अमेरिका को तालिबान की धमकी : 31 अगस्त तक सैनिकों को बुला लो वापस, वरना...

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

तालिबान ने अमेरिका को धमकी दी है कि वह 31 अगस्त तक पूरी तरह अपने सैनिकों को वापस बुला ले, अगर इसके बाद अमेरिकी सैनिक यहां रुकते हैं तो इसका बुरा असर हो सकता है। वहीं, तालिबान का दावा है कि उसने तीन जिलों पर फिर कब्जा कर लिया है।

तालिबान के प्रवक्ता ज़बीउल्लाह मुजाहिद (Zabihullah Mujahid) ने दावा किया है कि पुल-ए-हिसाल, बन्नू, देह सालेह जिलों को फिर से उनके कब्जे में कर लिया गया है, जबकि नॉर्दर्न एलायंस के लड़ाकों से इन्हें खाली करा लिया गया है। इसके साथ ही अब सलांग पास को भी खाली करवा दिया गया है। इससे पहले नॉर्दर्न एलायंस ने इन जिलों को तालिबान से मुक्त कराने का दावा किया था।

स्क्रैप मेटल के निर्यात पर रोक

ADVERTISEMENT

अफगानिस्तान में तालिबान की ताकत काफी ज्यादा बढ़ गई है। अब जल्द ही देश में नई सरकार का गठन भी होने जा रहा है। तालिबान ने इसके स्पष्ट संकेत दे दिए हैं। इस बीच उसकी तरफ से अब देश की नीतियों में हस्तक्षेप करना भी शुरू कर दिया गया है। आर्थिक मामलों के आयोग ने नया आदेश जारी कर दिया है। उस आदेश के मुताबिक अब स्क्रैप मेटल के निर्यात पर रोक लगा दी गई है।

अमेरिकी राष्ट्रपति का बयान

ADVERTISEMENT

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने बड़ा बयान देते हुए कहा है कि अफगानिस्तान में स्थिति चिंताजनक है और उन स्थितियों का फायदा वहां मौजूद आतंकी उठा सकते हैं। उन्होंने कहा कि ये आतंकी आम अफगानी और अमेरिकी सेना को अपना निशाना बना सकते हैं। हमने स्थिति पर पैनी नजर रखी है। हम ISIS के खतरे से भी निपटने को तैयार हैं।

ADVERTISEMENT

वहीं, दिल्ली में UNHRC के दफ्तर के बाहर सोमवार को अफगानी लोगों द्वारा प्रदर्शन किया गया। अफगानिस्तान से लोगों को सुरक्षित निकालने और उन्हें शरणार्थी का दर्जा देने की अपील की गई है।

हिन्दू-सिखों को लाया जा रहा है वापस

अफगानिस्तान से 46 हिन्दू, सिखों को भारत लाया जा रहा है। इस गुट के साथ 3 गुरुग्रंथ साहिब को भी भारत वापस लाया जा रहा है। सोमवार सुबह ही अफगानिस्तान से करीब 146 लोगों को दिल्ली वापस लाया गया था।

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT