Murder : लव अफेयर में सबसे ज्यादा मर्डर UP में तो दूसरे नंबर पर है ये प्रदेश, जानिए

NCRB 2022 Report Murder Case : NCRB 2022 यानी नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो की हाल में आई रिपोर्ट में लव अफेयर में होने वाली हत्याओं में यूपी नंबर-1 है. इसके बाद दूसरे नंबर पर गुजरात है.
NCRB 2022 Report Murder Case
NCRB 2022 Report Murder Case

Murder in Love Affair : जिस प्रदेश में प्यार की इबारत ताजमहल है वही राज्य प्यार में मर्डर करने में नंबर-1 है. ये राज्य उत्तर प्रदेश है. NCRB 2022 यानी नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो की हाल में आई रिपोर्ट में लव अफेयर में होने वाली हत्याओं में यूपी नंबर-1 है. इसके बाद दूसरे नंबर पर गुजरात है. असल में रिपोर्ट में बताया कि गया देश भर में होने वाली हत्याओं के पीछे की वजह में सबसे ज्यादा प्रॉपर्टी विवाद है. लेकिन प्रॉपर्टी विवाद के बाद जो दूसरी सबसे बड़ी वजह है अवैध संबंध और लव अफेयर.

NCRB की रिपोर्ट के मुताबिक, साल 2021 में लव अफेयर में यूपी में सबसे ज्यादा 334 मर्डर हुए. ये पूरे देश के किसी भी प्रदेश में सबसे ज्यादा है. हालांकि, 2020 में लव अफेयर में 351 मर्डर हुए थे. साल 2021 में लव अफेयर में मर्डर के केस में दूसरे नंबर पर गुजरात है. इस राज्य में 179 कत्ल हुए.

वहीं, अगर प्रॉपर्टी विवाद को लेकर हुए मर्डर की बात की जाए तो सबसे ज्यादा हत्याएं बिहार में हुईं. बिहार में एक साल में 635 लोगों की हत्या हुई. जबकि इसके बाद यूपी में 227 कत्ल के केस प्रॉपर्टी विवाद में हुए.

लव अफेयर में मर्डर टॉप 5 राज्य
उत्तर प्रदेश 334
गुजरात 179
बिहार 174
मध्य प्रदेश 162
तमिलनाडु 104

प्रॉपर्टी मर्डर में टॉप 5 राज्य

बिहार 635
उत्तर प्रदेश 227
महाराष्ट्र 172
मध्य प्रदेश 169
झारखंड 168

लव अफेयर में हत्या होने की वजहें ये हैं

आधुनिक व पुराने सोच का संक्रमण काल : लव अफेयर में मर्डर की घटनाएं कोई पहली बार नहीं है. पहले भी हत्याएं होती रहीं हैं लेकिन वो मामले सामने नहीं आते थे. इस बारे में यूपी में निठारी नरकंकाल केस की जांच में सबसे बड़ी भूमिका निभाने वाले रिटायर्ड डीएसपी गजेंद्र सिंह कहते हैं कि अभी लव अफेयर और अवैध संबंधों को लेकर होने वाली हत्याओं में इज़ाफ़ा हो सकता है. क्योंकि अभी हमारा समाज आधुनिक और पुरानी सोच के संक्रमण काल से गुजर रहा है.

सोशल मीडिया : ऐसे में युवा सोशल मीडिया पर ज़्यादा सक्रिय हैं. इसके साथ ही वो रहन-सहन और पहनावे को लेकर आधुनिक हो रहे हैं. वो खुलकर अपनी पसंद और नापसंद जाहिर कर रहे हैं. लेकिन समाज में इस तरह की सोच आने में अभी कई साल लगेंगे.

इसके अलावा सोशल मीडिया के जरिए युवाओं में दोस्ती बढ़ भी रही है तो उसी सोशल मीडिया के जरिए दोनों में दरार भी आ रही है. इसलिए एक दूसरे पर शक़ भी बढ़ रहा है जिसकी वजह से क़त्ल हो रहे हैं. ख़ासतौर पर यूपी और बिहार में इन्हीं वजहों से ऐसी घटनाएं बढ़ रहीं हैं.

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in