Cyber Crime: देश में लगातार बढ़ रहा है साइबर हमलों का खतरा, 3 साल में 3 गुना से ज्यादा बढ़े साइबर Attack

Cyber Attack: गृह मंत्रालय (MHA) की ताज़ा रिपोर्ट के मुताबिक 2022 में जून तक साइबर हमलों (Cyber Attack) के 6 लाख 74 हज़ार 21 मामले सामने आए हैं। ये आंकड़े चौंकाने वाले हैं।
सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर

Cyber Crime News: भारत सरकार की तरफ से गृह मंत्रालय (MHA) ने साइबर हमलों (Cyber Attack) को लेकर लोकसभा (Lok Sabha) में जो जवाब दिया है उसके मुताबिक 2019 में 394499 मामले सामने आए, 2020 में 1158208 मामले सामने आए, 2021 में 1402809 मामले सामने आए और 2022 में जून तक 674021 साइबर हमलों के मामले सामने आए हैं।

मंत्रालय ने लोकसभा को बताया कि राज्यों को नियमित एडवाइजरी जारी की जाती है और साल भर नए-नए तरीके से हो रहे साइबर क्राइम और साइबर हमले के बारे में आगाह भी किया जाता है।

गौरतलब है कि इंडियन कंप्यूटर एमरजेंसी रिस्पांस टीम भारत सरकार की संस्था इन खतरों को लेकर लगातार मुस्तैदी से काम कर रही है लेकिन ये साइबर हमले कम होने का नाम नहीं ले रहे।

आंकड़ों के मुताबिक भारत में सबसे पहला डिजिटल या यूं कहें कि साइबर Attack वर्ष 2004 में सामने आया था। तब से लगातार भारत साइबर हमलावरों के सबसे ज्यादा निशाने पर बना हुआ है।

साइबर सिक्योरिटी फर्म सर्फशार्क के कुछ आंकड़ों के मुताबिक साल 2004 के बाद से साइबर हमलों में दुनिया भर के 15 बिलियन से ज्यादा खाते लीक हो चुके हैं। इनमें से 255 मिलियन या 25 करोड़ से ज्यादा खाते भारत के लोगों से जुड़े हैं।

रिपोर्ट में हर 100 भारतीयों में से 18 की पर्सनल कॉन्टैक्ट डिटेल को ब्रीच किए जाने का भी खुलासा हुआ है। ताज्जुब की बात ये है कि भारत में मजबूत डेटा सुरक्षा कानूनों के अभाव के चलते यह साइबर हमलावर सुरक्षा के लिए गंभीर चिंता बनते जा रहा हैं।

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in