ED Rahul Gandhi : ईडी ने चौथे दिन 12 घंटे की पूछताछ के बाद राहुल गांधी को छोड़ा; आज फिर पूछताछ

ED Rahul Gandhi news : ईडी ने चौथे दिन 12 घंटे की पूछताछ के बाद राहुल गांधी को छोड़ा; मंगलवार को फिर बुलाया, national herald money laundering case
ED Rahul Gandhi : ईडी ने चौथे दिन 12 घंटे की पूछताछ के बाद राहुल गांधी को छोड़ा; आज फिर पूछताछ
राहुल गांधी

Delhi ED Rahul Gandhi today news : प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने नेशनल हेराल्ड (National Herald) धन शोधन मामले में कांग्रेस नेता राहुल गांधी से चौथे दिन सोमवार को करीब 12 घंटे पूछताछ की।

मध्य दिल्ली के एपीजे अब्दुल कलाम रोड स्थित ईडी मुख्यालय से राहुल गांधी रात करीब 12:30 बजे बाहर निकले।

इससे पहले राहुल गांधी सीआरपीएफ जवानों की ‘‘जेड प्लस’ श्रेणी की सुरक्षा के साथ पूर्वाह्न करीब 11 बजे ईडी मुख्यालय पहुंचे थे। गौरतलब है कि 19 जून को राहुल गांधी का 52वां जन्मदिन था।

पिछले सप्ताह सोमवार, मंगलवार और बुधवार को लगातार तीन दिन और सोमवार को फिर से ईडी के अधिकारियों ने पूछताछ की। 52 वर्षीय राहुल गांधी से अब तक 40 घंटे से अधिक समय तक पूछताछ की जा चुकी है, जिस दौरान धन शोधन रोकथाम अधिनियम (पीएमएलए) के तहत उनके बयान दर्ज किये गए।

उन्हें गत शुक्रवार को फिर से जांच एजेंसी के समक्ष पेश होना था, लेकिन कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने अपनी मां सोनिया गांधी के बीमार होने के कारण ईडी के जांच अधिकारी को पत्र लिख कर उन्हें शुक्रवार (17 जून) के लिए निर्धारित पूछताछ से छूट देने का अनुरोध किया था। ईडी ने उनके अनुरोध को स्वीकार कर लिया था और 20 जून को पेश होने के लिए कहा था।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को कोविड-19 से जुड़ी स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के चलते दिल्ली के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। ईडी ने सोनिया गांधी को इसी मामले में 23 जून को तलब किया है।

समझा जाता है कि ‘यंग इंडियन’ की स्थापना, ‘नेशनल हेराल्ड’ के संचालन और एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड (एजेएल) को कांग्रेस द्वारा दिए गए कर्ज तथा मीडिया संस्था के भीतर धन के हस्तांतरण से जुड़े सवाल राहुल गांधी से पूछे गए गए हैं।

‘यंग इंडियन’ के प्रवर्तकों और शेयरधारकों में सोनिया गांधी तथा राहुल गांधी सहित कांग्रेस के कुछ अन्य नेता शामिल हैं।

कांग्रेस ने ईडी की कार्रवाई को भाजपा नीत केंद्र सरकार की विपक्षी नेताओं के खिलाफ बदले की राजनीति करार दिया है।

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in