26/11 ATTACK : आतंकी कसाब को जिंदा पकड़ने वाले पुलिसवालों को 14 साल बाद मिला प्रमोशन

26/11 ATTACK : आतंकी कसाब को जिंदा पकड़ने वाले पुलिसवालों को 14 साल बाद मिला प्रमोशन
अजमल कसाब (FILE PHOTO)

26/11 ATTACK/POLICE PROMOTIONS : आतंकी कसाब को जिंदा पकड़ने वाले पुलिस वालों को अब जाकर प्रमोशन मिला है। साल 2008 में कसाब को जिंदा पकड़ा गया था। बाद में उसे फांसी की सजा सुनाई गई थी।

इन पुलिस वालों को इनाम के तौर पर मेडल और दूसरे सम्मान तो साल 2008 में ही मिल गए थे, लेकिन तब उनकी पदोन्नति नहीं हुई थी। अब इनकी मुराद पूरी हो गई है। 22 मार्च को इन पुलिस अधिकारियों को 'one-step' प्रमोशन दिया गया है। ऐसे में इन पुलिसकर्मियों को दो से आठ लाख के बीच का मोनेटरी बेनिफिट मिल सकता है। बड़ी बात ये भी है कि ये पदोन्नति 2008 से ही प्रभावी मानी जाएगी। यहां वन स्टेप प्रमोशन का मतलब ये है कि उन अधिकारियों को उनके पद से एक पद ऊपर के अधिकारियों के जितनी पगार दी जाएगी।

क्या हुआ था 26/11 को?

2008 में आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा ने ये हमले किए थे। 26/11 आतंकी हमले के बाद पुलिस ने अजमल कसाब को जिंदा पकड़ा गया था। तब कुल 15 पुलिसकर्मियों ने एक ऑपरेशन कर उस आतंकी को जिंदा पकड़ा था। उस ऑपरेशन में असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर Tukaram Ombale शहीद हुए थे, वहीं आठ अधिकारी अब रिटायर हो चुके हैं। मुंबई में दो पांच सितारा होटल, अस्पताल और रेलवे स्टेशन पर भी हमले किए गए थे। इसमें कुल 160 लोगों की मौत हो गई थी।

अजमल कसाब (FILE PHOTO)
जिसको मार न सकी आतंकियों की गोली: कसाब की पहचान करने वाली देविका रोटावन की कहानी

Related Stories

No stories found.