दिल्ली पुलिस ने पकड़ा स्लीपर सेल वाला बाइक चोर गैंग, एक ही झटके में सैकड़ों वारदात की गुत्थी सुलझी
पकड़ा गया बाइक चोरों का स्लीपर सेल गैंग

दिल्ली पुलिस ने पकड़ा स्लीपर सेल वाला बाइक चोर गैंग, एक ही झटके में सैकड़ों वारदात की गुत्थी सुलझी

दिल्ली पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का भंडाफोड़ किया है जो काम तो एक सा ही करते थे लेकिन कोई किसी को नहीं जानता था। पुलिस ने गिरोह को पकड़ने के बाद बाइक चोरी के सैकड़ों वारदातों को सुलझाने का भी दावा किया है। साथ ही उस शख्स को धर दबोचा जो गैंग के तमाम लोगों के बीच एक कड़ी का काम करता था।

Latest Crime News: दिल्ली पुलिस ने बाइक चोरों के एक बडे नेटवर्क का भंडाफोड़ किया है। इस गिरोह को एक ऐसा शख्स चला रहा था जिसके स्लीपिंग सेल पूरे शहर में फैले हुए थे। लेकिन आपस में कोई किसी को नहीं जानता था। जबकि पूरे शहर में गैंग से ताल्लुक रखने वाले क़रीब 20 लोग हैं जो बाइक चोरी की वारदात में सक्रिय रहते थे। लेकिन सिर्फ एक ही शख्स के इशारे पर वो काम करते थे।

पुलिस ने गैंग के मिडिल मैन अज़ीम को दबोचा है। वही अज़ीम इस गैंग को चला भी रहा था और गिरोह के तमाम लोगों के बीच संपर्क कड़ी बना हुआ था। गैंग का भंडाफोड़ होने के बाद पुलिस ने बाइक चोरी की 70 वारदातों को एक ही झटके में सुलझाने का दावा किया। पुलिस ने अज़ीम के साथ साथ बाइक चोर और उसके रिसीवर समेत छह लोगों को गिरफ़्तार किया है। साथ ही पुलिस ने 207 बाइक के इंजन भी बरामद कर लिए हैं। इतना ही नहीं अज़ीम की निशानदेही पर ही पुलिस ने उन 11 दुकानों को भी सील किया है जहां चोरी की बाइक के पार्ट्स बेचे जाते थे।

20 चोरों के गैंग के मास्टर को पुलिस ने दबोचा

Anti Theft Drive: दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच के डीसीपी रोहित मीना के मुताबिक उनके एन्टी ऑटो थेफ्ट विभाग को बाइक चोरी की शिकायतें मिल रही थीं। इसी बीच मुखबिर से जानकारी मिली कि पूर्वी दिल्ली के सूरज मल विहार इलाके से एक ही तरह से कई बाइक चोरी हो चुकी हैं। लिहाजा इस शिकायत के बाद पुलिस ने अपने तरीक़े से इलाक़े में छानबीन का सिलसिला शुरू किया। इसी तफ़्तीश के दौरान पुलिस को जब दो लोगों पर शक हुआ तो उन्हें दबोच लिया। पहचान हुई अजीम और जावेद नाम से।

दोनों को गिरफ़्तार करने के बाद जब पुलिस ने पूछताछ की तो एक के बाद एक कई भेद खुल गए। कड़ाई से पूछताछ होने पर अज़ीम ने शहर भर में फैले अपने स्लीपर सेल के तीन आरोपियों के नाम उजागर कर दिए जिन्हें पुलिस ने पकड़ लिया। उनकी पहचान हरिओम, शाहिद और नदीम के तौर पर हुई। अब पुलिस को अंदाज़ा हो गया कि ये एक शातिर गैंग है जो राजधानी में घूम-घूमकर बाइक चोरी की वारदात को अंजाम देता है। लेकिन इनकी मॉडस ऑपरेंडी शायद दूसरे चोरों के मुकाबले सबसे जुदा थी।

असल में पुलिस की तफ़्तीश में ये भी पता चला है कि इस गैंग के क़रीब 20 गुर्गे पूरे शहर में फैले हुए हैं। जिनकी सच्चाई किसी को नहीं मालूम। यहां तक कि गैंग के गुर्गे भी एक दूसरे के बारे में कुछ भी नहीं जानते थे। उन्हें बस इतना अंदाज़ा था कि शहर के दूसरे हिस्सों में भी उनके साथी हैं लेकिन कौन है और कहां है, इसके बारे में किसी को कुछ भी नहीं पता था।

207 बाइक के इंजन बरामद, 11 दुकानें सील की

Latest Delhi Crime News : इनसे मिली जानकारी के बाद पुलिस फुरकान नाम के शख्स के पास पहुँची। ये चोरी की बाइकों का रिसीवर था। ये लोग बाइक चोरी के बाद उसे काटकर अलग अलग हिस्सों में बांट दिया करते थे। फिर दुकानों से उन पार्ट्स को बेच दिया जाता था।

क्राइम ब्रांच ने अबतक 11 दुकानों को सील कर दिया है। इसके अलावा 207 बाइक के इंजन भी इनसे बरामद किया है। पुलिस का कहना है ये लोग मशीनों की मदद से चेसिस नंबर बदल देते थे और फिर दुकानों से इसे बेच दिया करते थे।

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in