गुरुग्राम पुलिस ने सुलझाई एक ब्लाइंड मर्डर की गुत्थी, टैक्सी ड्राइवरों ने इस वजह से की थी हत्या

गुरुग्राम पुलिस ने 48 घंटे के भीतर एक ब्लाइंड मर्डर की गुत्थी सुलझाई तो एक बेहद चौंकनें वाला क़िस्सा सामने आ गया।
गुरुग्राम पुलिस ने सुलझाई एक ब्लाइंड मर्डर की गुत्थी, टैक्सी ड्राइवरों ने इस वजह से की थी हत्या
सांकेतिक तस्वीर

Latest Murder News: मामूली कहा सुनी में बात जान जाने तक पहुँच जाए तो इसे क्या कहा जा सकता है। ये क़िस्सा कुछ ऐसा ही है। गुरुग्राम पुलिस ने एक ब्लाइंड मर्डर की गुत्थी सुलझाई तो एक सनसनीखेज़ वारदात का पूरा क़िस्सा सामने आ गया। हत्या की इस वारदात के ख़ुलासे से ये भी चौंकाने वाला पहलू सामने आया है कि आजकल कब किसे और कैसे कोई बात बुरी लग जाए और इतनी बुरी लग जाए कि उसके लिए किसी की जान की क़ीमत ही कुछ न बचे।

असल में गुरुग्राम के महेंद्रगढ़ के गांव डाडोत के रहने वाले सुनील को रेलवे स्टेशन पर टैक्सी चलाने वालों को बुरा भला कहना इतना मंहगा पड़ा कि उसे इसकी क़ीमत अपनी जान देकर चुकाई। ये हैरतअंगेज़ और सनसनीख़ेज़ गुत्थी पुलिस ने पूरे 48 घंटे के भीतर ही सुलझाने में कामयाबी हासिल कर ली।

हत्या के बाद द्वारका एक्सप्रेस वे के पास ठिकाने लगाई लाश

Blind Murder News: असल में सुनील गुरुग्राम रेलवे स्टेशन पर रात के वक्त उतरा और घर जाने के लिए टैक्सी करने लगा। उसी समय किराए को लेकर टैक्सी वालों और सुनील के बीच कहा सुनी हो गई। बात इस कदर बढ़ी कि दोनों टैक्सी ड्राइवर ने सुनील की पीट पीटकर हत्या कर दी और उसकी लाश को द्वारका एक्सप्रेस वे के उस हिस्से में छोड़कर भाग गए जहां आस पास निर्माण कार्य चल रहा है। पुलिस को जब सुबह लाश का पता चला तो उसके सामने लाश के अलावा कुछ नहीं था।

एक ब्लाइंड मर्डर की गुत्थी सुलझाने के लिए पुलिस ने टैक्निकल सर्वेलांस का सहारा लिया और बिखरी हुई कड़ियों को बटोरना शुरू कर दिया। इसी सिलसिले में पुलिस उन दोनों टैक्सी ड्राइवर के पास भी जा पहुँची जिनके साथ सुनील का उस रात झगड़ा हुआ था।

पूछताछ के दौरान ही पुलिस ने जतिन और उमेश चंद को गिरफ़्तार कर लिया और फिर पूछताछ की तो उन दोनों ने अपना गुनाह कुबूल कर लिया। फिलहाल पुलिस ने दोनों को तीन दिन की रिमांड में ले लिया है। हो सकता है कि इस दौरान पुलिस को इन दोनों से कुछ ऐसा पता चले जो इस केस के कई सवालों के जवाब दे सके।

Related Stories

No stories found.