देखें वीडियो - NAGAUR: गैंग्स्टर लॉरेंस बिश्नोई और गोल्डी बराड़ VS बंबिहा गैंग वार शुरू! बंबिहा गैंग का पलटवार

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

जयपुर से जयकिशन शर्मा के साथ अरविंद ओझा के चिराग गोठी की रिपोर्ट

NAGAUR Gangwar News: राजस्थान के नागौर में कोर्ट परिसर में ही गैंगस्टर संदीप सेठी की हत्या कर दी गई। इस हत्याकांड की पूरी तस्वीर सीसीटीवी में कैद हुई है। ऐसा कहा जा रहा है कि लॉरेंस विश्नोई और गोल्डी बराड़ के विरोधी गुट कौशल और बंबिहा गैंग ने इस शूटआउट की जिम्मेदारी ली है। सीसीटीवी फुटेज से पुलिस ने 5 हत्यारों की पहचान की है। राजस्थान के नागौर में हुए शूटआउट की जिम्मेदारी लारेंस बिश्नोई और गोल्डी बराड़ गैंग के विरोधी गैंग कौशल चौधरी और बंबिहा गैंग ने फेसबुक पोस्ट करके ली है।

दरअसल ये पूरा मामला दो गैंग की लड़ाई का है । राजस्थान के नागौर में हुए शूटआउट की जिम्मेदारी लारेंस बिश्नोई और गोल्डी बराड़ गैंग के विरोधी गैंग कौशल चौधरी और बंबिहा गैंग ने फेसबुक पोस्ट करके ली है। हाल के दिनों में लारेंस बिश्नोई- गोल्डी बराड़ गैंग ने बंबिहा गैंग से जुड़े लोगों, जिसमें सिद्धू मुसावला भी शामिल था, की हत्या की थी।

ADVERTISEMENT

भारत के बाहर फिलिपिंस में भी बंबिहा गैंग के एक मेन गैंगस्टर को कनाडा में बैठे गोल्डी बराड़ ने कुछ दिनों पहले गोली मरवा कर हत्या करवाई थी। बराड़ गैंग ने ऑ़डियो रिलीज कर बंबिहा गैंग को टुच्चा गैंग कहा था।

राजस्थान के शहर नागौर में सोमवार दोपहर को हुए शूटआउट से हड़कंप मच गया है, जहां कोर्ट परिसर के बाहर भारी भीड़ के बीच संदीप विश्नोई की हत्या कर दी गई। सीसीटीवी की तस्वीरें भी सामने आई थी। एक केस में पेशी के लिए गैंग्स्टर संदीप बिश्नोई अपने कुछ साथिय़ों के साथ पैदल कोर्ट की तरफ बढ़ रहा है। जब वो कोर्ट के चंद कदमों के फासले पर था तभी पीछे से आए बदमाशों ने संदीप के सिर पर करीब से गोली मार दी। गोली लगते ही संदीप नीचे गिर गया। संदीप के गिरने के बाद हमलावरों ने और गोलियां मारी। जब वहां मौजूद लोगों ने हमलावरों को पकड़ने की कोशिश की तो फायरिंग करते हुए हमलावर बाइक से भाग गए। बताया जाता है कि हमलावरों ने कुल नौ राउंड फायरिंग की।

ADVERTISEMENT

संदीप बिश्नोई सुपारी किलर के रूप में कुख्यात था। शराब की तस्करी में भी उसका नाम आता है। वो मूल रूप से हरियाणा का रहने वाला था। नागौर में एक कारोबारी की हत्या का भी आरोप है। वो सेठी गैंग से जुड़ा बताया जाता है। भीलवाड़ा में दो कांस्टेबल के कत्ल के आरोपी कुख्यात गैंग्स्टर राजू फौजी का भी वो करीबी माना जाता है। आरोप है कि कत्ल के लिए राजू फौजी को हथियार संदीप बिश्नोई ने ही दिए थे। 2016 में बाड़मेर में बिश्नोई को छिपाने में फौजी ने मदद की थी।

ADVERTISEMENT

इस बीच, फेसबुक पोस्ट कर कौशल चौधरी और बंबिहा गैंग ने नागौर शूटआउट की जिम्मेदारी ले ली है। Davinder bambiha नाम के Facebook पोस्ट से भी नागौर हत्याकांड की जिम्मेदारी ली गई है। ये लारेंस बिश्नोई और गोल्डी बराड़ गैंग का विरोधी गैंग है। अभी हाल ही में कौशल चौधरी और बंबिहा गैंग के लीडर देवेंदर के ठिकानों पर NIA ने रेड की थी। पिछले तमाम घटनाक्रम को देखते हुए नागौर शूटआउट के बाद एक बार फिर गैंगवार छिड़ने की आशंका तेज हो गई है।

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT