Serial Killer: कहानी सीरियल किलर सैमुअल लिटिल की, जो हत्या से पहले बनाता था स्केच

Most Prolific Serial Killer: दुनिया में एक से बढ़कर एक सीरियल किलर्स के क़िस्से देखे और सुने होंगे, लेकिन आज जिस सीरियल किलर का क़िस्सा सामने आया है उसका नाम सुनकर आज भी अमेरिका में दहशत फैल जाती है।
Serial Killer: कहानी सीरियल किलर सैमुअल लिटिल की, जो हत्या से पहले बनाता था स्केच
अमेरिका का सबसे ख़तरनाक सीरियल किलर सैमुअल लिटिल

Crime Ki Kahani: अमेरिका की सबसे बड़ी जांच एजेंसी फेडरेल ब्यूरो ऑफ इनवेस्टिगेशन यानी FBI ने उस सीरियल किलर को अमेरिका का सबसे ख़तरनाक सीरियल किलर घोषित किया था। FBI के रिकॉर्ड के मुताबिक इस सीरियल किलर ने 1970 से लेकर 2005 तक क़रीब 35 सालों तक एक दो नहीं...10-20 भी नहीं बल्कि 93 हत्याएं की थी। और उसकी शिकार ज़्यादातर महिलाएं होती थीं।

सैमुअल लिटिल। यही नाम था उस ख़तरनाक क़ातिल का, जिसने 80 साल की उम्र में 30 दिसंबर 2020 को कैलिफोर्निया के एक अस्पताल में एड़ी रगड़ रगड़ कर जान दे दी। लेकिन मरने से पहले सैमुअल लिटिल ने FBI के सामने अपने अपराधों के बारे में जो जो खुलासे किए उन्हें सुनकर FBI तक के होश फ़ाख़्ता हो गए। अमेरिका में सैमुअल लिटिल का नाम किसी ख़ौफ़ से कम नहीं माना जाता। खासतौर पर उसे ग़रीब, बेबस और बेसहारा महिलाओं के लिए यमदूत कहा जाता है।

अदालत में सुनवाई के दौरान सैमुअल लिटिल
अदालत में सुनवाई के दौरान सैमुअल लिटिल

DNA टेस्ट से खुलना शुरू हुए क़त्ल के राज़

Story Of Serial Killer: सैमुअल लिटिल को साल 2012 में केंटुकी में ड्रग्स के एक मामले में गिरफ़्तार किया गया था। पुलिस की पकड़ में आने के बाद सैमुअल का जब डीएनए टेस्ट करवाया गया तो उसके कई ख़ौफनाक हत्याओं में शामिल होने का सुराग़ मिला।

अपने ज़माने में कभी प्रोफेशनल मुक्केबाज़ रहा सैमुअल लिटिल के आपराधिक जीवन का कच्चा चिट्ठा तब खुला जब पुलिस ने उसका डीएनए टेस्ट करवाया। अमेरिका में हथियारबंद डकैती से लेकर बलात्कार और हत्या जैसे संगीन अपराधों के एक के बाद एक कई गुत्थियां सुलझती चली गईं।

शुरु शुरू में उसके डीएनए मिलान के बाद लॉस एंजिलिस काउंटी में 1987 से लेकर 1989 के बीच हुई तीन महिलाओं की हत्या की गुत्थी एक झटके में सुलझ गईं। हालांकि पूछताछ के दौरान सैमुअल लिटिल उन हत्याओं से इनकार करता रहा। लेकिन बाद में जब उसने अपने गुनाहों को कबूल करना शुरू किया तो फिर उसके गुनाहों को दर्ज करते करते पुलिस की डायरी के सैकड़ों पन्ने भर गए।

सैमुअल लिटिल के बनाए गए अपने शिकार के स्केच
सैमुअल लिटिल के बनाए गए अपने शिकार के स्केच

हत्या से पहले बनाता था अपने शिकार के स्केच

Most Prolific Serial Killer: FBI के अधिकारियों के मुताबिक शुरुआत में सैमुअल लिटिल अपने गुनाहों को मानने से सीधा इनकार ही करता रहा। लेकिन जब FBI के अधिकारियों ने उससे क़रीब 700 घंटों से ज़्यादा समय तक लगातार पूछताछ की तब जाकर सैमुअल लिटिल ने अपने जुर्म को कबूला। और उसके बाद हत्याओं के बारे में जानकारी देने का जो सिलसिला शुरू हुआ तो पूरे 93 हत्याओं पर जाकर थमा।

सबसे चौंकाने वाली बात ये थी कि सैमुअल ने अपने हाथों से की गई कुछ ऐसी हत्याओं के बारे में एफबीआई अधिकारियों को बताया जिनके बारे में खुद पुलिस को भी कुछ नहीं पता था। इसके बाद अपने जुर्म का इकरार करने के बाद सैमुअल ने अपनी शिकार हुई महिलाओं के नाम और पते के साथ साथ उनके स्केच भी पुलिस वालों को मुहैया करवाए। ये सारे स्केच खुद सैमुअल लिटिल ने ही बनाए थे।

लिटिल का शिकार थी कमज़ोर और नशेड़ी महिलाएं

Story From FBI Dairy: पुलिस अधिकारियों के मुताबिक सैमुअल को स्केच बनाने का न सिर्फ शौक था बल्कि वो अच्छा स्केच आर्टिस्ट भी था। लिहाजा अपने शिकार को मारने से पहले वो उनका स्केच भी बनाता था। इसके अलावा उसने FBI के अधिकारियों को ये भी बताया कि उसने अपने आपराधिक जीवन के दौरान जो माल लूटा उसे उसने कहां कहां छुपाया और उसने किन किन शहरों में और शहर के किस किस हिस्से में जाकर हत्या की वारदात को अंजाम दिया था। उसने पुलिस को हत्या के बाद लाश को ठिकाने लगाने के बारे में भी सब कुछ बताया।

अमेरिकी पुलिस अधिकारियों के मुताबिक सैमुअल लिटिल अक्सर शहर के नाइट क्लब, सड़कों पर आवारा घूमती लड़कियों और पब से निकली नशे में झूमती लड़कियों को ही अपना शिकार बनाता था। उसके निशाने पर ज़्यादातर महिलाएं और लड़कियां होती थीं। खासतौर पर वो सेक्स वर्कर या फिर नशा करने वाली लड़कियों को अपना शिकार बनाता था।

उन्हें उनकी ज़रूरत का लालच देकर अपने तय ठिकाने पर ले जाता था। पहले उन्हें नशा देकर मदहोश कर देता था फिर उनका स्केच बनाता था और फिर उनके साथ बलात्कार करता था। उसके बाद उन्हें अपने मज़बूत घूंसों से मार मारकर मार डालता था। शिकार किसी भी सूरत में ज़िंदा न रह जाए इसके लिए वो बाकायदा गला भी दबाता था।

मुक्का मारकर करता था हत्या और फिर दबाता था गला

Story Of Samuel Little: पुलिस के पुराने रिकॉर्ड जब सैमुअल के कबूलनामे से मिलान किए गए तो पाया गया कि तमाम लाशों पर न तो किसी चाकू का निशान होता था और न ही किसी गहरे घाव के जख़्म मिलते थे। यही वजह थी कि कई मामलों में पुलिस हत्या की गुत्थी को सुलझा ही नहीं पाती थी। क्योंकि ज़्यादातर महिलाएं सैमुअल के घूंसे की मार ही सह नहीं पाती थीं और अपने होश गवां देती थीं। उसके बाद सैमुअल उनकी गला दबाकर हत्या कर देता था और लाश को किसी कूड़े के ढेर में, किसी खाली पड़े गैराज में या फिर किसी वीरान गली में ले जाकर फेंक देता था। जिससे पुलिस को उनकी मौत की गुत्थी सुलझाना आसान नहीं होता था।

FBI के अधिकारियों के मुताबिक ये बात खुद सैमुअल लिटिल ने कबूल की थी कि उसने ऐसी महिलाओं को अपना शिकार बनाया था जिनके बारे में बहुत कम लोग ही तलाश करते थे। वो समाज के उस तबके से होती थीं जो ज़्यादातर पुलिस के पास जाने से बचते थे। या फिर पुलिस के पास जाने के लिए उनके पास कोई वजह नहीं होती थी।

अपने वकील के साथ अदालत में सैमुअल लिटिल
अपने वकील के साथ अदालत में सैमुअल लिटिल

कई हत्याओं के बारे में क़ातिल से सुनी पुलिस ने पहली बार कहानी

Most Prolific Serial Killer: सैमुअल लिटिल ने जिन जिन हत्याओं की बात कुबूली उसके बारे में FBI के अधिकारियों ने सोशल मीडिया में सैमुअल के बताए गए हत्या के साल और हत्या का शिकार हुई महिला के बारे में स्केच समेत सारी डिटेल साझा की तो पुलिस के पास कई चौंकाने वाले तथ्य सामने आए जो सैमुअल की बताई गई जानकारियों से मेल खाती थी।

कई अपराध करने के बाद सैमुअल को इस बात का भी गुमान होने लगा था कि वो कभी भी पुलिस के हाथों पकड़ा ही नहीं जा सकता। असल में उसकी शिकार हुई महिलाएं अक्सर वेश्या होती थीं, जिनकी तलाश करने के लिए कोई भी सामने नहीं आता था। ऐसे में उसको ये महसूस होने लगा कि उसकी शिकार का किसी के पास कोई लेखा जोखा नहीं है। और न ही कोई उनके लेखा जोखा के साथ उसकी तलाश कर रहा है।

सैमुअल लिटिल ने 93 हत्याओं की बात कबूल की थी लेकिन पुलिस को उसके बताए गए विवरण के मुताबिक 60 महिलाओं की हत्या के प्रमाण मिले। जबकि 33 हत्याएं ऐसी थी जिसके बारे में पुलिस को कुछ भी पता नहीं चला सिवाय सैमुअल लिटिल के कबूलनामे के।

ग़ुस्सैल सैमुअल लिटिल की मुस्कुराहट बना उसका सबसे बड़ा हथियार

Story From FBI Dairy: टेक्सास के एक पुलिस अधिकारी के मुताबिक सैमुअल लिटिल ने यूं तो अमेरिका के कई शहरों में कई अपराध किए लेकिन उसने हत्या की ज़्यादातर वारदात फ्लोरिडा और कैलिफॉर्निया के इलाक़ों में ही अंजाम दी। सैमुअल ने ही पुलिस अधिकारियों को पूछताछ के दौरान बताया था कि कुछ हत्याएं उसने अपनी कार की पिछली सीट पर भी अंजाम दी। खासतौर पर उन महिलाओं की जो या तो ज़्यादातर नशे में होने के बाद उसे मनमानी करने से रोकती थीं और उसके साथ जाने में नखरे करती थीं।

बेहद गुस्सैल स्वभाव का सैमुअल लिटिल किसी से भी बड़े ही प्यार और मोहब्बत से मिलता था और हमेशा मुस्कुराता रहता था। खुद सैमुअल ने ये बात कुबूल की थी कि हत्या के बाद वो अपने शिकार को मरा हुआ देखकर जमकर हंसता भी था और फिर उसे ठिकाने लगा देता था। FBI में दर्ज रिकॉर्ड के मुताबिक सैमुअल ने कई महिलाओं की हत्या करके उनकी लाश को जंगल में गड्ढ़ा खोदकर गाड़ तक दिया था। और ये ज़्यादातर वही हत्याएं थी जिनके बारे में सैमुअल लिटिल के बताने से पहले पुलिस को कुछ भी पता नहीं था। जिसकी तस्दीक पुलिस ने खुद सैमुअल की बताई गई जगह की तलाशी लेने के बाद की।

अदालत में सैमुअल लिटिल
अदालत में सैमुअल लिटिल

16 साल की उम्र में किया था पहली बार गुनाह

Most Prolific Serial Killer: सैमुअल की शुरूआती जिंदगी के बारे में FBI के रिकॉर्ड में जो कुछ दर्ज है, वो भी कम चौंकाने वाला नहीं है। सैमुअल लिटिल 1940 में जॉर्जिया के रेनॉल्ड शहर में पैदा हुआ था। सैमुअल की जानकारी के मुताबिक उसकी मां खुद एक वेश्या थी। और सैमुअल के पैदा होने के बाद उसकी मां ने शहर बदल दिया था और वो रेनॉल्ड से ओहायो के लोरियन शहर में चली गई थी। लेकिन सैमुअल को उसकी दादी के हवाले करके उसकी मां उसे छोड़कर चली गई। हॉथ्रोन जूनियर हाईस्कूल में पढ़ाई करने वाला सैमुअल पढ़ने लिखने में बेहद कमजोर था। बचपन में ही बुरी सोहबत में पड़ने की वजह से पढ़ाई लिखाई में कभी उसका मन नहीं लगा बल्कि वो अपने से बड़ी उम्र की औरतों के साथ ही समय बिताता था।

16 साल की उम्र में ही सैमुअल लिटिल को अपनी टीचर पर हमला करने के जुर्म में बाल सुधार गृह भेज दिया गया था। बाल सुधार गृह से निकलने के बाद सैमुअल फ्लोरिडा में अपनी मां के पास चला गया। फ्लोरिडा में वो एंबुलेंस अटैंडेंट के तौर पर नौकरी करने लगा। इसी नौकरी के दौरान उसने अमेरिका के कई शहरों में अलग अलग तरह के जुर्म किए। वो चोरी करने लगा, दुकानों से सामान चुराने लगा। धोखाधड़ी से लोगों के पैसे हड़पने लगा, नशे में गाड़ी चलाते हुए उसे पुलिस ने कई बार पकड़ा। लेकिन उसने सबसे पहले सबसे संगीन अपराध तब किया जब वो एक हथियारबंद डकैती की वारदात में शामिल हुआ। और यहीं से उसने अपराध की दुनिया को ही अपना बना लिया। रेप और लूट उसका रोज का काम हो गया।

अमेरिका के 11 राज्यों में 26 बार चढ़ा था पुलिस के हत्थे

Serial Killer: 1975 तक सैमुअल लिटिल अमेरिका के 11 राज्यों में क़रीब 26 बार पुलिस के हत्थे चढ़ा। इस दौरान उसके ख़िलाफ़ रेप की कोशिश, धोखाधड़ी, सरकारी कर्मचारियों पर हमला करने, चोरी, और गुस्से में किसी के साथ मारपीट करने जैसे मामले दर्ज हुए।

1982 में सैमुअल लिटिल को पहली बार मिसिसिपी के पास्कागुला में हत्या के जुर्म में जेल जाना पड़ा। उस पर 22 साल की मेलिंडा रोज लाप्री की हत्या का इल्ज़ाम लगा। मगर सबूतों के अभाव में ग्रैंड जूरी ने उस पर इस इल्ज़ाम को मानने से इनकार कर दिया। हालांकि जूरी ने मामले की तहकीकात जारी रखने के आदेश ज़रूर दे दिए। इसके बाद सैमुअल लिटिल को तड़ीपार करके फ्लोरिडा भेज दिया गया। फ्लोरिडा में सैमुअल पर 26 साल की पैट्रिशिया एन माउंट की हत्या की कोशिश का इल्ज़ाम लगा। कोर्ट में उसके ख़िलाफ एक चश्मदीद ने गवाही भी दी कि जिस रात माउंट लापता हुई थी आखिरी बार उसे सैमुअल के साथ ही देखा था। लेकिन गवाह की विश्वसनीयता संदिग्ध पाये जाने के बाद जनवरी 1984 में अदालत ने सैमुअल लिटिल को छोड़ दिया।

सैमुअल लिटिल का खुद का बनाया स्केच
सैमुअल लिटिल का खुद का बनाया स्केच

होमलेस शेल्टर में ऐसे पकड़ा गया ख़तरनाक सीरियल किलर

Crime Ki Kahani: जेल से निकलकर सैमुअल सीधा कैलिफॉर्निया पहुँचा। अक्टूबर 1984 में सैमुअल एक बार फिर पुलिस के हत्थे चढ़ा। उसके खिलाफ़ 22 साल की लॉरी बारोस का अपहरण करने, उसके साथ मारपीट करने और उसका गला दबाने की कोशिश का इल्जाम लगा। हालांकि लॉरी बारोस ज़िंदा थी। एक महीने के बाद ही पुलिस को सैमुअल की कार की पिछली सीट पर एक महिला बेहोशी की हालत में मिली जिसके साथ मार पीट की गई थी और उसका भी गला दबाने की कोशिश हुई थी। और इत्तेफ़ाक से ये वही जगह थी जहां बारोस के साथ वारदात हुई थी। इन दो जुर्म में सैमुअल को ढाई साल जेल में बिताने पड़े।

लेकिन 5 सितंबर 2012 को सैमुअल लिटिल केंटुकी की लुइविले के एक होमलेस शेल्टर में पुलिस के हत्थे चढ़ा। यहां पकड़े जाने के बाद पुलिस उसे लेकर केलिफॉर्नियां चली गई। जहां उसका DNA टेस्ट करवाया गया, और तब उसके बीते कई सालों के गुनाहों का कच्चा चिट्ठा पुलिस के सामने आ गया।

एड़ी रगड़ रगड़ कर मर गया महिलाओं का यमदूत

True Crime Story from US: शुरु में तो सैमुअल पर तीन हत्याओं का इल्ज़ाम लगा। जिन्हें कबूल करवाने में पुलिस को लंबी जद्दोजहद करनी पड़ी। लेकिन एक बार जुर्म कुबूल करने के लिए सैमुअल का मुंह खुला तो फिर खुलता ही चला गया और एक के बाद एक 93 क़त्ल की कहानी पुलिस के सामने आ गई।

सैमुअल लिटिल डायबिटीज़ के साथ साथ दिल का मरीज़ था। इसके अलावा उसे कई बीमारियों ने भी घेर रखा था जिसकी वजह से वो आखिरी वक़्त में व्हीलचेयर का इस्तेमाल करता था। 2014 से वो जेल में बंद था। लेकिन बीमारी की वजह से उसकी हालत जब ज़्यादा ख़राब हुई तो उसे कैलिफोर्निया के एक अस्पताल में इलाज के लिए भेजा गया। उसी अस्पताल में 30 दिसंबर 2020 को सैमुअल लिटिन की मौत हो गई।

उसे हत्या के अलग अलग मामलों में तीन उम्र क़ैद की सज़ा मिली थी। लेकिन सज़ा पूरी होने से पहले ही उसकी जिंदगी तमाम हो गई।

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in