समलैंगिक रिश्तों में उलझी एक मर्डर की कहानी, क़त्ल के बाद वो लाश के पास ही खामोश बैठी रही

UP Varansi Lesbian Murder Mystery Story : कत्ल करने वाली राखी ग्राम प्रधान का चुनाव तो हार गई लेकिन उसकी कंचन से ऐसी दोस्ती हुई कि दोनों में दिल के रिश्ते बन गए. दोनों में समलैंगिक संबंध थे.
समलैंगिक रिश्तों में उलझी एक मर्डर की कहानी, क़त्ल के बाद वो लाश के पास ही खामोश बैठी रही
Crime Story in hindi

Crime Story in Hindi : समलैंगिक संबंधों में एक महिला की हत्या करने की ये घटना बेहद ही सनसनीखेज है. दरअसल, यूपी के वाराणसी में एक लड़की ने शादीशुदा मिला को फावड़े से काट डाला. इसके बाद शव के पास ही बैठी रही. आखिर उस लड़की ने समलैंगिक पार्टनर की हत्या क्यों की? आज क्राइम की कहानी (Crime Stories in Hindi) में उसी अजीब रिश्तों में उलझी एक मर्डर की कहानी.

हत्या की आरोपी राखी वर्मा
हत्या की आरोपी राखी वर्मा

क़त्ल के बाद शव के पास ही वो बैठी रही

Crime ki Kahani: यूपी का वाराणसी शहर. तारीख 21 अप्रैल 2022. सुबह के करीब 11 बजे के आसपास का वक्त रहा होगा. उसी दौरान वाराणसी के मटुका गांव की रहने वाली एक लड़की ने कंचन पटेल के पति को फोन किया. फोन कर ये कहा कि जल्दी मेरे घर आ जाओ और अपनी पत्नी को ले जाए.

इस पर कंचन का पति कहते हैं कि अभी आधा घंटे पहले ही तो तुम्हारे पास कंचन को छोड़कर आए थे. फिर अचानक फोन कर क्यों बुला रही हो. इस पर वो लड़की कहती है कि..बस आ जाओ. बहुत बुरा किया था इसने...ये कहकर वो लड़की फोन कट कर देती है.

ये सुनते ही कंचन का पता वहां पहुंचता है. उस लड़की के कमरे में पहुंचता है तो एक बेड के पास उसकी पत्नी लहूलुहान पड़ी थी. पूरा कमरा खून से लथपथ था. कंचन मर चुकी थी. पास में खून से सना एक फावड़ा पड़ा हुआ था. और वहीं बेड पर गुमसुम वो लड़की बैठी हुई थी.

ये देखते ही कंचन का पति चीखने लगता है. चिल्लाता है. और पूछता है क्यों मार डाला. तो जवाब मिलता है. बस इसे मार डाला. फिर पुलिस को जानकारी मिलती है. पुलिस मौके पर आती है और उस लड़की को गिरफ्तार कर लेती है.

इधर, गांव में ये घटना फैल जाती है. लोग पुलिस को घेर लेते हैं. विरोध करते हुए कहते हैं कि उस लड़की को हमारे हवाले कर दो. इसने ऐसा क्यों किया. आखिरकार पुलिस किसी तरह समझाकर सभी को शांत कराती है. इसके बाद गिरफ्तार लड़की से पूछताछ करती है.

कंचन पटेल (फाइल फोटो)
कंचन पटेल (फाइल फोटो)

मेडिकल की पढ़ाई के बाद प्रधान का चुनाव लड़ चुकी है आरोपी

Lesbian Crime murder Story : असल में उस लड़की का नाम राखी वर्मा है. राखी ने मेडिकल की पढ़ाई की है. वो BAMS कर चुकी थी. पिछले साल गांव में प्रधान का वो चुनाव लड़ी थी. उसी समय चुनाव प्रचार के दौरान पास में रहने वाली 30 साल की कंचन पटेल की वो काफी करीबी हो गई थी.

राखी ग्राम प्रधान का चुनाव तो हार गई लेकिन उसकी कंचन से ऐसी दोस्ती हुई कि दोनों में दिल के रिश्ते बन गए. पुलिस का कहना है कि दोनों में समलैंगिक संबंध बन गए थे. वहीं, कंचन ब्यूटी पार्लर चलाती थी. ऐसे में जब खाली समय मिलता तो दोनों एक साथ ही रहती थीं.

कंचन का पूरा एक परिवार है. पति संजय पटेल सरकारी कर्मचारी हैं. इनके दो बच्चे भी हैं. 10 साल की बेटी भूमि और 5 साल का बेटा अभिनव. दोनों बच्चों ने मां का शव देखा तो बेसुध हो गए. पूरी तरह से गुमसुम हो गए कि आखिर कुछ देर पहले तक जिस मां के साथ वो खाना खाए थे वो अब खून में डूबी हुई है.

बस एक शक में फावड़े से कर डाली हत्या

Crime ki Kahani : 21 अप्रैल की सुबह 9 बजे राखी वर्मा ने कंचन को फोन किया था. कंचन से कहा था कि बहुत जरूरी बात है. वो घर आ जाए. असल में कुछ दिनों से कंचन अपनी दोस्त राखी से बात नहीं कर रही थी. क्योंकि कुछ लोगों ने उससे दूरी बनाने के लिए समझाया था. लेकिन परिवार के पुरुष सदस्यों को उनके संबंधों को जानकारी नहीं थी. राखी के जिद करने पर कंचन ने खुद ही पति से उसके घर ले चलने के लिए कहा था. इसके बाद संजय सुबह सवा 10 बजे कंचन को राखी के घर खुद ही छोड़कर आए थे. इसके बाद संजय अपने ऑफिस के लिए चले गए. उसी के करीब एक घंटे बाद ही राखी का फोन आ गया था. जिसमें राखी ने संजय को तुरंत घर आने की बात कही थी.

इस घटना को लेकर पुलिस ने बताया कि दोनों के रिश्तों के बारे में कई महिलाओं को जानकारी हो गई थी. इसलिए ऐसा करने से मना किया था. इसी बीच, राखी की शादी कहीं तय हो गई थी. लेकिन अचानक लड़के पक्ष ने रिश्ता तोड़ लिया था. इस बारे में राखी को शक था कि कहीं कंचन ने ही तो उसके रिश्तों के बारे में जहां शादी तय हुई थी वहां बता तो नहीं दिया. बस इसी शक की वजह से वो कंचन से बात करना चाहती थी. लेकिन वो बार-बार बात करने से मना कर देती थी. इसलिए आखिरी बार मिलने के लिए बुलाया और गुस्से में फावड़े से मारकर उसकी हत्या कर दी थी.

Related Stories

No stories found.