Delhi Crime: सीबीआई ने 12 करोड़ 50 लाख की पेंटिंग्स और बेशकीमती घड़ियां बरामद कीं

Delhi News: सीबीआई 34615 करोड़ रुपये के एक घोटले की जांच कर रही थी। जिसकी छापेमारी के दौरान ये करोड़ों की सामग्री बरामद हुई है।
5 करोड़ की घड़ियां
5 करोड़ की घड़ियां

Delhi Crime News: केंद्रीय जांच ब्यूरो (CBI) ने एफ.एन.सूजा द्वारा बनाई गई पेंटिंग (1964) और दूसरी एस.एच. रज़ा (1956) की पेंटिंग (Paintings) बरामद की है। जिसकी कीमत 5.50 करोड़ (Crore) रुपये (लगभग) आंकी गई है। इसके अलावा जैकब एंड कंपनी और फ्रैंक मुलर जेनेव की दो घड़ियाँ 5 करोड़ रुपये (लगभग) की और 2 करोड़ रुपये (लगभग) की चूड़ियां और हार सहित सोने और हीरे (Diamond) के आभूषण बरामद किए हैं।

एफ एन सौज़ा (1964)
एफ एन सौज़ा (1964)

सीबीआई की एफआईआर में यह भी आरोप लगाया गया था कि प्रमोटरों ने डायवर्ट किए गए धन का उपयोग करके महंगी आईटम खरीदे थे। 17 बैंकों के समूह को 34615 करोड़ रुपये का चूना लगाने की जांच के दौरान, मुंबई की निजी कंपनी के तत्कालीन सीएमडी और तत्कालीन निदेशक को गिरफ्तार किया गया था और दोनों फिलहाल में सीबीआई की हिरासत में हैं।

2 करोड़ के हीरे के जेवर
2 करोड़ के हीरे के जेवर

यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, औद्योगिक वित्त शाखा, मुंबई की शिकायत पर 20 जून 2022 को मुंबई स्थित निजी कंपनी, उसके तत्कालीन सीएमडी, तत्कालीन निदेशक और एक निजी शख्स, निजी कंपनियों, अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था।आरोप है कि आरोपी ने यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के नेतृत्व में 17 बैंकों के एक संघ को रु। 34,615 करोड़ (लगभग) उक्त बैंकों से लिए गए ऋणों के जरिए बही-खातों में हेराफेरी करके और शेल कंपनियों बनाकर धोखाधड़ी की गई।

एच एस रज़ा (1956)
एच एस रज़ा (1956)

यह भी आरोप लगाया गया था कि उक्त निजी कंपनी और उसके प्रमोटरों ने कई फर्जी कंपनियों और फर्जी संस्थाओं (बांद्रा बुक संस्थाओं) का निर्माण किया था और ऐसी फर्जी संस्थाओं को धन वितरित करके गबन किया था।

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in