Amravati : अमरावती में केमिस्ट की हत्या : कोर्ट ने 7 आरोपियों को NIA की हिरासत में भेजा

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

Umesh kolhe Murder news : राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) ने बृहस्पतिवार को यहां एक अदालत में कहा कि महाराष्ट्र के अमरावती (Amravati) में दवाई की दुकान चलाने वाले उमेश कोल्हे की हत्या के आरोप में गिरफ्तार आरोपी आतंकवादी गतिविधियों में शामिल थे।

एनआईए की विशेष अदालत ने दलीलें सुनने के बाद सात आरोपियों को 15 जुलाई तक इस केंद्रीय जांच एजेंसी की हिरासत में भेज दिया।

अमरावती में दवा की दुकान चलाने वाले उमेश कोल्हे की 21 जून की रात घर लौटते समय हत्या कर दी गई थी। आरोप है कि पैगंबर मोहम्मद के बारे में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की निलंबित नेता नुपुर शर्मा की विवादास्पद टिप्पणी का समर्थन करने वाले पोस्ट साझा करने के लिए कोल्हे की हत्या कर दी गई।

ADVERTISEMENT

एनआईए ने विशेष न्यायाधीश ए के लाहोटी से आरोपियों को 15 दिन की हिरासत का अनुरोध किया था लेकिन उन्होंने 15 जुलाई तक एजेंसी को आरोपियों की हिरासत दी।

एनआईए ने अदालत को बताया कि यह दर्शाने के लिए आधार है कि आरोपी आतंकवादी गतिविधियों में शामिल थे । अभियोजन ने कहा कि आरोपियों की कोल्हे से कोई व्यक्तिगत दुश्मनी नहीं थी लेकिन उनका इरादा लोगों को आतंकित करना था।

ADVERTISEMENT

एनआईए ने कहा कि ऐसा ही अपराध कहीं और भी हुआ है। एजेंसी शर्मा का समर्थन करने पर उदयपुर में एक दर्ज़ी की हत्या का हवाला दे रही थी। उसने अदालत को बताया कि यह एक गहरी साज़िश है।

ADVERTISEMENT

एक आरोपी की ओर से पेश हुए अधिवक्ता शरीफ शेख ने दलील दी कि अभियोजन पक्ष ने यह उल्लेख नहीं किया कि कौन सा आतंकवादी संगठन इस अपराध में शामिल है और कोई विशेष जानकारी नहीं दी गई है।

उन्होंने यह भी कहा कि आतंकवाद रोधी गैरकानूनी गतिविधि (रोकथाम) अधिनियम को लागू करने का कोई आधार नहीं है। वकील ने कहा कि आरोपी अमरावती पुलिस की हिरासत में काफी समय बिता चुके हैं और अब उन्हें न्यायिक हिरासत में भेजा जाना चाहिए।

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT