आखिर 7 घंटे की धरपकड़ के बाद बग्गा लौटे दिल्ली, सियासत शुरू, मंत्री अनिल बोले; पंजाब क्या आम आदमी पार्टी का कोई टार्चर हाउस है?

Tajinder Bagga Kidnapping : तेजिंदर बग्गा की गिरफ्तारी दिल्ली के जनकपुरी में सुबह करीब सवा 8 बजे हुई थी. इसके बाद दोपहर 3 बजे तक वो पंजाब पुलिस के हाथों से निकलकर दिल्ली पुलिस के पास आ गए.
आखिर 7 घंटे की धरपकड़ के बाद बग्गा लौटे दिल्ली, सियासत शुरू, मंत्री अनिल बोले; पंजाब क्या आम आदमी पार्टी का कोई टार्चर हाउस है?
BJP Leader Tajinder Bagga

Tajinder Bagga Arresting Kidnapping News : दिल्ली में भाजपा प्रवक्ता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा की गिरफ्तारी से लेकर तीन राज्यों के बीच हाई वोल्टेज ड्रामा करीब 7 घंटे तक चला. दिल्ली के जनकपुरी में सुबह करीब सवा 8 बजे इसकी शुरुआत हुई. जब पंजाब पुलिस भारी भरकम फोर्स लेकर बीजेपी नेता के घर पहुंची.

यहां से तेजिंदर सिंह बग्गा की गिरफ्तारी हुई. फिर पंजाब पुलिस रवाना हो गई. इसके बाद मामले ने तूल पकड़ा. तेजिंदर के पिता की शिकायत पर पंजाब पुलिस के खिलाफ अपहरण की दिल्ली में एफआईआर दर्ज की गई. मामले की सूचना हरियाणा पुलिस को दी गई. जिसके बाद हरियाणा के कुरुक्षेत्र में पंजाब पुलिस को रोक लिया गया. फिर दिल्ली पुलिस ने दोपहर करीब 3 बजे तेजिंदर बग्गा को अपने कब्जे में ले लिया और वापस दिल्ली लौट आई.

इस तरह करीब 7 घंटे तक चले इस घटनाक्रम में हर मिनट ट्विस्ट आता रहा. अब इस मामले को लेकर पंजाब पुलिस जल्द ही हाईकोर्ट जा सकती है. वहीं, बताया जा रहा है कि दिल्ली पुलिस अब तेजिंदर बग्गा को कोर्ट में पेश कर सकती है. जिसके बाद कोई बड़ा फैसला आ सकता है. इस बीच, पूरे मामले को लेकर हरियाणा के गृहमंत्री का बयान आया है.

Anil Vij
Anil Vij

हमें दिल्ली से अपहरण की सूचना मिली तो कार्रवाई की : अनिल विज

हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि हमें दिल्ली पुलिस से जानकारी मिली थी कि दिल्ली से तेजिंदर बग्गा को एक बुलेरो गाड़ी में अपहरण कर अवैध तरीके से ले जाया जा रहा है. दिल्ली पुलिस से मिली जानकारी पर हरियाणा पुलिस ने उसका पालन किया और गाड़ी को रोक लिया.

पत्रकारों से बातचीत करते हुए गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि यदि कोई ऐसा मामला था तो वह दिल्ली में भी दर्ज हो सकता था. पंजाब में ही तेजिंदर बग्गा के खिलाफ मामला दर्ज क्यों कराया जा रहा है? पंजाब क्या आम आदमी पार्टी का कोई टार्चर हाउस है. मामला दिल्ली में भी दर्ज हो सकता था. दिल्ली में पुलिस है. गृह मंत्री ने कहा कि यदि किसी ने कोई गलती की तो क्या आम आदमी पार्टी को दिल्ली पुलिस पर भरोसा नहीं है.

Related Stories

No stories found.