Wrestlers Protest: अध्यक्ष ब्रज भूषण शरण सिंह ने कहा, 'कसूरवार हूँ तो फांसी पर चढ़ा दो'

Wrestlers Controversy: भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृज भूषण शरण सिंह पर पहलवानों ने बेहद संगीन इल्जाम लगाते हुए दिल्ली के जंतर मंतर को अखाड़ा बना दिया है।
भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष ब्रज भूषण शरण सिंह
भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष ब्रज भूषण शरण सिंह

Wrestlers Protest 'Sexual Exploitation: 18 जनवरी को अचानक कुश्ती (Wrestling) के अखाड़े की मिट्टी घिनौने इल्ज़ाम (Accused) के कीचड़ में तब्दील हो गई। दिल्ली के जंतर मंतर (Janter Manter) को भारतीय कुश्ती से जुड़े कई पहलवानों ने एक तरह अखाड़ा बना दिया। तमाम पहलवान खिलाड़ी बस एक ही तरफ उंगली उठा रहे थे। भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृज भूषण शरण सिंह पर।

लेकिन जो इल्जाम थे वो बेहद संगीन और घिनौने थे। कहा तो यहां तक जा रहा था कि भारतीय कुश्ती संघ को बृज भूषण शरण सिंह अपने मनमानें तरीके से चला रहे हैं।

ये बात इसलिए और भी ज्यादा संगीन हो गई जब इल्ज़ाम लगाने वालों में महिला पहलवान सामने आईं। महिला कुश्ती की खिलाड़ी विनेश फोगाट ने जिस तरह से बृज भूषण शरण सिंह के किरदार पर उंगली उठाई, उसने एक तरह से खेल संघ और खेलों को संचालित करने वाली संस्थाओं पर सवालिया निशान खड़े कर दिए हैं।

क्योंकि विनेश फोगाट ने साफ साफ कहा है कि बृज भूषण शरण सिंह लड़कियों का यौन शोषण करते हैं। ये बात इस कदर बढ़ी कि अब खेल मंत्रालय ने भारतीय कुश्ती महासंघ से जवाब तलब किया है और वो भी 72 घंटों के भीतर।

Wrestlers Protest : ऐसे में ये सवाल तो खड़ा होता ही है कि आखिर ये बृज भूषण शरण सिंह हैं कौन? और देश के लिए दुनिया भर के पहलवानों को आसमान दिखाकर सीने पर सोने और चांदी के तमगों से मुल्क की आन बान और शान बढ़ाने वाले पहलवान आखिर इतने हताश क्यों हो गए कि अखाड़े से निकलकर उन्होंने राजधानी के जंतर मंतर को ही अपना अखाड़ा बना लिया।

जो पहलवान अपनी जान की बाजी लगाकर अखाड़े की मिट्टी में सनकर सोना बटोरने का हौसला रखता है वो इस वक़्त अपनी जान के लिए खतरा बताने जैसा संगीन इल्ज़ाम क्यों लगा रहा। इससे भी बढ़कर महिला पहलवानों ने कुश्ती संघ से जुड़े कोच और रैफरी की तरफ यौन शोषण और शारीरिक प्रताड़ना के आरोपों की उंगली क्यों उठाई।

तो इसके पीछे एक ही नाम इन सबकी जुबां पर आया और वो नाम था अध्यक्ष जी। यानी बृज भूषण शरण सिंह। ये ब्रजभूषण शरण सिंह वो हैं जिनकी गिनती बाहुबली नेताओँ के तौर पर की जाती है और वो भी पिछले तीन दशकों से। उत्तर प्रदेश के गोंडा के रहने वाले ब्रजभूषण शरण सिंह कैसरगंज लोकसभा सीट से बीजेपी के सांसद भी हैं और भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष भी।

दावा है कि ब्रजभूषण शरण सिंह ने छात्र जीवन के दौरान अपना बहुत सारा बक्त अयोध्या के अखाड़ों में ही गुजारा है। पहली बार 1991 में लोकसभा का चुनाव जीतने वाले ब्रजभूषण शरण सिंह अब तक छह बार लोक सभा का चुनाव जीत चुके हैं। उनकी दबंगई का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि सांसद बनने के बाद उनका प्रभाव गोंडा के साथ साथ बलरामपुर, अयोध्या और आस पास के तमाम ज़िले में बढ़ा है।

Sexual Exploitation: ब्रजभूषण शरण सिंह के बेटे प्रतीक भी सियासी अखाड़े के मंझे हुए खिलाड़ी हैं और गोंडा से विधायक भी हैं। अध्यक्ष जी को महंगी और आलीशान गाड़ियों का भी शौक है और नवाबों के शहर यानी लखनऊ में उनका आलीशान बंगला है जो उनके रहन सहन और उनकी हैसियत की गवाही देने के लिए मौजूद है।

ऐसा नहीं है कि अध्यक्ष जी का अतीत बड़ा साफ सुथरा और बेदाग रहा है। उनके खिलाफ हत्या, आगज़नी और तोड़फोड़ करने के भी आरोप लग चुके हैं। कुछ अरसा पहले झारखंड में अंडर 19 नेशनल कुश्ती चैंपियनशिप के दौरान एक पहलवान को उन्होंने मंच पर ही थप्पड़ रसीद कर दिया था...और उनका ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल भी हुआ था।

इन्हीं अध्यक्ष जी का नाम लेते ही विनेश फोगाट के आंसू छलक उठे। विनेश ने अध्यक्ष जी पर कई लड़कियों के साथ यौन शोषण करने का इतना संगीन इल्ज़ाम लगाया जिसने इस सर्द मौसम में सियासत की भट्टी को सुलगाकर रख दिया।

Wrestlers Protest : इन सारे आरोपों का सच जानने के लिए जब हमारे संवाददाता ने ब्रजभूषण शरण सिंह से पूछा तो वो इसके पीछे की साज़िशों को गिनाने लगे और इसे महज एक तमाशा करार देकर इसके पीछे किसी उद्योगपति के होने का शक जताने लगे।

तो क्या पहलवानसिर्फ किसी साजिश के तहत भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष पर आरोप का कीचड़ उछालेंगे...किसी के उकसाने पर ही फेडरेशन में चल रही तानाशाही के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद करेंगे? ऐसे में जरा अध्यक्ष जी की बात को नज़रअंदाज किए बगैर उन पहलवानों पर नज़र डाल लेना मुनासिब होगा जिन्होंने ब्रजभूषण शरण सिंह के खिलाफ आवाज उठाई।

-       टोक्यो ओलंपिक में पदक विजेता बजरंग पुनिया हैं।

-       रियो ओलंपिक पदक विजेता साक्षी मलिक

-       एशियाड और विश्व कुश्ती चैंपियनशिप जीतने वाली विनेश फोगाट

-       वर्ल्ड रेसलिंग चैंपियनशिप जीतने वाली सरिता मोर

-       राष्ट्रमंडल खेलों में पदक विजेता सुमित मलिक समेत 30 पहलवान शामिल हैं।

इन बड़े नामी खिलाड़ियों का जिक्र करते ही ब्रज भूषण सिंह भी बिफर जाते हैं और ऐलानिया कहना शुरू कर देते हैं कि कोई ऐसा एक भी आदमी है जो कह सके कि कुश्ती संघ में एथलीटों का उत्पीड़न किया जा रहा है। बीते इतने सालों में कभी किसी को कोई दिक्कत नहीं हुई तो ये सब इस वक्त ही क्यों...? और अगर ये सारे इल्जाम सही निकल जाएं तो हमें फांसी पर चढ़ा दो?

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in