चंदौली: कन्हैया यादव की बेटी की मौत की गुत्थी उलझी !

इन सवालों का जवाब देना हो रहा है पुलिस के लिए
चंदौली: कन्हैया यादव की बेटी की मौत की गुत्थी उलझी !
निशा का परिवार

संतोष शर्मा के साथ चिराग गोठी की रिपोर्ट

UP CRIME NEWS : उत्तर प्रदेश के चंदौली में हिस्ट्रीशीटर कन्हैया यादव के घर पर दबिश देने गई पुलिस पर अब तमाम सवाल खड़े हो गए है। सवाल इसलिए भी उठ रहे हैं, क्योंकि निशा की मौत के बाद उसके पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में किसी गंभीर चोट की पुष्टि नहीं हुई। अब सवाल ये है कि आखिर निशा की मौत कैसे हुई ?

यहां कई सवाल खड़े हो गए है मसलन

पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में कोई गंभीर चोट नहीं, तो फिर मौत कैसे हुई?

घरवालों ने कहा - पुलिस ने मारपीट कर फांसी के फंदे से लटका दिया, लेकिन पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में हैंगिंग नहीं आया?

लड़की ने घर में फांसी लगाई, लेकिन फांसी के फंदे से लटकते किसी बाहरी ने क्यों नहीं देखा?

पुलिस की मारपीट में युवती घायल थी तो अस्पताल क्यों नहीं ले जाया गया?

गले के सामने खरोंच और बाएं जबड़े के नीचे आधा सेंटीमीटर की चोट कैसे आई?

ये दो निशान कैसे थे? पोस्टमॉर्टम में शरीर पर कहीं कोई मौत के लायक गंभीर चोट के निशान नहीं

क्या ये निशान इस बात को सिद्ध कर रहे है कि मामला खुदकुशी से जुड़ा हुआ है ?

निशा के पिता और हिस्ट्रीशीटर कन्हैया यादव ने कहा है कि पुलिस ने पहले उसकी बेटी से मारपीट की और फिर उसे फांसी के फंदे से लटकाकर मौके से भाग गए। अब सवाल ये उठता है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में फंदे से लटकाए जाने की पुष्टि भी नहीं हुई है। दूसरा, निशा ने घर में फांसी लगाई तो उसे फंदे से लटकते हुए किसी बाहरी शख्स ने क्यों नहीं देखा?

यह घटना उस वक्त हुई जब पुलिस सैयदराजा थाना क्षेत्र के मनराजपुर गांव के रहने वाले कन्हैया यादव को पकड़ने के लिए रविवार की शाम को उसके घर पर दबिश देने गई थी।

Related Stories

No stories found.