मैं सेक्स एडिक्ट हूं, नपुंसक हूं...और मुझे एड्स भी है, गर्ल फ्रेंड के टुकड़ों को कुकर में उबालने वाले मनोज का कबूलनामा

ADVERTISEMENT

मनोज के कबूलनामे से पुलिस हुई हैरान
मनोज के कबूलनामे से पुलिस हुई हैरान
social share
google news

Mira Road Murder Case: मुंबई के मीरा रोड में लिव इन पार्टनर के टुकड़े करके कुत्तों को खिलाने वाले आरोपी मनोज साने ने पुलिस के सामने जो कबूल किया वो किसी फिल्मी कहानी जैसा लगता है, आश्चर्यजनक, अविश्वसनीय, अकल्पनीय। 32 साल की अपनी गर्लफ्रेंड के सौ से ज़्यादा टुकड़े करने वाले 56 साल के मनोज ने हैरान कर देने वाला खुलासा जब पुलिस के सामने किया तो पुलिस बस आंखों फाड़कर और मुंह खोलकर सुनती ही रह गई। 

मनोज ने कहा, ‘ मैं नपुंसक हूं...और मुझे एड्स है’..

मनोज के मुंह के जैसे ही एड्स का नाम निकला वहां मौजूद पुलिसवाले एक दूसरे का चेहरा देखने लगे। क्योंकि मनोज ने ऐसी बात कह दी थी जिस पर यकीन ही नहीं हो रहा था। मनोज ने कहा, वो सेक्स का आदी है, और डेटिंग एप्स पर कई लड़कियों के संपर्क में था..और इसी बात को लेकर सरस्वती के साथ उसका रोज झगड़ा होता था। पुलिस ने जब उसके मोबाइल को चेक किया तो वहां उसे पोर्न फिल्मों और क्लिप्स का भंडार मिला। जिससे इस बात का खुलासा भी हुआ कि मनोज सेक्स एडिक्ट भी था। अपने खुलासों से पुलिस की हवा टाइट करने वाले मनोज ने बताया कि कई डेटिंग एप्स पर वो लड़कियों से चैट करता रहता था। और इसी वजह से सरस्तवती के साथ उसका झगड़ा होता था। 

मनोज ने पुलिस को बताया कि वो सेक्स एडिक्ट है और उसे एड्स है

मनोज की आदतों से तंग आकर की खुदकुशी

पुलिस के सामने मनोज ने दावा किया है कि सरस्वती ने उसकी आदतों और हरकतों से तंग आकर ही आत्महत्या की। वो तो डर के मारे बस उसकी लाश को ठिकाने लगाने की फिराक में था इसीलिए उसने उसकी लाश के कई टुकड़े किए और उनकी बदबू को फैलने से रोकने के लिए ही उसे कूकर में डालकर उबाला। 

ADVERTISEMENT

डेटिंग एप्स से लड़कियों से संपर्क

पुलिस की जांच में ये बात तो साबित हो गई है कि मनोज पोर्न साइट्स पर भी सक्रिय रहता था। और फिर डेटिंग एप्स के जरिए लड़कियों और महिलाओं के संपर्क में रहता था। उसके मोबाइल पर कई अश्लील तस्वीरें भी मिलीं। हालांकि पुलिस मनोज की लगभग सारी बातें मान रही है लेकिन ये बात उसके गले नहीं उतर रही है कि सरस्तवती ने खुदकुशी की। पुलिस अफसर का मानना है कि मनोज ने अपनी गर्लफ्रेंड की हत्या की और आप बात बनाकर पुलिस को गुमराह करने की फिराक में है। 

मनोज का कबूलनामा सुनकर पुलिस भी हैरान रह गई

घर से मिला कीटनाशक

पुलिस की तफ्तीश में ये भी साफ हुआ है कि उसने पेड़ काटने वाली आरी खरीदी थी जिसका इस्तेमाल करते वक़्त उसकी चेन भी टूटी थी जिसे उसने खुद ही ठीक भी किया था। पुलिस को मनोज के घर से चूहा मारने वाला कीटनाशक भी मिला है। अब पुलिस इस बात का पता लगाने की कोशिश में है कि सरस्वती की मौत में कहीं इस कीटनाशक का इस्तेमाल तो नहीं किया गया। 

ADVERTISEMENT

सरस्वती को कोई नहीं जानता था

मीरा रोड के जिस अपार्टमेंट में मनोज और सरस्वती रहते थे वहां आस पास के लोग सरस्वती को नहीं जानते और पहचानते थे। और न ही सरस्वती को अपने अड़ोस पड़ोस के बारे में कुछ पता था। पता चला है कि पिछले तीन सालों से दोनों मीरा रोड के गीता आकाशदीप बिल्डिंग की सातवीं मंजिल के फ्लैट में रह रहे थे। 

ADVERTISEMENT

मनोज और काला बोरा

असल में जिस रोज मनोज सुबह अपने घर से निकला तो उसी दिन उसके घर से बदबू को पड़ोसियों ने महसूस किया था। वो अपने घर से काला बोरा लेकर निकला था और जब एक पड़ोसी ने उसे देखा तो उसने पड़ोसी को बताया कि वो रात 10.30 बजे तक लौटेगा। इसके बाद ही पड़ोसियों को कुछ दाल में काला महसूस हुआ। और तभी पुलिस को इत्तेला दी गई। 

सिंक में फंसी मिली अधजली हड्डियां और मांस के टुकड़े

पुलिस को उसके घर से एक प्लास्टिक बैग और खून से सनी आरी मिली। जबकि रसोई में प्रेशर कुकर और कुछ बर्तनों में इंसानी गोश्त उबला हुआ मिला। इसके अलावा फर्श पर महिला के सिर के बाल नज़र आए, जबकि अधजली हड्डियां और मांस रसोई के सिंक में पड़े मिले। वहीं बाल्टी और टब में खून और मांस के लोथड़े भरे मिले। 

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...