उल्टा पड़ा फिल्मी दांव: लिखाने गए थे लूट और किडनैपिंग की FIR लेकिन पहुँच गए हवालात

फिल्मों से आइडिया लेकर पुलिस के साथ धोखाधड़ी बड़ी महंगी पड़ गई। हसरत तो थी कि लूट की थर्ड डिग्री थ्योरी बनाकर उन लोगों की पहुँच से दूर हो जाएं जिनके पैसे सट्टेबाज़ी में उड़ा दिए, लेकिन दांव कुछ इस कदर उलटा पड़ गया कि जनाब खुद ही सलाखों के पीछे पहुँच गए और अब क़िस्मत को कोस रहे हैं।
उल्टा पड़ा फिल्मी दांव: लिखाने गए थे लूट और किडनैपिंग  की FIR लेकिन पहुँच गए हवालात

लूट और किडनैपिंग का फ़र्जी केस

LATEST CRIME STORY IN HINDI: क़िस्सा दिल्ली का है जहां क्रिकेट (CRICKET) की सट्टेबाजी में लाखों की रकम गंवाने के बाद एक शख्स ने अपनी ही लूट और किडनैपिंग की ऐसी फिल्मी स्क्रिप्ट (FILMY SCRIPT) लिखी कि पुलिस ने उसी शख्स को उठाकर सलाखों के पीछे पहुँचा दिया।

ये मामला दिल्ली का है। यहां बीती 10 जनवरी को दिल्ली पुलिस के पास एक शिकायत पहुँची कि रजोकरी (RAJOKARI) के रिज वाली इलाके में एक लूटपाट की वारदात हो गई है और बदमाशों ने एक शख्स से तीन लाख 14 हज़ार रुपये की रकम के साथ साथ एक स्कूटर और मोबाइल लूट लिया।

पुलिस को सुनाई अपनी लिखी कहानी

CRIME STORY IN HINDI: इस शिकायत का सबसे चौंकाने वाला पहलू ये था कि बताया गया था कि बदमाशों ने शिकायतकर्ता को कापसहेड़ा के पास से अगवा किया और रजोकरी के अरावली (ARAWALI) के जंगलों में लूटपाट करके छोड़ दिया।

राजधानी दिल्ली में किसी को यूं दिन दहाड़े अगवा करके लूटपाट की खबर ने पुलिस महकमें को झकझोर कर रख दिया। लिहाजा दिल्ली पुलिस में पश्चिम ज़िले का महक़मा फौरन हरकत में आ गया। और पुलिस की एक टीम सबसे पहले शिकायतकर्ता के पास जा पहुँची। और उनसे पूरी कहानी एक बार फिर सुनाने को कहा।

उल्टे पड़ गए बांस बरेली

CRIME NEWS IN HINDI: बस शिकायतकर्ता यहीं झोल खा गया और उसने पास आई पुलिस टीम को जो कहानी सुनाई उसने पुलिस की टीम के मन में शक पैदा कर दिया। शायद शिकायतकर्ता का वक़्त ही ख़राब था तभी वक़्त को लेकर ही पुलिस वालों की आंखें छोटी हो गईं और माथे पर बल पड़ गए।

शिकायतकर्ता ने पुलिस को बताया था कि वो स्कूटी से दोपहर क़रीब 2 बजे करोल बाग मार्केट गए थे मोबाइल ख़रीदने , लेकिन लूटपाट की वारदात का वक़्त उन्होंने रात के नौ बजे का बताया। क़रीब सात घंटे का ये झोल पुलिस को समझ में नहीं आया।

कहानी में उस वक़्त आया झोल

SMART POLICE OF DELHI: फिर भी पुलिस शिकायत मिलने के बाद उस जगह पर भी जा पहुँची जो अरावली के जंगलों में थी और जहां लूट की वारदात होना बताया जा रहा था। सबसे हैरानी की बात ये थी कि जिसने शिकायत दर्ज करवाई थी वो खुद पुलिस के साथ जंगलों में भटक रहा था।

और तफ़्तीश करवाने के साथ साथ अपनी कहानी में कभी किरदार, तो कभी जगह और कभी तौर तरीकों में अपने हिसाब से तब्दीली करता जा रहा था।

पुलिस ने मोड़ दी जांच की दिशा

CRIME SCRIPT IN HINDI:शिकायतकर्ता की कहानी सुनते सुनते तंग आकर पुलिसवालों ने तफ्तीश की दिशा ही मोड़ दी और अब सवालों के सामने लाकर खड़ा कर दिया खुद उसी शिकायतकर्ता को जिसकी लूट की सच्ची झूठी कहानी सुनकर पुलिस वहां उस जंगल में पहुँची थी।

थोड़ी ही देर में पुलिस के सामने वो शिकायतकर्ता ही आरोपी के शक्ल में खड़ा था और पुलिस मुस्कुराते हुए उसे लेकर थाने जा पहुँची। और तब असली कहानी सुनी।

सट्टा का रट्टा पड़ा खट्टा

DELHI POLICE INVESTIGATION: उस शख्स ने तब ये बताया कि असल में वो क्रिकेट में सट्टा लगाने का शौकीन है और पिछले दिनों मैच में सट्टा लगाकर वो लाखों रुपये हार चुका था। लिहाजा वो पैसे किसी को लौटाने न पड़ें इसलिए हमदर्दी बटोरने के लिए उसने एक कहानी गढ़ी और उसे ही पुलिसवालों को सुना कर ग़लत FIR दर्ज करवा दी थी।

तब पुलिस ने हथकड़ी में जकड़े जा चुके उस शिकायतकर्ता को समझाया कि कहानी चाहें जितनी फिल्मी बना लो, लेकिन जब हक़ीकत सामने आती है तो अच्छे अच्छे शातिरों को सलाखों के पीछे ही जाना पड़ता है।

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in