Video: दिल्ली के बहरुपियों को देख लीजिए, कभी नेवी अफसर, कभी डॉक्टर तो कभी इंजीनियर बनकर की लाखों की ठगी

ADVERTISEMENT

DELHI CRIME NEWS: दिल्ली पुलिस ने जालसाजों को गिरफ्तार किया है, ये फ्राडिया रुप और नाम बदलकर ठगी की वारदातों को अंजाम देते हैं।

social share
google news

CYBER SOCIAL MEDIA FRAUDSTERS: दिल्ली पुलिस द्वारका जिले की साइबर सेल ने दो जालसाजों को गिरफ्तार किया है। ये फ्राड नॉर्वे का एक विदेशी समुद्री इंजीनियर होने का दावा कर रहे थे। आरोपियों में से एक धोखेबाज ने शिकायतकर्ता लड़की को उससे शादी करने का वादा किया। खुद को विदेशी अफसर बताया और विश्वास हासिल करने के बाद उससे 11 लाख रुपये ठग लिए। पुलिस ने ठगी के दस मामलों का खुलासा किया है।

ठगी के दस मामलों का खुलासा 

दरअसल दिल्ली पुलिस को 25 अक्टूबर को युवती की तरफ से शिकायत मिली थी कि दिल्ली की लड़की से दोस्ती के लिए एक अज्ञात इंस्टाग्राम आईडी "marino_ingegnere1" से एक संदेश मिला। जिसने खुद को नॉर्वे से एक सी इंजीनियर के रूप में पेश किया। इसके अलावा युवक ने लड़की को शादी के लिए प्रस्ताव दिया और कहा कि वह उसे नॉर्वे से उपहार और यूरो भेजना चाहता है और उपहार पार्सल प्राप्त करने के लिए उसे कस्टम क्लीयरेंस शुल्क का भुगतान करना होगा। इसके अलावा जालसाज ने लड़की से भारत आने के लिए अपने हवाई टिकट के लिए कुछ और पैसे देने को कहा। जिसके बाद लड़की ने युवक के खाते में अलग अलग कुल 11 लाख 39 हजार ट्रांसफर कर दिए।

लड़कियों को फंसाते थे जाल में

जांच के दौरान पुलिस टीम ने आरोपी के बैंक खाते के डिटेल्स हासिल किए। तकनीकी निगरानी और बैंक खाते की पूरी जानकारी से पता चला कि आरोपी विदेश में नहीं बल्कि दिल्ली में बैठकर ठगी की वारदात क अंजाम दे रहा था। पुलिस को पता चला कि संदिग्ध चंद्र विहार में रहता है जिसका असली नाम सुंदर सिंह है। पुलिस ने छापेमारी के दौरान 22 साल के सुंदर को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में उसने बताया कि वह परचून की दुकान चलाता है। इसके अलावा, उसने खुलासा किया कि उसे धोखाधड़ी की रकम अपने खातों में मिलती थी क्योंकि एक नाइजीरियाई नागरिक कमीशन के आधार पर उसके खाते का उपयोग कर रहा था। अपने खातों में ठगी गई राशि प्राप्त करने के बाद वह ठगी गई राशि से अपना कमीशन (लगभग 10%) काट लेता है और शेष राशि सह-आरोपी नाइजीरियाई नागरिक को नकदी के रूप में दे देता है।

ADVERTISEMENT

ADVERTISEMENT

लगातार लड़कियों व महिलाओं से चैट

ये जानकारी मिलने पर पुलिस टीम ने किराने की दुकान के पास चंद्र विहार की गलियों में जाल बिछाया गया और गिरफ्तार आरोपी की निशानदेही पर सह-आरोपी नाइजीरियाई नागरिक को भी पकड़ लिया। पूछताछ करने पर उसने अपनी पहचान हार्मनी सैमुअल निवासी बेनिन सिटी, एडो स्टेट, नाइजीरिया, उम्र 27 वर्ष के तौर पर बताई। सी इंजीनियर के रूप में साझा की गई तस्वीरें आरोपी हार्मनी सैमुअल के मोबाइल फोन में मौजूद पाई गईं। नाइजीरियाई आरोपी व्यक्ति कई फर्जी इंस्टाग्राम अकाउंट चलाता था और भोली-भाली लड़कियों व महिलाओं को अपने जाल में फंसाकर धोखा देता था।

फर्जी इंस्टाग्राम अकाउंट चलाता था 

आरोपी व्यक्ति विदेशों में बड़े नेवी ऑफिसर, डॉक्टर या इंजीनियर आदि बनकर विदेशियों के फर्जी इंस्टाग्राम अकाउंट बनाता था और लगातार लड़कियों व महिलाओं से चैट करना शुरू कर देता था। कुछ समय बाद लड़कियों का विश्वास जीतने के बाद शादी के लिए भी प्रपोज करता है। वे भारत के किसी भी हवाई अड्डे पर नकली उपहार या पार्सल भेजते थे और शिकायतकर्ता को पार्सल प्राप्त करने के लिए विभिन्न खातों में कस्टम क्लीयरेंस शुल्क का भुगतान करने के लिए कहते थे। इस तरह आरोपियों ने भोली-भाली लड़कियों को धोखा दिया और लाखों रुपए ठग लिए।

ADVERTISEMENT

    यह भी देखे...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT