सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर

Delhi Police: दिल्ली पुलिस ने कनाडा स्थित आतंकवादी के दो सहयोगियों को गिरफ्तार किया

Terrorist News: दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने कनाडा स्थित आतंकवादी के दो सहयोगियों को गिरफ्तार किया

Delhi Police: गणतंत्र दिवस से पहले दिल्ली पुलिस ने कनाडा स्थित गैंगस्टर (Terrorists Arrested) से आतंकवादी बने लखबीर सिंह लांडा के दो कथित सहयोगियों को पंजाब से गिरफ्तार किया है। अधिकारियों ने शुक्रवार को यह दावा किया।अधिकारियों के मुताबिक लखबीर सिंह लांडा के दोनों सहयोगियों की पहचान पंजाब के गुरदासपुर निवासी राजन भट्टी और फिरोजपुर निवासी कंवलजीत सिंह उर्फ चिन्ना के रूप में हुई है।

दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ के उपायुक्त मनीषी चंद्रा ने कहा कि खालिस्तानी आतंकी-गैंगस्टर गठजोड़ के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान में पुलिस ने भट्टी को गिरफ्तार किया है। वह पंजाब के वांछित गैंगस्टरों में से एक है और एक अन्य भगोड़े अपराधी लांडा हरिके का करीबी सहयोगी है।भट्टी 15 से अधिक मामलों में शामिल था और पंजाब के मोहाली में दर्ज एक मामले में वांछित था।पुलिस ने बताया कि लखबीर सिंह लांडा और हरविंदर सिंह रिंडा के निर्देश पर पंजाब में सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने और लोगों को निशाना बनाकर हत्या करने के सिलसिले में प्राथमिकी दर्ज की गई थी।

आतंकियों की सांकेतिक तस्वीर
आतंकियों की सांकेतिक तस्वीर

पुलिस उपायुक्त चंद्रा ने कहा कि भट्टी द्वारा किए गए खुलासों और तकनीकी विश्लेषण के आधार पर कंवलजीत सिंह को पंजाब पुलिस के साथ एक संयुक्त अभियान में भी गिरफ्तार किया गया था।भट्टी पंजाब में ड्रोन के माध्यम से मादक पदार्थ और आग्नेयास्त्र प्राप्त करने और भेजने के लिए कंवलजीत को निर्देश दे रहा था। चंद्रा ने कहा कि लांडा हरिके ने भट्टी और कंवलजीत को पंजाब में दो लक्ष्यों को पूरा करने का भी निर्देश दिया था।

कंवलजीत को एक साथी के साथ अमृतसर के एक होटल में घेर लिया गया था। छापेमारी के लिए संयुक्त टीम गठित की गई है। अधिकारियों ने बताया कि घेरे जाने के बाद दोनों संदिग्धों ने पुलिस दल पर गोलियां चलाईं और भागने की कोशिश की।कुछ देर चली मुठभेड़ में कांस्टेबल योगेश घायल हो गया। हालांकि कंवलजीत को पकड़ लिया गया, लेकिन उसका साथी भागने में सफल रहा।

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in