मिस्र में अदालत ने सरकार से कहा, छात्रा के हत्यारे की फांसी का टीवी पर लाइव टेलिकास्ट हो

Egypt Murder: काहिरा यूनिवर्सिटी (Cairo University) की छात्रा (Student) नायरा अशरफ की हत्या (Murder) के आरोपी को फांसी की सज़ा देने के बाद अदालत (Court) ने मिस्र की सरकार से एक हैरतअंगेज मांग की है।
नायरा अशरफ को मारने वाले को सजा ए मौत
नायरा अशरफ को मारने वाले को सजा ए मौत

Egypt Murder: दुनिया (World) में इन दिनों एक बहस छिड़ी हुई है। सज़ा-ए-मौत (Death Panelty) की सज़ा को ख़त्म करने की बहस। लेकिन इसी बीच अफ्रीकी देश (African Country) मिस्र (Egypt) से जो खबर निकलकर सामने आई है उसने इस बहस को अलग दिशा में ही मोड़ दिया। मिस्र से सामने आई खबर इतनी अजीबो गरीब है कि सुनने वाला सोच में पड़ सकता है।

मिस्र की एक अदालत ने वहां की सरकार से गुहार लगाई है कि एक छात्रा के हत्यारे को जो फांसी की सज़ा दी जाने वाली है उसका पूरे देश में लाइव टेलिकास्ट किया जाना चाहिए। अदालत ने अपनी इस गुहार के पीछे जो दलील दी है उसको लेकर समूचे मिस्र में ज्यादातर की राय एक जैसी है। अदालत का मानना है कि जो लोग लड़कियों को अपनी मर्जी का मोहरा मानने की हिमाकत करते हैं उनके लिए ये सज़ा किसी न किसी सूरत में एक मिसाल बने साथ ही ऐसी सज़ा देखकर वो लोग डरने लगें जो ऐसी किसी भी वारदात का हिस्सा बनते हैं।

दरअसल मिस्र में 21 साल की नायरा अशरफ मिस्र यूनिवर्सिटी की छात्रा थी लेकिन बीती 20 जून को काहिरा के क़रीब इलाक़े में मोहम्मद अदल नाम के शख्स ने चाकू मारकर नायरा की हत्या कर दी थी। पुलिस ने बाद में उसे गिरफ्तार किया। पुलिस की तफ़्तीश में ये पता चला कि असल में अदल यूनिवर्सिटी में नायरा का सीनियर था और अक्सर उसे परेशान करता था। बाद में कोर्ट ने अदल को सजा-ए-मौत की सज़ा दी।

काहिरा के पास चाकू मारकर की गई थी छात्रा की हत्या

Egypt Murder: इस वारदात के तीन रोज बाद ही यानी 23 जून को जॉर्डन में ठीक इसी तरह कॉलेज स्टूडेंट इमान राशिद का क़त्ल कर दिया गया था। हैरानी की बात ये है कि हत्या की वारदात का आरोपी उसका सहपाठी था। छानबीन करती हुई पुलिस जब उसके पास तक पहुँची तो उसने खुदकुशी कर ली।

बताया जा रहा है कि नायरा अशरफ का क़त्ल काहिरा से क़रीब 80 किलोमीटर दूर मनशूरा इलाक़े में हुआ था। कातिल को गिरफ़्तार करने के बाद पिछले ही महीने अदालत ने उसे सज़ाए-मौत की सज़ा सुना दी थी। अदालत में अदल ने अपना गुनाह भी कुबूल कर लिया था। उसने ही अदालत को बताया कि वो नायरा से शादी करना चाहता था जबकि नायरा ऐसा नहीं चाहती थी। और उसका इनकार इस कदर नागवार गुज़रा कि गुस्से में आकर उसका क़त्ल कर दिया।

सबसे हैरानी की बात ये ही कि क़त्ल के इस मामले में अदालत में सिर्फ दो दिन सुनवाई चली और दो दिन के भीतर ही अदालत ने उसे सज़ा-ए-मौत की सज़ा दे दी। इस मामले का एक और पहलू ये है कि नायरा के क़त्ल का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था जो अदल के ही एक दोस्त ने अपने कैमरे पर शूट किया था। हालांकि बाद में सोशल मीडिया से ये वीडियो हटा दिया गया था।

पहले भी हो चुका है फांसी का लाइव टेलिकास्ट

Egypt Murder: काहिरा की जिस अदालत ने दो दिन की सुनवाई में आदिल को फांसी की सज़ा सुनाई, उसी अदालत ने रविवार को सरकार से बेहद हैरतअंगेज मांग भी की है। अदालत की मांग है कि सरकार इस फांसी की सज़ा को सरकारी और निजी चैनलों पर लाइव टेलिकास्ट करवाए ताकि दूसरे लोगों को इससे सबक मिले।

यहां तक कि अगर सरकार को इसके लिए कानून में तब्दीली तक करनी पड़े तो वो इस पर विचार करे। मिस्र में आम लोगों की राय ये है कि अदालत की इस मांग को सरकार मान भी सकती है। क्योंकि इससे पहले भी मिस्र में ऐसा हो चुका है। वो बात 1998 की है जब काहिरा में एक महिला और उसके दो बच्चों की तीन लोगों ने मिलकर हत्या कर दी थी। पकड़े जाने के बाद तीनों को ही अदालत ने फांसी की सज़ा सुनाई थी और उन तीनों की फांसी को टीवी पर लाइव टेलिकास्ट किया गया था।

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in