Rape news: 14 साल की गर्लफ्रेंड को 18 साल के आशिक़ ने मिलने बुलाया फिर चलते ट्रक में 3 दिन किया रेप, लाश को चंबल नदी में फेंका

सांकेतिक फोटो 

Rape news: 14 साल की गर्लफ्रेंड को 18 साल के आशिक़ ने मिलने बुलाया फिर चलते ट्रक में 3 दिन किया रेप, लाश को चंबल नदी में फेंका

चंबल का एक ऐसा इश्क़बाज़ आशिक़ जिसके वहशीपन से भरी ख़ौफ़नाक वारदात से सुनकर आपकी रूह कांप जाएगी.

27 दिसंबर 2021

ग्वालियर, मध्यप्रदेश

14 साल की एक लड़की मंदिर जाने के लिए निकली तो ज़रूर, लेकिन लौटकर वापस घर नहीं आई. शाम की निकली वो बच्ची जब रात तक घर नहीं लौटी तो घरवालों ने पास के पुलिस थाने में उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई. चारों तरफ खोजबीन की गई. मां-बाप, परिवार के हर एक शख़्स और तो और पड़ोसियों से भी लड़की का पता लगाने की कोशिश की गई. लेकिन कुछ हाथ नहीं लगा.

फिर 29 दिसंबर को पुलिस के हाथ एक ऐसा सुराग़ लगा जिसने गुमशुदगी के इस केस को क़त्ल और रेप की सनसनीखेज़ वारदात बनाकर रख डाला.

<div class="paragraphs"><p>फाइल फोटो&nbsp;</p></div>

फाइल फोटो 

आइए आपको चंबल के एक ऐसे इश्क़बाज़ आशिक़ की वहशीपन से भरी ख़ौफ़नाक वारदात से रूबरू करवाएं. जहां उसने अपनी ही मोहब्बत को पाने के लिए ग्वालियर शहर में ऐसा तांडव मचाया कि पूरे सूबे की पुलिस चंबल नदी में दफ़न प्यार की उस चिंगारी को तलाश रही है जिसे उसी के आशिक़ ने बुझाने और तितर-बितर करने में कोई कसर नहीं छोड़ी.

<div class="paragraphs"><p>फाइल फोटो&nbsp;</p></div>

फाइल फोटो 

एक के बाद एक गोताखोर चंबल की नदी में गोता लगा रहे हैं. पुलिस दाएं-बाएं देख रही है. सब के सब इस उम्मीद में की 18 साल के अजीत ने अपनी 14 साल की मोहब्बत का गला घोंटने के बाद चंबल की नदी में कहां फेंका था. तो आख़िर एक दूसरे से बेइंतहा मोहब्बत करने वाले अजीत और उसकी नाबालिग गर्लफ्रेंड के बीच ट्रक में उस रोज़ ऐसा भी क्या हुआ की चंबल की नदी में इतना बड़ा सर्च ऑपरेशन चलाया गया

27 दिसंबर के दिन जब लड़की की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई गई तब पुलिस ने छानबीन में कोई कसर नहीं छोड़ी. पुलिस की सायबर टीम ने लड़की के कॉल डिटेल खंगाले. उसके फ़ोन की जांच पड़ताल की गई, तब अजीत नाम के लड़के के बारे में पता लगा.

पुलिस को पता चला की 14 साल की बच्ची की 18 साल के अजीत से दोस्ती थी और 27 तारीख़ को वो उसी से मिलने के लिए गई थी. बस इतना पता चलते ही पुलिस ने अजीत को धर दबोचा और उससे हैवानियत की वो सारी कहानी पूछी. अजीत ने भी पुलिस के डर से किसी तोते की तरह सारे गुनाह का कबूलनामा पुलिस को सुना दिया.

<div class="paragraphs"><p>फाइल फोटो&nbsp;</p></div>

फाइल फोटो 

अजीत ने बताया कि 27 दिसंबर को उसने नाबालिग लड़की को हाइवे पर मिलने बुलाया था. वहां पर अजीत के साथ ही उसके ड्राइवर दोस्त आकाश बघेल और गोलू बघेल भी मौजूद थे. अजीत और वो लड़की ट्रक में बैठकर घर से भाग निकले. अब ट्रक में ही अजीत ने ग्वालियर से फारूर्खाबाद तक दो चक्कर लगाए, इस दौरान अजीत ने चले ट्रक में नाबालिग लड़की से लगातार रेप भी किया.

इतना ही नहीं अजीत ट्रक में नाबालिग लड़की को तीन दिन लेकर घूमता रहा. इन तीन दिनों में उसने बच्ची के साथ कई बार रेप किया और उसी दौरान अजीत को जानकारी मिली कि लड़की के परिवार ने पुलिस में FIR दर्ज करवा दी. अब किडनैपिंग का मामला दर्ज होने पर अजीत डर गया. जिसके बाद 29 दिसंबर की रात फारूर्खाबाद से लौटते समय अजीत ने लड़की का गला घोंटकर उसे मौत के घाट उतार दिया. इतना ही नहीं उस हैवान ने भिंड के पास चंबल नदी में बच्ची की लाश भी फेंक दी.

अजीत का ये कबूलनामा सुनने भर की देर थी कि पुलिस ने फौरन अजीत के कुकर्मकांड में शामिल उसके साथियों को भी गिरफ़्तार कर लिया.

Related Stories

No stories found.