई और बदसलूकी की खबर मीडिया की सुर्खियां बनी हुई हैं। हर कोई यही जानना चाहता है कि आखिर सच्चाई क्या है। और उसी सच का पता लगाने के लिए पुलिस भी पसीना बहाने में जुट गई है। स्‍वाति मालीवाल की शिकायत पर दिल्‍ली पुलिस गुरुवार की रात से ही एक्‍शन में नजर आ रहा है। और अब तो जांच का दायरा सीधा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के इर्द गिर्द सिमटता जा रहा है क्योंकि पुलिस के पास पहुँची रिपोर्ट के मुताबिक स्वाति मालीवाल के साथ जो भी बदसलूकी हुई उस वक़्त अरविंद केजरीवाल वहीं मौजूद थे। 
 

ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT