DAWOOD IBRAHIM : दाऊद इब्राहिम को पकड़ने के लिए क्या है NIA की खुफिया प्लानिंग?

Crime News: दाऊद इब्राहिम के शार्प शूटर्स, तस्करों के 20 ठिकानों पर मुंबई में ताबड़तोड़ छापे
DAWOOD IBRAHIM : दाऊद इब्राहिम को पकड़ने के लिए क्या है NIA की खुफिया प्लानिंग?
DAWOOD IBRAHIM : FILE PHOTO

कमलजीत संधू/मुनीष पांडे के साथ चिराग गोठी की रिपोर्ट

NIA ACTION AGAINST DAWOOD IBRAHIM AIDES : अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम (Dawood Ibrahim) पर केंद्र सरकार ने शिकंजा कसा है। ये और बात है कि सभी को पता है कि दाऊद पाकिस्तान में है और ये भी सच है कि भारत की कोई भी एजेंसी उसे अभी तक यहां नहीं ला सकी है, लेकिन आए दिन उसके सहयोगियों को पकड़ने का दावा जरूर एजेंसियां करती रहती है। ताजा मामले में NIA ने मुंबई में दाऊद के 20 ठिकानों पर सोमवार को रेड मारी है। ये 20 ठिकाने दाऊद के शार्प शूटर्स, तस्करों, डी-कंपनी के रियल एस्टेट मैनेजर से जुड़े हैं। कई हवाला ऑपरेटर्स पर भी छापेमारी हुई है। ये छापेमारी जिस केस में हुई है, यह वही केस है जिसमें ED ने NCP नेता नवाब मलिक को गिरफ्तार किया था।

NIA का बड़ा एक्शन पर दाऊद कब होगा शिकंजा में !

CRIME NEWS IN HINDI : NIA ने बोरिवली, सांताक्रूज, बांद्रा, नागपाड़ा, गोरेगांव, परेल के 20 ठिकानों पर छापे मारे हैं। गृह मंत्रालय के आदेश पर NIA ने दाऊद इब्राहिम, डी कंपनी के खिलाफ केस दर्ज किया था, उस पर ही यह जांच और छापेमारी चल रही है। दाऊद इब्राहिम से जुड़े मामले की जांच गृह मंत्रालय ने फरवरी 2022 में NIA को सौंपी थी। इससे पहले तक ईडी दाऊद से जुड़े मामलों की जांच कर रही थी।

लिस्ट में और आतंकी भी शामिल

DAWOOD IBRAHIM UPDATE : NIA की लिस्ट में सिर्फ दाऊद ही नहीं है, बल्कि अंडरवर्ल्ड डॉन के गुर्गे छोटा शकील, जावेद चिकना, टाइगर मेनन, इकबाल मिर्ची (मृत), दाऊद की बहन हसीना पारकर (मृत) से जुड़ी आतंकी गतिविधियां की जांच भी शामिल है। इस वक्त दाऊद इब्राहिम पाकिस्तान में छिपा हुआ है और कराची के एक पॉश इलाके में ठिकाने बदल-बदल कर रहता है।

दाऊद के खिलाफ 93 ब्लास्ट के अलावा कई मामले दर्ज

DAWOOD NEWS : आपको बता दें कि डी कंपनी संयुक्त राष्ट्र (UN) द्वारा बैन आतंकी संगठन है। वहीं 1993 में हुए मुंबई धमाकों के आरोपी दाऊद को 2003 में यूएन ने ग्लोबल आतंकी माना था। उसपर 25 मिलियन डॉलर का इनाम भी रखा गया था। गृह मंत्रालय के मुताबिक, D कंपनी और दाऊद इब्राहिम भारत में टेरर फंडिंग, नार्को टेरर, ड्रग्स स्मगलिंग और फेक करेंसी (FICN) का व्यापार कर आतंक फैलाने का काम कर रहे हैं। इतना ही नहीं दाऊद इब्राहिम और इसकी D कंपनी, लश्कर ए तैयबा (LeT), जैश ए मोहम्मद (JeM) और अल कायदा के जरिए भारत में आतंकी गतिविधियों को अंजाम दे रही है।

Related Stories

No stories found.