Iran Hijab Protest : ईरान में महिलाएं हिजाब जला खुद के बाल भी काट रहीं हैं, वजह हैरान कर देगी

Iran Hijab Protest: ईरान की महिलाए सड़क पर उतर आईं हैं. विरोध में महिलाओं ने अपने बाल काट लिए और हिजाब जला दिया. महसा अमीनी की मौत के बाद ईरान में प्रदर्शन चल रहा है.
Hijab Protest| Twitter
Hijab Protest| Twitter

Iran Hijab Protest : ईरान में हिजाब नहीं पहनने पर एक महिला की गिरफ्तारी का विरोध अब तेज हो गया है. असल में महिला की गिरफ्तारी के बाद पुलिस हिरासत में टॉर्चर किया गया था. जिसके बाद उस महिला की मौत हो गई थी. अब इस पूरी घटना को लेकर ईरान की महिलाएं सड़कों पर उतर आईं हैं. विरोध में हिजाब जला रही हैं. यहां तक कि महिलाएं अपने बाल भी काट रहीं हैं.

बता दें कि ईरान एक मुस्लिम देश है और महिलाओं के लिए हिजाब वहां के ड्रेस कोड का जरूरी हिस्सा है. महिला की इच्छा हो या ना हो, हिजाब पहनना जरूरी है. 22 साल की महसा अमीनी (Mahsa Amini) को पुलिस ने गिरफ्तार किया था क्योंकि उसने हिजाब नहीं पहना था. पुलिस कस्टडी में ही उस महिला की मौत हो गई थी. इस घटना के बाद ईरान की महिलाएं सड़क पर उतर कर अपने हक की लड़ाई लड़ रही हैं.

इस वजह से चल रहा है प्रोटेस्ट

13 सितंबर को ईरान की रहने वाली महसा अमीनी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था. महिला पर हिजाब ना पहनने का आरोप था. गिरफ्त में आने के बाद महिला की हालत काफी गंभीर थी. कस्टडी में ही उस महिला की मौत हो गई थी. ईरान की महिलाएं इस बात से काफी आक्रोश में हैं. उनका कहना है कि हिजाब पहनना या ना पहनना एक औरत की इच्छा है. किसी भी तरह की जोर जबरदस्ती सही तरीका नहीं है.

गुस्से में महिलाओं ने काटे बाल

ईरान में मामला इतना भड़का हुआ है कि महिलाओं ने अपने बाल काट दिए और हिजाब भी उतार दिया. महिलाओं ने हिजाब उतार कर जलाया और विरोध किया. ईरान के लड़के-लड़कियां सड़क पर प्रदर्शन कर रहें हैं, उनका कहना है कि कट्टरवादी नियम में बदलाव होना चाहिए. महसा अमीनी की सिर्फ हिजाब ना पहनने की वजह से दर्दनाक मौत हो गई. इस वजह से वहां के लोगों में गुस्सा भरा हुआ है.

कैमरे से मुस्लिम महिलाओं पर रखी जाती है नजर

ईरान में 7 साल से बड़ी उम्र की लड़कियों या महिलाओं को हिजाब पहनने का कानून है. इसे रोकने के लिए पहले भी कई बार विरोध किया गया था. महिलाएं हर वक्त हिजाब पहने इसके लिए ईरान में हर जगह कैमरे लगाए गए हैं जो उनका पीछा करते हैं. ताकि कोई भी महिला कानून ना तोड़ पाए. वैसे तो कैमरे की निगरानी रखना सभ्यता के खिलाफ है लेकिन ये ईरान का खुद का तरीका है.

हिजाब ना पहनने पर पड़ सकते हैं 74 कोड़े

ईरान में ऐसे कानून हैं जहां महिलाओं को हिजाब ना पहनने पर कई तरह की सजा सुनाई जा सकती है. अगर महिला ने बिना हिजाब के सोशल मीडिया पर फोटो वीडियो पोस्ट की हैं तो उसे नौकरी से निकाला जा सकता है. उसकी सरकारी मदद भी बंद कर दी जाएगी. हिजाब ना पहनने पर 50 से 5 लाख ईरानी रकम भरनी पड़ सकेगी. महिला को 10 दिन से लेकर 2 महीने तक की सजा हो सकती है. इतना ही नहीं, इन सब के बावजूद 74 कोड़े मारने की भी सजा है.

NOTE: ये खबर क्राइम तक के साथ इंटर्नशिप कर रहीं दीपिका शर्मा ने लिखी है.

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in