MBA ग्रेजुएट निकला नए ज़माने का 'नटवरलाल' ऐसा झांसा देकर लोगों से ऐंठ लेता था रकम

दिल्ली पुलिस ने एक ऐसे नटरवारलाल को गिरफ़्तार किया जो बेहद पढ़ा लिखा और हिसाब किताब में उस्ताद था। वो लोगों को कम वक़्त में रकम दोगुना करने का ऐसा लालच देता था कि कोई भी खुद को रोक नहीं पाता था। मगर अचानक एक महिला को शक हुआ और नटवरलाल का सारा कच्चा चिट्ठा पुलिस के सामने आ गया।
MBA ग्रेजुएट निकला नए ज़माने का 'नटवरलाल' ऐसा झांसा देकर लोगों से ऐंठ लेता था रकम
संकेतिक तस्वीर

नए ज़माने का नटवरलाल

LATEST CRIME NEWS: राजधानी में पुलिस के हत्थे एक ठगी करने वाला चढ़ा। जो लोगों को कम वक़्त में रकम दोगुनी करने का ऐसा लालच देता था कि एक बार जो भी इस स्कीम को सुन लेता तो जैसे तैसे जुगाड़करके पैसा इकट्ठा करके जमा करवा ही देता और फिर पछताता था। इस सिलसिले में पुलिस ने रजत अग्रवाल को गिरफ्तार किया जो 25 साल का नौजवान है और हरियाणा के सिरका का रहने वाला है।

लेकिन उसकी ख़ासियत ये नहीं है। बल्कि रजत एक अच्छा सिंगर है, मार्केटिंग और फाइनेंस में उसने MBA किया है। इन खूबियों के अलावा उसे खुद के ठगे जाने का ऐसा तजुर्बा है जिसकी वजह से उसने अपनी पढ़ाई लिखाई और सारी तालीम की काबिलियत को हथियार बनाकर लोगों को लूटना ही शूरू कर दिया। मगर वो शायद एक चीज़ पढ़ना भूल गया कि क़दम क़दम पर क़ानून के सिपाही भी खड़े होते हैं। उनसे बचकर कैसे रहा जा सकता है।

रकम दोगुनी करने का ख़ूबसूरत लालच

CYBER CRIME NEWS: असल में बाहरी दिल्ली के साइबर थाने में एक महिला ने एक शिकायत दर्ज कराई कि इंस्टाग्राम पर एक आईडी से एक मैसेज मिला कि अगर कम वक्त में अपनी रकम दुगना करना चाहते हो तो संपर्क करो। पुलिस को बताए गए महिला के बयान के मुताबिक रजत की बातों में ऐसा जादू था कि वो उसके जाल में फंसती चली गई और तीन किस्तों में उसने एक लाख 70 हज़ार की रकम ऑनलाइन ट्रांसफर भी कर दिए। सब कुछ ठीक था।

महिला अपने रकम को दुगना होने का सपना भी देखने लगी थी कि तभी उसके पास एक और ऐसा मैसेज में आया जिसने उसकी नींद खोल दी। उस मैसेज में रजत ने एक लाख 12 हज़ार रुपये की रकम टैक्स के तौर पर मांगी। तब उस महिला को शक हुआ और वो अपने पैसों की वापसी की मांग को लेकर अड़ गई। महिला ने जैसे ही अपने पैसे वापस मांगे रजत ने उसके साथ सारे नाते तोड़ दिए। बौखलाहाट में महिला थाने पहुँच गई और शिकायत दर्ज कराई।

ऐसे पकड़ा पुलिस ने पढ़ा लिखा ठग

DELHI CYBER THUG: पुलिस के पास तो सारे टूल और साधन होते ही हैं, लिहाजा टैक्निकल सर्वेलेंस के ज़रिए पुलिस ने ये तो पता लगा लिया कि जिन खातों में पैसा ट्रांसफर हुआ था वो रजत अग्रवाल के नाम से ही बने हैं और वो सिरसा हरियाणा में है। लिहाजा पुलिस की एक टीम सिरसा गई और वहां से उसे उठा लाई।

पुलिस की पूछताछ में रजत अग्रवाल ने अपनी भी आपबीती सुनाई। उसने पुलिस को बताया कि कुछ अरसा पहले उसके साथ 5000 रुपय की ऑनलाइन ठगी हुई थी। तब से वो खुन्नस में था। तब उसने लोगों को ठगने के लिए अपनी पढ़ाई का सहारा लिया और लोगों को नए नए झांसे से रकम दोगुनी करने का ऐसा झांसा देता था कि कोई उससे इनकार नहीं कर पाता था। वो किसी किसी से तो रकम अपने अकाउंट में ट्रांसफर करवाता था तो किसी से गिफ़्ट कार्ड मांगता था।

पुलिस को रजत के पास एक मोबाइल भी मिला जिससे वो अपनी नकली आईडी से सोशल साइट चलाता था। पुलिस ने जब और तलाशी ली तो पुलिस को क़रीब 15 लाख रुपये के ई गिफ़्ट बाउचर और गिफ़्ट कार्ड बरामद किए।

Related Stories

No stories found.