बाराती बनकर आए दरिंदे ने 3 साल की मासूम के साथ की दरिंदगी, गला घोंटकर शव कुएं में फेंका

राजस्थान के चित्तौड़गढ़ से एक दिलदहलाने वाली खबर सामने आई। यहां बरातियों के साथ आए एक वहशी ने तीन साल की मासूम बच्ची को अपनी दरिंदगी का शिकार बनाकर उसकी हत्या कर दी। हत्या से पहले उसने बच्ची को कई जगह काटा भी था। हत्या के बाद शव को कुएं में फेंक दिया।
बाराती बनकर आए दरिंदे ने 3 साल की मासूम के साथ की दरिंदगी, गला घोंटकर शव कुएं में फेंका
सांकेतिक तस्वीर

Latest Crime: राजस्थान के चित्तौड़गढ़ से एक दिल दहलाने वाली ख़बर सामने आई है। यहां एक तीन साल की मासूम बच्ची दरिंदगी का शिकार हुई। उस मासूम को एक वहशी ने पहले तो अपनी हवस का शिकार बनाया और फिर गला घोंटकर मार दिया। इतना ही नहीं उसने अपने गुनाहों पर पर्दा डालने के लिए उस मासूम का शव गांव के एक कुएं में फेंक दिया। सुबह जब उस मासूम बच्ची की लाश कुएं से निकाली गई तो पूरे गांव में हंगामा मच गया।

चित्तौड़गढ़ ज़िले के बस्सी गांव में दो बारात के आने से पूरे इलाक़े में ज़बरदस्त चहल पहल थी। सारा गांव खुश था और शादी की तैयारियों में लगा हुआ था। बारातियों की उस भीड़ में एक भेड़िया भी था जो इंसान की खाल में छुपा हुआ था। उसने दिन के वक़्त एक चार साल के बच्चे को उठाया और गांव के कुएं के पास ले गया। वो उस मासूम बच्चे के साथ मनमानी करने ही वाला था कि तभी बच्चा रोने लगा और ज़ोर ज़ोर से चिल्लाने लगा।

दोपहर में सोते समय उठाया बच्ची को

Latest Rajasthan Crime:बच्चे की तेज़ आवाज़ से वो डर गया और उसने उस मासूम को छोड़ दिया। लेकिन हवस का भूखा वो पिशाच यहीं नहीं रूका। उसके बाद वो बारातियों में शामिल हो कर अपने नए शिकार की तलाश में जुट गया। दोपहर के वक़्त उसने एक तीन साल की बच्ची को उस वक़्त उठा लिया जब उसके माता पिता सो रहे थे। उस बच्ची को लेकर वो बहशी कुएं के पास पहुँच गया।

कुएं पर पहुँचकर पहले तो उस बदमाश ने बच्ची को अपनी हवस का शिकार बनाया। इस दौरान उसने बच्ची के चेहरे और कान में ज़ोर से काटा भी। लेकिन जब बच्ची दर्द से बिलबिलाकर रोने लगी तो उसकी आवाज़ को हमेशा के लिए बंद करने के लिए पहले तो गला दबाकर उसकी हत्या कर दी और फिर शव को कुएं में फेंक दिया।

उधर शाम तक बच्ची के लापता होने की ख़बर पूरे गांव में फैल चुकी थी। जबकि बारात शादी के बाद अपने गांव लौट गई। घरवालों ने बच्ची के ग़ायब होने की इत्तेला पुलिस को दे दी। घरवालों के साथ पुलिस ने जब बच्ची की तलाश शुरू की तो गांव के ही किसी शख्स ने पुलिस को बताया कि बच्ची को एक शख्स के साथ गांव के कुएं के पास देखा गया था।

हत्या के बाद शव को फेंका था कुएं में

Rajasthan Rape & Murder: रात होने की वजह से कुएं में तो झांका नहीं जा सका अलबत्ता गांव के लोग उस आरोपी को उसके गांव से उठा लाए। उसकी पहचान 30 साल के रामेश्वर धाकड़ के रूप में हुई। पुलिस ने जब उससे पूछताछ की तो वो शुरू में अपनी बातों से गुमराह करता रहा। लेकिन जब पुलिस ने कड़ाई से उससे पूछा तो उसने अपना जुर्म कुबूल कर लिया।

सुबह होने पर रस्सी के सहारे कुएं में पड़ा बच्ची का शव बाहर निकाला गया। आरोपी के गुनाह कुबूल करते ही पुलिस ने उसके ख़िलाफ़ पॉक्सो समेत धारा 376 और दफ़ा 302 के साथ साथ एससीएसटी एक्ट के तहत बुक कर दिया। अब घरवालों ने पुलिस से गुहार लगाई है कि आरोपी को सख़्त से सख़्त सज़ा दिलाकर मासूम को इंसाफ़ दिलाया जाए।

Related Stories

No stories found.