नवाब मलिक के अंडरवर्ल्ड के रिश्तों पर पूर्व CM देवेंद्र फणडवीस ने खोला था ये पूरा कच्चा-चिट्ठा

Nawab Malik : पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस ने नवाब मलिक पर आरोप लगाते हुए कहा था कि नवाब मलिक के परिवार ने अंडरवर्ल्ड के लोगों से जमीन खरीदी है.
Nawab Malik

Nawab Malik

Nawab Malik Full Controversy Inside Story : नवाब मलिक और महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस दोनों एक दूसरे के खिलाफ आरोप लगाने में आगे रहे हैं. दोनों एक दूसरे के खिलाफ सियासत से जुड़े तो कभी एक दूसरे के खिलाफ कमेंट करते रहे हैं. हाल में समीर वानखेड़े विवाद के दौरान नवाब मलिक ने देवेंद्र फडणवीस को लेकर भी सवाल उठाए थे. तो पूर्व सीएम ने भी नवाब मलिक का कच्चा चिट्ठा खोल दिया था. पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस ने नवाब मलिक पर आरोप लगाते हुए कहा था कि...

नवाब मलिक के परिवार ने अंडरवर्ल्ड के लोगों से जमीन खरीदी है. यह भी कहा गया था कि जमीन को दाऊद के लोगों से सस्ते में खरीदा गया था. इस काम में अंडरवर्ल्ड से जुड़े दो लोगों के नाम भी थे. उनके नाम थे सरदार शाह वली और मोहम्मद सलीम पटेल.

कुर्ला की 3 एकड़ जमीन भी मलिक परिवार की कंपनी के नाम

पूर्व सीएम ने दावा किया था कि सरदार शाह वली खान 1993 बम ब्लास्ट का दोषी है. उसे तो आजीवन कारावास की सजा भी हुई थी और मोहम्मद सलीम पटेल तो डॉन दाऊद इब्राहिम का गुर्गा था.

इसके अलावा नवाब मलिक पर ये भी आरोप लगा था कि कुर्ला में 3 एकड़ की जगह की रजिस्ट्री सोलिडस कंपनी के नाम पर हुई थी. ये कंपनी भी नवाब मलिक के परिवार की ही है. इसकी बिक्री भी सरदार शाह वली खान और सलीम पटेल ने की थी. माना जा रहा है कि इसी तरह के आरोपों की ईडी जांच कर रही थी. जिसके बाद ये कार्रवाई की गई है.

नवाब मलिक ने भी पूर्व सीएम पर लगाए थे आरोप

वहीं, नवाब मलिक ने प्रेसवार्ता के दौरान खुलकर पूर्व सीएम के खिलाफ आरोप लगाया था. उन्होंने कहा था कि, देवेंद्र फडणवीस के 'आशीर्वाद' से महाराष्ट्र में उगाही और जाली नोट का कारोबार चल रहा था. पूर्व सीएम अभी तो वानखेड़े जैसे अधिकारी को बचाने की कोशिश कर रहे हैं क्योंकि वो उनका करीबी है.

फडणवीस ने हैदर आजम नाम के नेता को फाइनेंस कॉर्पोरेशन का अध्यक्ष बनाया था, जबकि वह बांग्लादेश के लोगों को मुंबई में बसाने का काम करता है. उसकी दूसरी पत्नी बांग्लादेशी है, जिसकी मलाड पुलिस जांच कर रही थी. जब पुलिस इस केस की जांच कर रही थी तब सीएम ऑफिस से फोन आ गया और मामले को दबा दिया गया था.

नवाब मलिक ने ये भी दावा किया था कि देवेंद्र फडणवीस के इशारे पर ही पूरे महाराष्ट्र में उगाही का काम चलता रहा है. ऐसे मामले बिल्डर्स के हों या फिर आपसी किसी तरह के हाई प्रोफाइल झगड़े में. सभी तरह के मामलों में उगाही के केस चल रहे हैं. नवाब मलिक ने दावा किया था कि देवेंद्र सरकार में अगर विदेश से भी अंडरवर्ल्ड का फोन आ जाता था तो पुलिस मामले को रफा-दफा कर देती थी.

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in