आस मोहम्मद ने आशु राणा बनकर नाबालिग से की दोस्ती, पोल खुलने पर ब्लैकमेल करने लगा!

Delhi Crime News: नॉर्थ दिल्ली (North Delhi) की साइबर पुलिस (Cyber police) ने एक नाबालिग लड़की को सोशल मीडिया (Social Media) अकाउंट के जरिए स्टॉक करने और परेशान करने के आरोप में एक शख्स को गिरफ्तार किया है
पुलिस की गिरफ्तर में आरोपी आस मोहम्मद
पुलिस की गिरफ्तर में आरोपी आस मोहम्मद

Delhi Crime News: नॉर्थ दिल्ली (North Delhi) की साइबर पुलिस (Cyber police) ने एक नाबालिग लड़की को सोशल मीडिया (Social Media) अकाउंट के जरिए स्टॉक करने और परेशान करने के आरोप में एक शख्स को गिरफ्तार किया है. गिरफ्तार किए गए शख्स पर अपना असली नाम, पेशा और धर्म छिपाकर नाबालिग से दोस्ती करने और सच्चाई सामने आने पर दोस्ती तोड़ने के बाद धमकाने का आरोप है.

रिपोर्ट के मुताबिक पहले तो आरोपी ने नाम बदलकर नाबालिग लड़की से दोस्ती की और खुद को भारतीय सेना का जवान बताया था. 21 साल के आस मोहम्मद ने टिक टॉक पर एक 17 साल की लड़की से दोस्ती की थी. उसने अपना नाम आशु राणा बताया था. दोनों ने मोबाइल नंबर एक्सचेंज किए. उस शख्स ने लड़की से कहा कि वो आर्मी में है. दोनों 4-5 बार दिल्ली के जीटीबी नगर में मिले. जब ये बात लड़की की मां को पता चली, तब लड़की ने उस शख्स से दोस्ती तोड़ दी और उससे बात करना बंद कर दिया.

इसके बाद आस मोहम्मद ने लड़की को बदनाम करने और परेशान करने का प्लान बनाया. पीड़िता की फर्जी प्रोफाइल बनाकर अश्लील फोटो अपलोड करने लगा. इस मामले का खुलासा तब हुआ, जब पीड़िता ने अपनी मां के साथ नॉर्थ दिल्ली साइबर सेल में शिकायत दर्ज कराई. इसके बाद आरोपी को गिरफ्तार का पॉक्सो एक्ट (POCSO Act) के तहत जेल भेज गया है.

नॉर्थ दिल्ली के डीसीपी सागर कलसी के मुताबिक, धार्मिक पहचान बदलकर दूसरे नाम से दोस्ती करने के बाद नाबालिग को धमकाने की शिकायत आई थी. शिकायत में नाबालिग की फर्जी प्रोफाइल बनाकर बदनाम करने की भी बात कही गई थी.

रिपोर्ट के मुताबिक इस मामले में भारतीय दंड संहिता की धारा 419, 500, 354-डी, 509, POCSO और IT एक्ट के तहत केस दर्ज किया गया. आरोपी को पकड़ने के लिए उसका इंस्टाग्राम अकाउंट खंगाला गया. जिस नंबर से आईडी बनी थी, वह आस मोहम्मद के नाम पर निकली. आगे की जांच के बाद टीम गठित कर आरोपी आस मोहम्मद को शनिवार, 3 सितंबर को गिरफ्तार कर लिया गया. उसके पास से एक मोबाइल फोन और दो सिम कार्ड बरामद किए गए हैं.

पुलिस ने बताया कि आरोपी आर्मी में जवान नहीं है, बल्कि वह मुंबई में इंडियन आर्मी की कलीना कैंट में कॉन्ट्रैक्ट पर रसोईये का काम करता है. आस मोहम्मद मेरठ का रहने वाला है और 12वीं तक पढ़ा है.

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in