Ram Gopal Varma: बॉलीवुड डायरेक्टर राम गोपाल वर्मा पर इस मामले में FIR दर्ज, जानें क्या है पूरा मामला

FIR Against Ram Gopal Varma: बॉलीवुड के मशहूर डायरेक्टर राम गोपाल वर्मा पर एक विवादित ट्वीट के चलते मुकदमा दर्ज कर दिया गया है.
Ram Gopal Varma
Ram Gopal VarmaSocial Media

FIR Against Ram Gopal Varma: बॉलीवुड के मशहूर डायरेक्टर राम गोपाल वर्मा पर एक विवादित ट्वीट के चलते मुकदमा दर्ज कर दिया गया है. वर्मा पर आईटी एक्ट सहित कई धाराओं में मुकदमा दर्ज हुआ है. यह मुकदमा मनोज सिंह ने हजरतगंज कोलवाली में दर्ज कराया है.

राम गोपाल वर्मा ने द्रौपदी और पांडवों पर विवादित ट्वीट किया था. इसे लेकर बीजेपी की तरफ से नाराजगी जताई गई थी. विवादित ट्वीट के चलते राम गोपाल वर्मा कानूनी पचड़े में फंसे थे. भाजपा नेताओं ने पुलिस में उनकी शिकायत भी दर्ज करवा दी थी.

'रंगीला' और 'सत्या' जैसी फिल्मों का निर्देशन करने वाले राम गोला वर्मा ने एनडीए की राष्ट्रपति पद उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू पर ट्वीट किया था. उन्होंने लिखा था, "अगर द्रौपदी राष्ट्रपति हैं तो पांडव कौन हैं? और उससे भी ज्यादा जरुरी ये है कि कौरव कौन हैं?" उनके इस ट्वीट की सोशल मीडिया यूजर्स ने निंदा की थी और आपत्ति भी जताई थी.

मामले के आगे बढ़ने के बाद भाजपा के नेताओं गुडूर रेड्डी और टी. नंदेश्वर गौड़ ने हैदराबाद के एबिड्स पुलिस स्टेशन में राम गोपाल वर्मा के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई थी. उन्होंने वर्मा पर लगाया था उन्होंने एनडीए की राष्ट्रपति पद उम्मीदवार मुर्मू पर अपमानजनक टिप्पणी की है.

राम गोपाल की हुई निंदा

एबिड्स पुलिस इंस्पेक्टर बी. प्रसाद राव ने वर्मा के खिलाफ हुई शिकायत दर्ज करने के बारे में बात की थी. उन्होंने बताया था, "हमें शिकायत मिली है और इसे कानूनी सलाह के लिए भेज दिया गया है. कानूनी सलाह मिलने के बाद हम वर्मा पर एस.सी./एस.टी एक्ट के अंतर्गत शिकायत दर्ज करेंगे."

वहीं आंध्र प्रदेश भाजपा के प्रमुख सोमू वीरराजू ने राम गोपाल वर्मा के ट्वीट की तीखी आलोचना करते हुए कड़ी कार्रवाई की मांग की थी. उन्होंने यह भी कहा कि राम गोपाल वर्मा को जेल भेजा जाना चाहिए. साथ ही एक मनोचिकित्सक से उनकी जांच करवाई जानी चाहिए.

विवाद शुरू होने के बाद राम गोपाल वर्मा ने एक और ट्वीट कर कहा था कि उनकी बात को गलत तरीके से लिया गया है. हालांकि लगता है कि अपने विवादित ट्वीट की वजह से अभी उन्हें बहुत कुछ सुनने को मिलना बाकी है.

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in