कॉमेडी किंग राजू श्रीवास्तव के अंतिम संस्कार से पहले इसलिए किया गया था 'वर्चुअल पोस्टमॉर्टम'

Raju Srivastava: लोगों को हंसा हंसाकर लोटपोट करने वाले राजू श्रीवास्तव (Raju Srivastava) का गुरुवार को अंतिम संस्कार (Cremation) से पहले वर्चुअल पोस्टमॉर्टम (Vertual Postmortam) भी किया गया था।
कॉमेडी किंग राजू श्रीवास्तव
कॉमेडी किंग राजू श्रीवास्तव

Raju Srivastava: कॉमेडी किंग (Comedi King) राजू श्रीवास्तव का लंबे समय तक बीमारी से जूझते हुए निधन (Death) हो गया। उनकी उम्र 58 साल थी और उन्होंने 42 दिन तक दिल्ली के एम्स (AIIMS) में डॉक्टरों की देख रेख में अंतिम सांस ली। दिल का दौरा पड़ने पर राजू श्रीवास्तव को 42 दिन पहले एम्स में भर्ती कराया गया था। यहां तक तो सब ठीक है। लेकिन आज अंतिम संस्कार (Cremation) से पहले राजू श्रीवास्तव का एक ऑटोप्सी (Autopsy) यानी पोस्टमॉर्टम किया गया। उसके बाद ही उनका पार्थिव शरीर परिवार वालों को अंतिम संस्कार के लिए सौंपा गया।

लोगों को गुदगुदाकर उनके चेहरों पर मुस्कुराहट बिखेरने वाले राजू श्रीवास्तव का वर्चुअल पोस्टमॉर्टम हुआ। ये वर्चुअल पोस्टमॉर्टम सामान्य पोस्टमॉर्टम से काफी ज़्यादा अलग होता है। क्योंकि इसमें इंसानी शरीर के अंगों की चीर फाड़ नहीं की जाती। यानी बिना कैंची लगाए पूरा पोस्टमार्टम कर दिया जाता है। असल में सब कुछ मशानों के जरिए शव का पोस्टमॉर्टम किया जाता है और सबसे बड़ी बात कि ये पूरी प्रक्रिया महज चंद मिनटों में पूरी हो जाती है। और उसके बाद शव को अंतिम संस्कार के लिए परिवार के सुपुर्द कर दिया जाता है।

बिना शरीर में कट लगाए कर दिया गया पोस्टमॉर्टम

Raju Srivastava: इस वर्चुअल पोस्टमॉर्टम में सबसे गौर करने वाली बात ये ये भी है कि इसमें किसी भी तरह की धार्मिक आस्थाएं भी आहत नहीं होती। क्योंकि इसमें शव पर किसी भी तरह का कोई कट नहीं लगाया जाता है।

असल में वर्चुअल पोस्टमार्टम कराने के पीछे एक वजह ये भी है कि कुछ लोग अपनी धार्मिक आस्थाओं की वजह से  शव का पोस्टमार्टम कराने से इनकार कर देते हैं। जिसकी वजह से कई मामलों में शरीर की जांच और मृत्यू के बाद उसकी वजह का पता लगाने में मुश्किलें होती हैं। ऐसे में ये वर्चुअल पोस्टमार्टम की तकनीक से डॉक्टरों और क़ानून की सबसे बड़ी पेचीदगी को खत्म करने में मदद मिली।

असल में राजू श्रीवास्तव पिछले 42 दिनों से अस्पताल के आईसीयू में ही रहे और उन्हें कई बार वेंटिलेटर पर भी रखा गया। डॉक्टरों ने बीच बीच में अपने मेडिकल बुलेटिन में ये बात भी जाहिर की थी कि राजू श्रीवास्तव का दिल और दूसरे अंग तो काम कर रहे हैं लेकिन उनका दिमाग सही तरीके से रिस्पॉन्स नहीं कर रहा।

इस वजह से किया गया राजू श्रीवास्तव का पोस्टमॉर्टम

Raju Srivastava: इसी बीच कुछ रोज पहले ही उन्हें वेंटिलेटर से भी हटाया गया था और उनकी रिपोर्ट भी काफी हद तक संतोष जनक थी। इसके बावजूद  21 तारीख को अचानक राजू श्रीवास्तव की तबीयत बिगड़ी और क़रीब सुबह के दस बजे के आस पास उन्होंने आखिरी सांस ली।

राजू श्रीवास्तव एक सेलेब्रिटी भी हैं ऐसे में आने वाले समय में उनकी मौत पर किसी भी तरह का कोई सवाल अगर उठता है तो कम से कम एम्स के डॉक्टरों के पास उस सवाल का जवाब देने के लिए एक पुख्ता रिपोर्ट हाथ में होगी। यानी वर्चुअल पोस्टमार्टम की जिससे आधार पर डॉक्टर इस बात को विस्तार से बताने में सक्षम होंगे कि शरीर के किस अंग की किस गड़बड़ी की वजह से ही राजू श्रीवास्तव की ऐसी इतनी असमय मौत हो गई।

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in