Noida News : 'उस बाउंसर का हाथ काट कर मुझे दो, जिसने मेरे बेटे की हत्या की है।'

CRIME NEWS IN HINDI : बृजेश राय के मर्डर केस में नए खुलासे
Noida News : 'उस बाउंसर का हाथ काट कर मुझे दो, जिसने मेरे बेटे की हत्या की है।'
बृजेश राय

GARDEN GALLERIA MURDER CASE : नोएडा के गार्डन गैलरिया मॉल में बृजेश राय का मर्डर आखिर किस बात पर हुआ था। आइए आपको बताते है। बीयर की बोतलों की गिनती में गफलत की वजह से इस झगड़े की शुरुआत हुई थी। इसके बाद बहस बढ़ती चली गई और नौबत मारपीट तक जा पहुंची। यानी ये सब कुछ हुआ नशे के दौरान। उधर, बृजेश के पिता ने कहा, 'उस बाउंसर का हाथ काट कर मुझे दो, जिसने मेरे बेटे की हत्या की है।'

बृजेश राय की हत्या का सच!

तो आखिर सच क्या था कि वाकई बीयर ज्यादा पी गई थी और बृजेश का ग्रुप कम बीयर पीने की बात कर रहा था या फिर झगड़ा किसी और बात को लेकर हुआ था, ये तफ्तीश की बात है। जांच में ये बात सामने आई है कि बहस धीरे धीरे कहासुनी में तब्दील हो गई थी। बात इतनी बढ़ गई थी कि दोनों एक-दूसरे की औकात बताने पर आ गए थे। इस दौरान बृजेश के दूसरे दोस्त भी इस झगड़े में शामिल हो गए थे।

बस फिर क्या था, बाउंसरों ने अपना आपा खो दिया। इस मामले में बहसबाजी बढ़ता देख लोस्ट लेमन रेस्तरां के स्टाफ ने मॉल के सिक्योरिटी गार्ड्स को भी बुला लिया और फिर सभी बृजेश राय सहित पूरे ग्रुप पर कहर बनकर टूट पड़े। हमलावरों ने बृजेश के सिर और पेट में जोर से लातें मारीं। इसी हमले में बृजेश को गंभीर चोटें आईं। आनन-फानन में घायल को पारस अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां बृजेश की मौत हो गई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा, जिसमें पता चला कि हेड इंजरी, स्प्लीन फ्रैक्चर और लिक्विड इन स्टमक बृजेश की मौत का कारण बने।

पुलिस की थ्योरी

पुलिस के मुताबिक, बिहार के छपरा जिला निवासी बृजेश राय एक बैटरी बनाने वाली कंपनी में सेल्स मैनेजर थे। हाल ही में उनका परिवार मुंबई से नोएडा शिफ्ट हुआ था। बीते सोमवार की रात नोएडा सेक्टर-39 के गार्डन गैलरिया मॉल में स्थित लोस्ट लेमन रेस्तरां में वह पार्टी करने गए थे। उस दौरान उनके अन्य पांच साथी भी मौजूद थे। देर रात पार्टी खत्म होने के बाद रेस्तरां स्टाफ ने कस्टमर्स को 7000 रुपये का बिल थमाया, जिसमें बीयर की बोतलों का चार्ज भी शामिल था। बृजेश राय और उनके ग्रुप की आपत्ति थी कि उन्होंने जितने की बीयर पी है उससे ज्यादा का बिल है, इसलिए एक्स्ट्रा चार्ज हटाया जाए जबकि रेस्तरां स्टाफ अपनी जिद पर अड़ा हुआ था।

हत्या की वारदात में 9 लोगों को आरोपी बनाया गया। इनमें 2 मॉल के सिक्योरिटी गार्ड जबकि 5 लास्ट लेमन रेस्तरां के कर्मचारी हैं। अब तक 7 आरोपियों सुंदर सिंह रावत (मैनेजर), कुमेर सिंह बंगारी, हिमांशु कुमार, देवेन्द्र सिंह, मैडी ठाकुर, गुड्डू सिंह और कपिल उर्फ नाहर सिंह की गिरफ्तारी हो चुकी है जबकि अन्य दो की तलाश जारी है।

बृजेश की पत्नी ने उठाए सवाल

मूल रूप से छपरा (बिहार) के रहने वाले बृजेश राय नई नौकरी मिलने के बाद 4 माह पहले ही मुंबई से नोएडा शिफ्ट हुए थे। उनकी पत्नी पूजा राय नोएडा स्थित दिल्ली पब्लिक स्कूल (DPS) में टीचर हैं। पूजा ने सवाल उठाया है कि जब ऐसी घटना हुई तो दोस्तों ने मुझे सूचित क्यों नहीं किया? उन्होंने बताया कि देर रात तक पति बृजेश के घर न लौटने पर उन्होंने कॉल किया था, तब उन्हें इस मामले की जानकारी दी गई थी।

Related Stories

No stories found.