UP kanpur violence : कानपुर हिंसा मामले में बाबा बिरयानी गिरफ्तार, ऐसी फंडिंग का है आरोप

UP kanpur violence baba biryani Arrested : कानपुर हिंसा मामले में रेस्तरां चेन चलाने वाला मुख्तार उर्फ बाबा बिरयानी गिरफ्तार. पैगंबर मोहम्मद पर नुपुर शर्मा (Nupur Sharma) की टिप्पणी से हुई थी हिंसा.
UP kanpur violence : कानपुर हिंसा मामले में  बाबा बिरयानी गिरफ्तार, ऐसी फंडिंग का है आरोप
मुख्तार उर्फ बाबा बिरयानी (Baba Biryani)

UP Kanpur Violence News : उत्तर प्रदेश के कानपुर में हिंसा के मामलों की जांच कर रही विशेष जांच टीम (SIT) ने देशभर में रेस्तरां चेन चलाने वाले मुख्तार उर्फ बाबा बिरयानी (Baba Biryani) को बुधवार को गिरफ्तार किया। UP पुलिस ने इसकी जानकारी दी। संयुक्त पुलिस आयुक्त (कानून एवं व्यवस्था) आनंद प्रकाश तिवारी ने बताया कि मुख्तार घातक हथियारों के साथ दंगा और हिंसा करने के तीन मामलों में बेकनगंज पुलिस थाने में नामजद है।

उल्लेखनीय है कि पैगंबर मोहम्मद पर नुपुर शर्मा (Nupur Sharma) की कथित विवादित टिप्पणी को लेकर कानपुर में तीन जून को हिंसा भड़क गई थी। उन्होंने कहा कि एसआईटी के राडार पर कई और संदिग्ध हैं जिन्हें जल्द ही गिरफ्तार कर पूछताछ की जा सकती है।

इससे पूर्व, मंगलवार को एसआईटी ने मोहम्मद फैजान नाम के एक युवक को गिरफ्तार किया था जिसकी तस्वीर फेसबुक और ट्विटर सहित सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर अपलोड की गई थी, फोटो अपलोड किए जाने के बाद उसकी गिरफ्तारी हो सकी।

तिवारी ने कहा कि इन गिरफ्तारियों के साथ अभी तक गिरफ्तार किए गए लोगों की संख्या 59 पर पहुंच गई है। मुख्तार की गिरफ्तारी तीन जून की हिंसा के मुख्य आरोपी जफर हयात हाशमी के बयान के आधार पर की गई। हाशमी ने पूछताछ में कबूला था कि उसके संगठन को मुख्तार उर्फ बाबा बिरयानी, नामी बिल्डर हाजी वासी और अन्य लोगों से धन मिलता है।

उन्होंने कहा कि एसआईटी ने मौलाना मोहम्मद अली (एमएमए) जौहर फैन्स एसोसिएशन के मुखिया हाशमी को कथित फंडिग के संबंध में पूछताछ और बयान लेने के लिए मुख्तार को बुलाया था। एसआईटी ने कर्नलगंज पुलिस थाना में मुख्तार से चार घंटे पूछताछ की और फिर उसे मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया जहां से उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।

एसआईटी जांच से जुड़े एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि पुलिस रिमांड के दौरान हाशमी ने उससे सहानुभूति रखने वाले लोगों को बचाने का भरसक प्रयास किया और जांच को भ्रमित करने की कोशिश की। लेकिन बाद में वह टूट गया और फंडिंग में अपनी संलिप्तता कबूल ली।

मुख्तार उर्फ बाबा बिरयानी के रेस्तरां चेन कानपुर, लखनऊ, प्रयागराज, बरेली, मुंबई और गोवा समेत कई शहरों में हैं। सपा विधायक इरफान सोलंकी के करीबी अज्जान और बिल्डर हाजी वासी के बेटे समेत कई अन्य लोगों की गिरफ्तारी के बारे में पूछे जाने पर तिवारी ने कुछ कहने से इनकार किया। हालांकि उन्होंने यह स्वीकार किया कि कई संदिग्ध लोगों से रोजाना पूछताछ की जा रही है।

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in