रामनवमी हिंसा : करौली से कर्नाटक तक... 7 राज्यों में हुई हिंसा

रामनवमी हिंसा : करौली से कर्नाटक तक...  7 राज्यों में हुई हिंसा
झारखंड और बिहार में भी रामनवमी के दिन हंगामा हुआ

RAMNAVAMI VIOLENCE : देश के विभिन्न हिस्सों में रामनवमी के दिन हिंसक घटनाएं हुई। उधर, पिछले कुछ दिनों में हिंसक घटनाओं के अलग-अलग मामले भी सामने आए हैं।दिल्ली में जेएनयू के अलावा देश के 7 राज्यों से हिंसा की खबरें आई। गुजरात के दो शहरों में रामनवमी की शोभा यात्रा के दौरान हिंसा भड़क गई थी। आणंद में हुई हिंसा में जख्मी एक शख्स की मौत हो गई है। साबरकांठा और द्वारका में भी शोभा यात्रा के दौरान पथराव हुआ। मध्य प्रदेश के खरगौन में भी जबरदस्त हिंसा हुई, जहां हमले में एसपी को गोली लगने की खबर है। झारखंड के लोहरदगा और बोकारो, पश्चिम बंगाल के हावड़ा, कर्नाटक के कोलार और उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर से भी हंगामे की खबर है।

बंगाल की तस्वीर
बंगाल की तस्वीर

पहले बात करते है गुजरात की

गुजरात के आणंद में रविवार को VHP की रामनवमी यात्रा पर पथराव हुआ था, पुलिस की गाड़ियों को भी वहां फूंक दिया गया था। इसके साथ-साथ गुजरात के ही द्वारका और साबरकांठा में भी बवाल हुआ था। हिंसा में एक की मौत भी हुई है।

एमपी : इसी तरह रामनवमी पर ही मध्य प्रदेश के खरगोन में शोभा यात्रा पर हमला हुआ। वहां डीजे पर आपत्ति थी। इसके बाद हिंसा में ट्रांसफार्मरों और गाड़ियों को भी आग के हवाले कर दिया गया था।

कर्नाटक में हुई हिंसा
कर्नाटक में हुई हिंसा

गोवा : गोवा के इस्लामपुर में भी रामनवमी पर हिंसा की खबर है, जिसके बाद वहां संप्रदायिक तनाव बढ़ा है।

कर्नाटक : वहीं कर्नाटक के धारावाड़ से 9 अप्रैल को एक वीडियो सामने आया था। इसमें कथित रूप से मुस्लिम फल विक्रेता को मंदिर के सामने फल बेचने से रोका गया और ठेला भी तोड़ा गया। इसका आरोप श्री राम सेना के सदस्यों पर लगा था, जिस पर जमकर राजनीति हुई।

राजस्थान : यहां के करौली में डीजे पर गानों-नारेबाजी से भड़के लोगों ने पथराव कर दिया था, जिससे हिंसा भड़क गई। 2 अप्रैल की शाम 4 बजे कलेक्ट्रेट सर्किल से रैली में शामिल करीब 200 बाइकों पर सवार 400 लोग रवाना हुए थे। रैली के आगे पिकअप में डीजे में गाने बज रहे थे, जबकि प्रशासन ने डीजे व लाउडस्पीकर का इस्तेमाल न करने की शर्त पर ही रैली की अनुमति दी थी। डीजीपी ने बताया था कि रैली जब अल्पसंख्यक बाहुल्य क्षेत्र से गुजर रही थी तब रैली में शामिल लोगों ने नारेबाजी शुरू कर दी। इसी के बाद आस-पास के मकानों व दुकानों से रैली में शामिल लोगों व पुलिस पर भारी पथराव शुरू हो गया। करीब 100-150 व्यक्तियों ने लाठी व डंडे लेकर हमला कर दिया। आगजनी व तोड़फोड़ से दोनों पक्षों के करीब 80 से अधिक व्यक्तिों की सम्पत्ति को नुकसान हुआ। इस वजह से राजस्थान के कई शहरों में धारा 144 लागू की गई थी।

जेएनयू : दो पक्षों की बीच झड़प हुई। झड़प को लेकर वामपंथी छात्रों ने आरोप लगाया कि राम नवमी पर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के छात्रों ने उन्हें नॉन वेज फूड खाने से रोका। लेफ्ट विंग के छात्रों ने यह भी आरोप लगाया कि एबीवीपी के छात्रों ने कावेरी हॉस्टल के मेस सचिव से मारपीट की। लेफ्ट विंग के छात्रों ने एबीवीपी छात्रों पर जेएनयू परिसर में गुंडागर्दी का आरोप लगाते हुए छात्रों को एकजुट होने का आह्वान किया। इस सिलसिले में पुलिस मामले की जांच कर रही है।

इनको लेकर AIMIM अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने प्रतिक्रिया दी है। ओवैसी ने आरोप लगाया कि कई जगहों पर रामनवमी की रथ यात्राओं को मुसलमानों के खिलाफ हेट स्पीच देने के लिए इस्तेमाल किया गया।

Related Stories

No stories found.