MP Crime: कट्टा दिखाकर सवा करोड़ रुपये लूट लिए, पर पांच घंटे के भीतर ऐसे पकड़े गए लुटेरे

MP Crime: मध्य प्रदेश में लूटेरे के हौसले इस कदर बुलंद हैं कि ग्वालियर में कट्टा दिखाकर कंपनी के कर्मचारी से सवा करोड़ रुपये लूट लिए, लेकिन लुटेरों की एक नादानी ने उन्हें सलाखों के पीछे पहुँचा दिया
ग्वालियर में इसी कार से लूटे गए थे सवा करोड़ रुपये
ग्वालियर में इसी कार से लूटे गए थे सवा करोड़ रुपये

MP Crime: मध्य प्रदेश के ग्वालियर (Gwalior) में सोमवार को मोटरसाइकिल (Bike) पर सवार होकर आए दो बदमाशों ने कट्टा (Pistol) दिखाकर निजी कंपनी के कर्मचारियों से करीब 1.20 करोड़ रुपये लूट लिए और मौके से फरार हो गये।

इस बारे में खबर लगते ही पुलिस ने फौरन कार्रवाई की और सिर्फ पांच घंटे के भीतर लुटेरों को दबोचकर सारे रुपये बरामद कर लिए।

MP Crime: बकौल पुलिस ने बताया कि असल में लूटपाट की ये वारदात कंपनी के ही एक ड्राइवर ने अंजाम दी थी और अपने साथियों के साथ मिलकर कंपनी के कर्मचारियों को लूटा था।

पुलिस अधीक्षक अमित के मुताबिक सोमवार को दिन के करीब 11 बजे हरेन्द्र ट्रेडिंग कंपनी का अकाउंटेंट कार में चालक के साथ जयेन्द्रगंज स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा में 1.20 करोड़ रुपये जमा कराने गया। इस प्रकार से कंपनी का कैश नियमित रूप से बैंक में आता रहता है । और ये कैश यही दोनों लोग लाते हैं।

MP Crime: पुलिस एसपी के मुताबिक जयेन्द्रगंज इलाके में ही दो अनजान लोगों ने कार रुकवाई और ड्राइवर के साथ साथ कैशियर को कट्टा दिखाते हुए ने कार को रोका और कार की डिग्गी में रखा रुपयों वाला कार्टन लेकर मोटरसाइकिल से भाग निकले।

पुलिस अधिकारी के मुताबिक पुलिस कंट्रोल रूम को इसकी सूचना 12 बजे मिली। मामले में पुलिस फौरन एक्शन में आ गई। और आसपास के सीसीटीवी फुटेज देखे और दोनों कर्मचारियों से पूछताछ की गई।

MP Crime: लेकिन जब पुलिस ने कार के ड्राइवर से पूछताछ की तो उसके जबाव से पुलिस को कुछ शक हुआ, लिहाजा पुलिस का लहजा बदल गया। कड़ी पूछताछ के बाद उसने अपने साथियों के साथ लूट की बात कबूल कर ली।

पुलिस अधिकारी के मुताबिक आरोपियों की तलाश शुरू हुई तो एक आरोपी महाराजपुरा गांव में मिला और लूट के 1.20 करोड़ रुपये भी उसके पास से ही बरामद हो गए। उन्होंने कहा कि लूट का एक आरोपी फरार है, लेकिन उसे जल्द ही पकड़ लिया जाएगा।

MP Crime: पुलिस के आला अधिकारी के मुताबिक ड्राइवर ने यह साजिश अपने दो साथियों के साथ मिलकर रची थी। सोमवार की सुबह ये कंपनी का करीब डेढ़ करोड़ रुपये लेकर बैंक में जमा कराने निकले और उसी समय ड्राइवर ने अपने साथियों के साथ लूट की योजना बनाई।

योजना बनाकर एक साथी ने कट्टा ताना और दूसरे ने डिक्की से रकम निकाली। इसके बाद फरार हो गए। उन्होंने कहा कि आरोपी ड्राइवर कंपनी में पिछले पांच सालों से काम कर रहा है, लेकिन ज्यादा रकम देखकर उसकी नीयत खराब हो गई। उन्होंने बताया कि इस मामले में कंपनी के चालक सहित आरोपियों पर मामला दर्ज किया गया है।

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in