DCP Office के पास कारोबारी का Murder, बीच रास्ते में चाकू से गोदकर मार डाला, BIKE से हुई मरने वाले की पहचान

Crimetak

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

श्रेया भूषण की रिपोर्ट

Delhi Crime: उत्तर पूर्वी दिल्ली के इलाकों में बढ़ती संगीन वारदातों ने अजीब सी दहशत का माहौल बना दिया है। ताजा वाकया सीलमपुर इलाके से सामने आया है। यहां बदमाशों ने एक बाइक सवार की चाकू से गोदकर हत्या कर दी। ये सनसनीखेज हत्या की वारदात मंगलवार देर रात वारदात को अंजाम दिया गया। लेकिन इससे भी ज्यादा हैरानी की बात ये है कि इलाके के सबसे आला पुलिस अफसर यानी डीसीपी (DCP) के दफ्तर से महज चंद कदमों की दूरी पर अंजाम दी गई। और ये बात जैसे ही इलाके में फैली तो गम और गुस्से की एक अजब तस्वीर सामने आई। 

Doctor ने दी हत्या की खबर

वारदात का पता तब चला जब रात तकरीबन 10:30 बजे पुलिस को  JPC हॉस्पिटल के डॉक्टर की कॉल पहुँची। कॉल में डॉक्टर ने बताया कि एक लाश जीटी रोड के फ्लाइओवर के पास मिली थी। जिसकी हत्या चाकू मारने से हुई है, उसकी लाश को उठाकर अस्पताल लाया गया था लेकिन तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। डॉक्टर ने ही पुलिस को बताया कि उस शख्स की मौत छाती के दाहिने हिस्से में चाकू लगने से हुई।

ADVERTISEMENT

लूटपाट के चक्कर में हत्या की आशंका

अब पुलिस के सामने सबसे बड़ा सवाल यही था कि आखिर मरने वाला कौन है। लेकिन इससे भी बड़ा सवाल ये है कि आखिर उस बाइक सवार को चाकू से गोदकर मारने वाले कौन हैं। पुलिस ने ये तो अंदाजा लगा लिया कि हत्या की इस वारदात में एक से ज्यादा बदमाशों के शामिल होने का अंदेशा है। पुलिस ने मौका-ए-वारदात का मुआयना किया और उस इलाके में लगे तमाम सीसीटीवी खंगालने शुरू कर दिए हैं। हालांकि अभी तक पुलिस के हाथ खाली हैं। पुलिस को अभी तक ये बात समझ में नहीं आई कि आखिर हत्या की वारदात को अंजाम देने वाले बदमाशों का मकसद क्या था। आशंका जताई जा रही है कि लूटपाट या रोडरेज की वजह से ये हत्या की गई है। हालांकि इससे पहले भी शनिवार की रात उत्तर पूर्वी दिल्ली के उस्मानपुर गांव के पास बदमाशों ने विक्की नाम के लड़के की चाकू मारकर हत्या कर दी गई थी। 

मोटरसाइकिल से हुई मरने वाली की पहचान

इसी बीच पुलिस ने मरने वाले मोटरसाइकल सवार की पहचान कर ली है। पुलिस ने मोटरसाइकल के रजिस्ट्रेशन के जरिए उसकी पहचान की। मरने वाले का नाम मनोज कुमार बताया जा रहा है जो मकान संख्या 484, डी 27, गली नंबर 3, चंदर लोक, शाहदरा में अपने परिवार के साथ रहता था। मनोज का कश्मीरी गेट पर स्पेयर पार्ट का काम था। परिवार में उसका 20 साल का बेटा और 23 साल की बेटी है। बेटा 12वीं में है जबकि बेटी ग्रेजुएशन में है। पुलिस का दावा है कि जल्दी ही मनोज कुमार की हत्या करने वाले बदमाशों को जल्दी ही पकड़ लिया जाएगा। 

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...