Facebook से दोस्ती के बाद सेना की पूर्व अफ़सर के साथ 1.92 करोड़ रुपये ऐसे ठग लिए

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

सेना की अफ़सर से ठगी

CYBER CRIME: मुंबई पुलिस के पास ठगी का एक हैरतअंगेज़ मामला सामने आया है। जिसमें सेना से रिटायर्ड एक महिला अफ़सर से ठगों ने एक करोड़ 92 लाख रुपये ऐंठ लिए । और सबसे हैरानी की बात ये है कि ये काम अकेले किसी एक ठग ने नहीं किया बल्कि पूरे 11 शातिरों ने पूरे दो सालों तक महिला से उसके गाढ़े खून पसीने की सारी कमाई लूटते रहे।

मीरा रोड पुलिस थाने में लिखी शिकायत के मुताबिक़ पीड़ित महिला की शिकायत पर मामला तो दर्ज कर लिया गया है, लेकिन अभी तक एक भी शातिर पुलिस के शिकंजे में नहीं आया है।

ADVERTISEMENT

बेटे के इलाज के नाम पर शातिरों का शिकार हुई एक माँ

LATEST CRIME NEWS: मुंबई के बेवर्ली पार्क इलाक़े में रहने वाली एक 67 साल की महिला सुशीला ठाकुर ने पुलिस के पास एक शिकायत दर्ज कराई है। उसके मुताबिक अपने मंदबुद्धि बच्चे की देखभाल करने की ख़ातिर सेना से VRS लेने वाली सुशीला से फेसबुक पर बदरुद्दीन मुनीर नाम का शख्स मिला था।

ADVERTISEMENT

ये वाकया 2019 का है। उसने खुद को सुशीला के गांव का बताकर उससे दोस्ती गांठ ली। फेसबुक पर दोस्ताना रवैया दिखाकर मुनीर ने सुशीला का भरोसा हासिल कर लिया। इसी दोस्ताना बातचीत के दौरान सुशीला ने मुनील को अपना सबसे बड़ा दर्द साझा कर लिया।

ADVERTISEMENT

तांत्रिक बनकर लूटा महिला को

MUMBAI CRIME: उसने मुनीर को बताया कि उसका 32 साल का बेटा है जो दिमाग़ीतौर पर काफी कमज़ोर है। और सुशीला उसका हर हाल में इलाज करवाना चाहती है ताकि वो कुछ ठीक हो जाए। मौके की ताक में बैठे मुनीर ने तब सुशीला को एक तांत्रिक का हवाला दिया।

जिसके बारे में मुनीर ने दावा किया था कि वो सुशीला के बेटे का पक्का इलाज कर देगा। लिहाजा कुछ तांत्रिक क्रियाओं के लिए मुनीर ने सबसे पहले सुशीला से 80 हज़ार रुपये लिए। इसके बाद तो ये सिलसिला तेजी से आगे बढ़ता रहा। मुनीर एक के बाद एक कई तंत्रिकों को सुशीला से मिलवाता रहा और उनसे रुपये ऐंठता रहा। और एक मजबूर मां को मूर्ख बनाता रहा।

दो साल में 11 लोगों ने ऐंठे पैसे

LATEST CRIME NEWS IN HINDI: इसी बीच मुनीर एक शख्स को लेकर सुशीला के पास पहुँचा। जिसने उनसे कहा कि वो उनके होमटाउन में एक विला ख़रीदना चाहता है, जिसके लिए रकम का इंतज़ाम सुशीला से करवाया। इतना ही नहीं, मुनीर ने सुशीला को इनवेस्टमेंट की एक और स्कीम समझाई और केरल के होटल में पैसे लगाने के लिए राजी कर लिया।

इस बार उसने किसी तीसरे शख्स को सुशीला से मिलवाया। सुशीला ने हर बार पैसा किसी नए अकाउंट में ट्रांसफर किए। लेकिन जब ये रकम दो करोड़ के आस पास जा पहुँची तब जाकर सुशीला ठाकुर ने मीरा रोड थाने में जाकर इस फरेब की शिकायत दर्ज करवाई।

मीरा रोड पुलिस ने 11 अज्ञात लोगों के ख़िलाफ धोखाधड़ी और साज़िश रचने की चार अलग अलग धाराओं में मामला दर्ज कर लिया। मगर पुलिस के हाथ खाली हैं क्योंकि शातिर ठग अब लापता हो चुके हैं।

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT