Central Vista को बम से उड़ाने की धमकी देने वाले पूर्व विधायक को दिल्ली पुलिस ने पकड़ लिया

Central Vista : राजधानी में बनने वाली नई संसद यानी सेंट्रल विस्टा को बम (Bomb) से उड़ाने की धमकी भरी चिट्ठी भेजने वाले पूर्व विधायक (Ex MLA) को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार (Arrest) कर लिया गया है।
Central Vista को बम से उड़ाने की धमकी देने वाले पूर्व विधायक को दिल्ली पुलिस ने पकड़ लिया

Central Vista : दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने मध्य प्रदेश (MP) के एक पूर्व विधायक (Ex MLA) को जिस हरकत की वजह से गिरफ्तार (Arrest) किया है, उसे सुनकर हर कोई चौंक गया। असल में मध्य प्रदेश के पूर्व विधायक किशोर समरीते ने सेंट्रल विस्टा (Central Vista) को विस्फोटक लगाकर उड़ाने (Blast) की धमकी दी थी। इतना ही नहीं किशोर समरीते ने संसद भवन (Parliament) के सिक्योरिटी जनरल को एक बैग भी भेजा था जिसमें एक धमकी भरी चिट्ठी के साथ साथ जिलेटिन रॉड मौजूद थे।

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच के डीसीपी अमित गोयल के मुताबिक किशोर समरीते को भोपाल से गिरफ्तार किया गया। क्योंकि किशोर समरीते ने सुप्रीम कोर्ट और लोकसभा अध्यक्ष को भी धमकी भरी चिट्ठियां भेजी थी। किशोर समरीत के बारे में पता चला है कि बालाघाट की लांजी विधानसभा सीट से वो एक बार विधायक भी रह चुके हैं लेकिन उनके खिलाफ अक्सर नक्सलियों के साथ मिली भगत का आरोप लगते रहे हैं।

पुलिस की गिरफ्त में पूर्व विधायक किशोर समरीते
पुलिस की गिरफ्त में पूर्व विधायक किशोर समरीते

धमकी भरी चिट्ठी के साथ भेजी जिलेटिन की रॉड

Central Vista : बताया जा रहा है कि करीब एक हफ्ते पहले संसद भवन के सिक्योरिटी गार्ड को एक बैग मिला था। उस बैग में राष्ट्रीय ध्वज के साथ साथ संविधान की एक कॉपी भी मौजूद थी लेकिन उसी बैग में एक चिट्ठी और जिलेटिन की रॉड भी थी। उस चिट्ठी में किशोर समरीते ने लिखा था कि अगर हमारी मांगे पूरी नहीं हुईं तो हम सेंट्रल विस्टा को बम से उड़ा देंगे। उस चिट्ठी में साफ साफ लिखा कि मांग पूरी करने के लिए 30 सितंबर तक की मियाद है। ये चिट्ठी मिलते ही दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच और इंटेलिजेंस ब्यूरो समेत सभी सुरक्षा एजेंसियां अलर्ट हो गईं।

किशोर समरीते के बारे में जो जानकारी निकलकर समाने आ रही है वो अपने आप में चौंकानें वाली है। किशोर ने कांग्रेस की छात्र शाखा यानी NSUI से सियासत की दुनिया में कदम रखा और फिर जनता दल से होते हुए समाजवादी पार्टी में शामिल हुए थे। समाजवादी पार्टी के टिकट पर ही किशोर समरीते 2007 में उपचुनाव जीतकर विधायक बने थे।

जेल में रहकर लड़ा चुनाव बने विधायक

Central Vista : सबसे हैरानी की बात ये है कि समरीते ने जेल में रहकर चुनाव लड़ा था। और उस वक्त उहें जानवर बिक्री केंद्र को जलाने के इल्ज़ाम में जेल हुई थी। 2022 में भी समरीते ने निर्दलीय चुनाव लड़ा लेकिन जीत नहीं सके।

वैसे किशोर समरीते का अपना एक अतीत भी है। उनके खिलाफ 17 अलग अलग थानों में मामले दर्ज हैं। किशोर समरीते के खिलाफ आगज़नी, दंगा और आर्म्स एक्ट के मामले दर्ज हैं। आर्म्स एक्ट के एक मामले में समरीते पहले ही पांच साल की सज़ा काट चुके हैं।

इसके अलावा समरीते पर ब्लैकमेल और हत्या की धमकी देने का आरोप लगा है। इतना ही नहीं उनके खिलाफ वसूली करने और हत्या की धमकी देने तक के संगीन इल्जाम लगे हैं।

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in