कुरान जलाने को लेकर स्वीडन में भड़के दंगे, हमले में 16 पुलिसकर्मी घायल

Sweden Riots: स्वीडन में कुरान जलाने को लेकर बड़ा बवाल मचा हुआ है. लगातार चौथे दिन भी कई शहरों से हिंसक झड़प की खबरें सामने आ रही हैं.
कुरान जलाने को लेकर स्वीडन में भड़के दंगे, हमले में 16 पुलिसकर्मी घायल

Sweden Riots: स्वीडन में कुरान जलाने को लेकर बड़ा बवाल मचा हुआ है. लगातार चौथे दिन भी कई शहरों से हिंसक झड़प की खबरें सामने आ रही हैं. बता दे कि स्वीडन के ओरेब्रो शहर में एक दक्षिणपंथी और अप्रवासी विरोधी समूह ने कथित तौर पर कुरान को आग के हवाले कर दिया था. तभी से यहां हिंसा भड़क उठी है.

Quran Burnings: स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, रविवार को पूर्वी शहर नोरकोपिंग में पुलिस ने हालात काबू में करने के लिए गोलीबारी की, इस गोलीबारी में तीने से ज्यादा लोग घायल हो गए. जबकि पुलिस ने अब तक 17 लोगों को गिरफ्तार किया है. इससे पहले, शनिवार को दक्षिणी स्वीडन के शहर मालमो में दंगाइयों ने इक बस सहित कई गाड़ियों में आग लगा दी थी.

वहीं, कुरान जलाने को लेकर ईरान और इराक ने विरोध जताया है. दोनों ही देशों ने हाल ही में स्वीडिश राजदूतों को भी तलब किया था. इस मामले पर स्टार्म कुर्स पार्टी चलाने वाले डेनिश-स्वीडिश चरमपंथी रासमुस पालुदान का कहना है कि उसने ही इस्लाम की सबसे पवित्र पुस्तक को आग के हवाले किया है और आगे भी ऐसा किया जाता रहेगा.

रिपोर्ट में बताया गया है कि दक्षिणपंथी समूह ने कई जगह कार्यक्रम की योजना बनाई थी और जहां-जहां कार्यक्रम आयोजित किए गए वहां-वहां गुरुवार, शुक्रवार और शनिवार को हिंसा भड़की. जिसमें 16 पुलिस अधिकारी घायल हुए थे. स्वीडन के राष्ट्रीय पुलिस प्रमुख एंडर्स थॉर्नबर्ग (Police Chief Anders Thornberg) ने हिंसा की घटनाओं पर प्रतिक्रिता देते हुए कहा, 'प्रदर्शनकारियों को पुलिस अधिकारियों की जिंदगी की कोई परवाह नहीं है. हमने पहले भी दंगे देखे हैं, लेकिन यह कुछ अलग ही है'.

Related Stories

No stories found.