अपराधी चाहे जितना भी चालाक क्यों न हो, कोई न कोई सबूत जरूर छोड़ जाता है!

अपराधी चाहे जितना भी चालाक क्यों न हो, कोई न कोई सबूत जरूर छोड़ जाता है!

मृतक की तस्वीर

रवीश पाल सिंह, अशोक सोनी के साथ चिराग गोठी की रिपोर्ट

MP CRIME NEWS : जिस रस्सी से बेटे के शरीर के हिस्सों को बांधा गया था, उस रस्सी का एक हिस्सा हत्यारे के घर पर ही मिल गया। फिर क्या था पुलिस ने पूरा मामला सुलझा लिया। मामला मध्य प्रदेश का है। बुरहानपुर में एक पिता ने ही अपने बेटे की हत्या कर दी थी।

पूरा मामला जानिए

बुरहानपुर एसपी राहुल कुमार लोढ़ा ने बताया कि घटना निबोला थाना इलाके के धुलकोट गांव की है। 5 जनवरी को रूपरेल नदी में रामकृष्ण नाम के युवक की लाश मिली थी। लाश के हाथ पैर रस्सी से बंधे हुए थे। मृतक की पहचान राम कृष्ण के रूप में हुई। जांच में सामने आया कि मृतक का अपने परिवार से विवाद रहता था। छानबीन की गई तो मृतक के घर पर भी वही रस्सी मिल गई, जिस रस्सी से लाश के हाथ-पैर बांधे गए थे। इस आधार पर रामकृषण के पिता, मां और बहन से पूछताछ की गई और आखिरकार उन्होंने सब सच सच बता दिया।

सगाई होने के बाद भी किसी दूसरी लड़की से करता था बात

पुलिस के मुताबिक, रामकृष्ण के मां, पिता और बहन ने बताया कि उसकी सगाई हो गई थी। इसके बावजूद वह दिनभर किसी दूसरी लड़की से बात करता था। 2 जनवरी की रात करीब 10 बजे घर पर रामकृष्ण फोन पर लड़की से बात रहा था। इस बात से उसके पिता भिमान सिंह नाराज हो गए और रामकृष्ण पर चिल्लाए। दोनों के बीच विवाद हुआ। उन्होंने रामकृष्ण को चांटे मारे और धक्का दे दिया था।

धक्का देने से रामकृष्ण बाथरूम की दीवार से टकराकर जमीन पर गिर गया। इसके बाद पिता ने रामकृष्ण की छाती पर जोर से लात मार दी। जब रामकृष्ण के शरीर में कोई हलचल नहीं हुई तो पिता ने घबराकर रस्सी से उसके हाथ-पैर बांध दिए। इसके बाद पिता, मां जमनाबाई और बहन कृष्णा बाई ने मिलकर लाश को रूपरेल नदी मे फेंक दिया।

<div class="paragraphs"><p>मृतक की तस्वीर</p></div>
Crime news in Hindi: मोबाइल खो गया तो पिता ने गुस्से में अपने बेटे की कर दी हत्या
<div class="paragraphs"><p>मृतक की तस्वीर</p></div>
अजीब मर्डर मिस्ट्री : जिस महिला की लाश से हत्या सुलझी, असल में वो उसकी थी ही नहीं...

Related Stories

No stories found.