UP Crime: ये है 200 कार चुराने वाला गैंग, सरगना समेत तीन गिरफ्तार

Ghaziabad Crime: कार चोरों ने पूछताछ में बताया कि वो लग्जरी लाइफ जीने के शौकीन हैं, पैसा इतना था नहीं, इसलिए इस चोरी के धंधे में शामिल हो गए।
गिरफ्त में आरोपी
गिरफ्त में आरोपी

Ghaziabad Crime News: एक नहीं दो नहीं 200 से ज्यादा कारें (Cars) चुराने वाला गैंग गाजियाबाद पुलिस (Police) के हत्थे चढ़ा है। गाजियाबाद की क्राइम ब्रांच (Crime Branch) ने दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) में कारों को चुराकर आसपास के प्रदेशों (States) में बेचने वाले बड़े गैंग (Gang) का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने इस सिलसिले में तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इस गिरोह के सरगना पर ₹25000 का इनाम भी रखा गया था।

पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से चोरी की आधा दर्जन कारें बरामद हुई हैं। खुलासा यह भी हुआ है कि यह गिरोह अब तक 200 से ज्यादा गाड़ियां चुराकर बेच चुका है। ये गैंग चोरी की कार का चेचिस नंबर इंजन नंबर तक बदल दिया करते थे और फर्जी दस्तावेज बनाकर कार को बेच दिया करते थे।

इन तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपियों की पहचान बाबूगढ़ हापुड़ के रहने वाले दीपांशु कविनगर, पंचशील कॉलोनी के गौरव भाटी और साहिबाबाद के निजाम के तौर पर हुई है।

गैंग के सरग़ना दीपांशु पर ₹25000 का इनाम घोषित किया गया था। दीपांशु पर अलग-अलग थानों में 25 मुकदमे दर्ज हैं। यह गैंग गाड़ियों की चोरी करने के बाद इन्हें पंजाब हरियाणा राजस्थान और उत्तर प्रदेश के कई हिस्सों में बेच दिया करता था। यह आरोपी पिछले 2 साल से दिल्ली एनसीआर में अपना एक्टिव गैंग चला रहे थे।

इन आरोपियों के कब्जे से फर्जी नंबर प्लेट्स गाड़ी खोलने के डिवाइस और डिजिटल उपकरण भी बरामद हुए हैं। इन आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि वह अपनी ऐश-ओ-आराम और लैविश लाइफ जीने के लिए गाड़ियों की चोरी के धंधे में शामिल हुए थे जिसके बाद एक के बाद उन्होंने 200 से ज्यादा गाड़ियों को चुरा कर बेच दीं।

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in