इमरान खान की धमकी वाला बाउंसर मचाएगा बवाल, क़ातिलाना हमले में शामिल था एक और फौजी, किया ट्वीट!

Pakistan News: इमरान खान ने ट्वीट करके पाकिस्तान के सियासी गलियारे में एक बार फिर हड़कंप मचा दिया अपने ट्वीट में इमरान ने लिखा कि हमले के मामले में दूसरे सैन्य अधिकारी के नाम का खुलासा करेंगे।
इमरान खान फाइल चित्र
इमरान खान फाइल चित्र

Pakistan News: पाकिस्तान में अब सियासी भूचाल और उसमें फौज की मिलीभगत का तड़का अब नया ट्विस्ट लेता दिखाई देने लगा है। क्योंकि पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) की जो ताज़ा धमकी है उससे पाकिस्तान की फौज में बखेड़ा भी खड़ा होने की आशंका जताई जा रही है। इसके साथ ही वहां के सियासी हल्कों में उथल पुथल मचने की पूरी संभावना है।

Pakistan News: असल में पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान ने 3 नवंबर को अपने ऊपर हुए हमले के मामले में सेना के एक और अधिकारी के नाम का खुलासा करने की धमकी दे डाली। यानी क्रिकेटर से सियासत की पिच पर खेल रहे इमरान खान को अब अंदाजा हो गया है कि किस बाउंसर से वो अपने विपक्षी सियासतदानों को डक करने को मजबूर कर सकते हैं।

Pakistan News: असल में इमरान खान पर 3 नवंबर यानी बृहस्पतिवार को पंजाब प्रांत के वजीराबाद में प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ की सरकार के खिलाफ ‘लॉन्ग मार्च’ के दौरान हमला हुआ था, जिसमें उनके दाहिने पैर में गोलियां लगी थीं।

बताया जा रहा है कि उस हमले के बाद गोली चलाने वाले को पकड़ भी लिया गया था। लेकिन उसके बाद बवाल असली बढ़ा। क्योंकि पूर्व प्रधानमंत्री ने आरोप लगाया था कि प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ, गृह मंत्री राणा सनाउल्लाह और मेजर जनरल फैसल नसीर उनकी हत्या की भयावह साजिश में शामिल थे।

Pakistan News: इतना ही नहीं, इमरान खान का तो ये भी आरोप था कि वो जब पुलिस के पास अपनी शिकायत लेकर FIR दर्ज कराने पहुँचे तो पुलिस वालों ने शिकायत में लिखे एक फौजी मेजर जनरल फैसल नसीर के नाम की वजह से FIR लिखने से ही इनकार कर दिया था। इमरान खान का आरोप तो ये भी था कि उन पर शिकायत से फैसल का नाम हटाने का दबाव भी बनाया जा रहा था।

इसके बाद ये बात वहां के सियासी गलियारों में खुलकर बहस और मुबाहिसे का सबब बन गई। तब दबाव में आकर इमरान खान की एफआईआर तीन दिन बाद लिखी गई।

Pakistan News: इसी बीच इमरान खान ने ट्वीट करके एक बार फिर अपनी धमकी की बाउंसर फेंकी है...अपने ट्वीट में इमरान ने लिखा, “मैं दूसरे अधिकारी के नाम का भी खुलासा करूंगा जो (तीन नवंबर को) दोपहर 12 बजे से शाम 5 बजे तक मेजर जनरल फैसल के साथ साजिश को अंजाम दिए जाने की निगरानी कर रहा था।”

इमरान के इस ट्वीट के बाद अभी तक पाकिस्तान के किसी अधिकारी और फौजी अधिकारी की तरफ से कोई बयान नहीं सामने आया है। अलबत्ता ये माना जा रहा है कि इमरान के इस ट्वीट की अच्छी खासी प्रतिक्रिया हो सकती है।

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in