Jammu and Kashmir: कश्मीर से धारा 370 हटने के तीन साल बाद आंतकी घटनाओं में कमी

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

पूजा शाली के साथ चिराग गोठी की रिपोर्ट

Jammu and Kashmir Artical 370 Revocked: जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने के आज तीन साल पूरे हो गए हैं। धारा 370 हटाने के बाद के बाद आतंकी घटनाओं में कमी आई है। इसके साथ ही लॉ एंड ऑर्डर की घटना में किसी भी नागरिक और जवान की मौत नहीं हुई है। आतंकी घटनाओं में आम लोगों की मौतों की संख्या में भी कमी आई है।

Article 370 Removal : जम्मू-कश्मीर पुलिस ने धारा 370 (Article 370) के पहले और बाद के 3 साल की घटनाओं की तुलना करते हुए जानकारी दी है कि कश्मीर जोन में आतंकी घटनाओं में कमी आई है। पुलिस ने इन मामलों को छह कैटेगरी में बांटा है।

ADVERTISEMENT

लॉ एंड ऑर्डर की घटनाएं : इनमें लॉ एंड ऑर्डर की घटनाएं जो 5 अगस्त 2016 से 4 अगस्त 2019 के बीच में 3686 हुई थीं, 5 अगस्त 2019 से 4 अगस्त 2022 के बीच में सिर्फ 438 ही हुईं।

इसके अलावा लॉ एंड ऑर्डर की घटनाओं में 370 हटाए जाने से तीन साल पहले 124 नागरिकों की मौत हुई थी, जो स्पेशल स्टेटस हटाए जाने के बाद शून्य हो गईं। इसके अलावा ऐसी घटनाओं में छह जवान भी शहीद हुए थे, लेकिन 2019 के बाद किसी भी जवान की मौत नहीं हुई है।

ADVERTISEMENT

आतंकी घटनाएं: कश्मीर में आतंकी घटनाओं की बात करें तो 5 अगस्त, 2016 से 4 अगस्त, 2019 के बीच कुल 930 घटनाएं हुई थीं, जो 370 हटाए जाने के बाद घटकर 617 हो गईं। इन आतंकी घटनाओं में 370 लागू रहने से पहले 290 जवान शहीद हुए थे और 191 नागरिक मारे गए थे। धारा 370 हटाए जाने के 3 साल बाद 174 जवान शहीद हुए और 110 लोग मारे गए।

ADVERTISEMENT

केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार ने साल 2019 में 5 अगस्त के दिन ही जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद-370 (Article 370 of Indian Constitution) को हटा दिया था।

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT