Rajasthan Crime: जयपुर में श्रद्धा जैसा खौफनाक हत्याकांड, ग्राइंडिंग मशीन से किए लाश के 10 टुकड़े!

Jaipur Crime: एक भतीजे ने अपनी ही विधवा ताई को मौत के घाट उतार दिया, भतीजे ने हत्या के बाद लाश को मार्बल कटर से काटा, शव के टुकड़ों को जांगल में ठिकाने लगा दिया।
जयपुर में श्रद्धा जैसा खौफनाक हत्याकांड
जयपुर में श्रद्धा जैसा खौफनाक हत्याकांड

Jaipur Crime News: राजस्थान में रिश्तों को खून-खून करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। यहां एक भतीजे (Nephew) ने अपनी ही विधवा (Widow) ताई को मौत के घाट उतार (Murder) दिया। कत्ल के आरोपी भतीजे ने हत्या के बाद लाश को मार्बल कटर से काट डाला। आरोपी ने कटर मशीन से शव को कई टुकड़े किए और टुकड़ों को जंगल में ठिकाने लगा दिया।  

जयपुर पुलिस ने आरोपी अनुज शर्मा उर्फ़ अचिंत्य गोविंददास को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर महिला के शरीर के कुछ हिस्से जंगल से बरामद किए हैं। पुलिस लाश के बाकी टुकड़ो की तलाश में कांबिंग कर रही है। ये खौफनाक कत्ल का मामला विद्याधरनगर इलाके में लालपुरिया अपार्टमेंट सेक्टर-2 का है।

यहां कातिल ने श्रृद्धा मर्डर केस जैसे ही हत्याकांड को अंजाम दिया है। जानकारी के मुताबिक 11 दिसंबर को अनुज नाम के युवक ने ने अपनी ही 64 साल की बुजुर्ग ताई सरोज शर्मा को सिर पर हथोड़ा मारकर मौत के घाट उतार दिया। कत्ल करने रके बाद लाश को ठिकाने लगाने के लिए आरोपी ने ग्राइंडर मशीन का इस्तेमाल किया और ताई की लाश के टुकड़े-टुकड़े कर जंगलो में फेंक दिए। 

बाथरुम में किए लाश के 10 टुकड़े

पुलिस जांच में खुलासा हुआ है कि आरोपी ने घर के बाथरूम में ही मशीन से लाश के 10 टुकड़े किए और फिर शव के टुकड़ों को जंगल में ठिकाने लगा दिया। हैरानी की बात ये है कि हत्या करने के बाद आरोपी थाने पहुंचचा और अपनी ताई की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करा दी। सरोज की दो बेटियां हैं पूजा और मोनिका। हत्या के बाद आरोपी ने पूजा को कॉल करके बताया कि ताई जी घर से गायब हो गई हैं।

कातिल कर रहा था खून के धब्बों की सफाई

ये खबर मिलते ही दूसरे दिन पूजा ने बहन मोनिका को मां के घर भेज दिया। मोनिका जब मां के घर पहुंची तो देखा कि अनुज घर में खून के धब्बे मिटा रहा था। मोनिका ने पूछा कि ये खून कैसा है तो अनुज ने जवाब दिया कि उसकी नकसीर फूट गई थी। यहीं से मोनिका को शक हुआ और उसने पूजा को पूरी बात बताई और पुलिस में शिकायत दर्ज करा दी।

ये जानकारी मिलते ही पुलिस ने आरोपी भतीजे को हिरासत में ले लिया। डीसीपी नॉर्थ परिस देशमुख ने जानकारी दी है कि ताऊ की मौत के बाद सरोज की देखभाल उनका भतीजा अनुज ही किया करता था। अनुज का पूरा खर्च भी सरोज देवी ही उठाया करती थीं। मृतका सरोज शर्मा का एक बेटा और दो बेटियां हैं जिसमें से बेटा विदेश में रहता है। अनुज को अपनी किसी भी बात पर रोक टोक पसंद नहीं थी। वो आजादी से घूमना फिरना चाहता था जिसमें सरोज देवी रोक टोक करती थीं।

इंजीनियरिंग का छात्र है आरोपी

जानकारी के मुताबिक आरोपी अनुज बीटेक की पढ़ाई पूरी कर हरे कृष्णा आंदोलन से जुड़ा हुआ था। वो 11 दिसंबर को दिल्ली जाना चाहता था। जब ये बात उसने ताई से बताई तो सरोज शर्मा ने उसे जाने से मना कर दिया। बस इसी बात पर अनुज आग बबूला हो गया। गुस्से में अनुज ने सरोज शर्मा के सिर पर हथौड़े से कई वार किए जिससे सरोज शर्मा की मौत हो गई। कत्ल के बाद अनुज सीकर रोड की हार्डवेयर की दुकान से मार्बल कटर मशीन खरीद लाया। अनुज ने ताई की लाश के टुकड़े कर सूटकेस और बाल्टी में भर लिए।

मौका देखकर आरोपी ने शव के टुकड़ों को कार में रखा और दिल्ली रोड की तरफ जाकर जंगलों में फेंक दिया। हत्या के इस मामले में पुलिस ने कटर मशीन, हथौड़ा बरामद कर लिया है। जानकारी के मुताबिक आरोपी ने शव के टुकड़े करने के बाद महिला के सिर और हाथों को एक स्थान पर फेंका और दूसरी जगह धड़ और शरीर के बाकी हिस्से फेंक दिए।

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in