UDAIPUR MURDER: दिखा तालिबानी चेहरा, ISIS के दरिंदों की तर्ज पर टेलर का किया सिर कलम

UDAIPUR MURDER: उदयपुर में टेलर की हत्या के बाद के वीडियो (VIDEO) ने पूरे देश में दहशत फैला दी। हत्यारों ने टेलर ही हत्या का वीडियो बनाकर अपनी तालिबानी (TALIBANI) सोच का चेहरा (FACE) दिखाया है।
उदयपुर के हत्यारे
उदयपुर के हत्यारे

UDAIPUR TALIBANI FACE: वीडियो में जिस तरह से उदयपुर के दोनों क़ातिलों ने एक टेलर का सिर कलम किया और फिर सिर कलम करने के बाद जिस अंदाज़ में उन दोनों वहशियों ने अपना चेहरा दिखाते हुए वीडियो बनाया। वीडियो में अपनी करतूत का बखान बढ़ चढ़कर दिखाया...उससे एक बात तो साबित हो जाती है कि इन दोनों हत्यारों ने राजस्थान के उदयपुर में एक तरह से तालिबानी चेहरा दिखाने की बड़ी गुस्ताखी कर दी है।

तालिबानी तरीका इसलिए भी कहा जा सकता है क्योंकि नूपुर शर्मा के जिस बयान का हवाला देकर इन दोनों ने अपने जघन्य अपराध को सही ठहराने की कोशिश की है...वो किसी भी सूरत में ऐसी ही फितरत से मिलता जुलता है।

वीडियो में हत्यारों ने बताए थे अपने नाम भी

UDAIPUR TALIBANI FACE: याद होगा सभी को इस्लामिक स्टेट के उन दरिंदों के चेहरे जो अपने चेहरों को काले नकाब में छुपाकर और बेबस और बदनसीब लोगों की गर्दन रेतकर ऐसे ही वीडियो बनाकर दुनिया भर में दहशत फैलाने की कोशिश करते थे। यहां दोनों हत्यारे ने अपने नाम भी बताए हैं। एक कहता है कि उसका नाम मुहम्मद रियाज़ है,जबकि दूसरे ने अपना नाम मुहम्मद गौस बताया। वीडियो में उसने अपने गुनाह के हक़ में दलील दी थी कि गुस्ताख-ए-नबी की एक ही सज़ा, सिर, सिर से जुदा....

ये न सिर्फ तालिबानी सोच है बल्कि इस्लामिक स्टेट के दरिंदों के दुनिया भर में फैलाए गए वीडियो का ही एक घिनौना और खौफनाक चेहरा भी कहा जा सकता है।

कपड़े सिलवाने के बहाने आकर कर दिया सिर कलम

UDAIPUR TALIBANI FACE: असल में इस खौफनाक घटना के पीछे की जो वजह अभी तक सामने आई है उसके मुताबिक 10 दिन पहले टेलर कन्हैया लाल के बेटे ने नूपुर शर्मा के समर्थन में एक पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल की थी। उस पोस्ट के बाद से ही कन्हैया लाल को लगातार धमकियां मिल रही थीं।

हालांकि कन्हैया ने इसकी सूचना पुलिस को दी थी, लेकिन आरोप यही है कि पुलिस ने लापरवाही बरतते हुए, इस पर कोई ध्यान नहीं दिया। इसके बाद 28 जून की दोपहर को हत्यारे, कपड़े सिलवाने के बहाने आए, और कन्हैया लाल का गला काट दिया।

पता ये भी चला है कि कन्हैयालाल गोर्वधन विलास इलाके का रहने वाला था। और धमकी मिलने के बाद से ही पिछले 6 दिनों से उसने अपनी टेलर्स की दुकान भी नहीं खोली थी। लेकिन मंगवार को जब कन्हैया ने दुकान खोली, तो हत्यारे उसके पास पहुँच गए और कपड़े सिलवाने के बहाने उसकी निर्मम हत्या कर दी।

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in