MP में 'सिर तन से जुदा' मामला, बढ़ गई पुलिस की परेशानी, बीटेक छात्र की मौत पर सस्पेंस क़ायम

MP Crime: मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal) में रेलवे ट्रैक (Track) पर मिली छात्र (Studant) की लाश मिलने के बाद कई सवाल उठ रहे हैं। उसके मोबाइल के मैसेज (Masages) ने पुलिस की परेशानी बढ़ा दी है।
बीटेक के छात्र निशंक राठौर का फाइल चित्र
बीटेक के छात्र निशंक राठौर का फाइल चित्र

MP Crime: एम पी में सर तन से जुदा कांड, फोन पर सिर तन से जुदा की धमकी, फिर आई बीटेक छात्र की मौत की खबर, रेल की पटरी पर मिली इंजीनियरिंग छात्र की लाश।
निशंक राठौर की हत्या हुई या फिर इंजीनियरिंग के छात्र ने आत्महत्या की, मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल की पुलिस अब इसी सस्पेंस को दूर करने के लिए बेचैन है।
रविवार की शाम मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में इंजीनियरिंग के छात्र निशंक राठौर की लाश रेलवे ट्रैक दो हिस्सों में कटी हालत में मिली थी।
हालांकि पुलिस को शुरू में ये मामला एक छात्र की आत्महत्या का लगा लेकिन इस घटना से पहले उसके पिता के मोबाइल पर एक मैसेज आया था...और उस मैसेज ने पूरे मामले को एक रहस्य की चादर से ढक दिया...क्योंकि वो एक 'सर तन से जुदा' करने वाला मैसेज भेजा गया था।
छात्र के पिता उमाशंकर राठौर ने अपने बेटे के मोबाइल से आए मैसेज को बारे में जब पुलिस को बताया तो वो भी चौंक गई। मैसेज की इबारत कुछ यूं थीं...
"राठौर साहाब आपका बेटा बहुत बहादुर था... गुस्ताख-ए-नबी की एक ही सजा, सर तन से जुदा।''

MP Crime: निशंक के वॉट्सऐप और इंस्टाग्राम पर भी उसके फोटे के साथ इस मैसेज को डीपी में लगाया गया है। इस मैसेज को देखने के बाद एक ही झटके में कई सवालों ने अपना सिर उठा लिया।
आखिर ये मैसेज किसने भेजा और क्यों?
क्या ऐसे मैसेज निशंक को पहले भी मिले?
क्या निशंक ने हाल ही में कोई ऐसी पोस्ट साझा की जिस पर कोई ऐतराज हो?
क्या निशंक का किसी के साथ कोई अदावत थी?
क्या 'सर तन से जुदा' का मैसेज देकर किसी ने पुलिस को बरगलाने की कोशिश की?

ये और ऐसे कई सवाल इस वक़्त पुलिस को भी घेरे हुए हैं।
इसी बीच पुलिस को एक सीसीटीवी भी मिला है...
उस सीसीटीवी में ऐसा तो कुछ नज़र नहीं आ रहा अलबत्ता एक स्कूटर और एक बाइक जरूर दिखाई दे रही है जिसके बारे में कहा जा रहा है कि जो स्कूटर नज़र आ रहा है उस पर निशांक ही सवार है। पुलिस की शुरुआती तफ्तीश का इशारा है कि वो स्कूटर निशांक ने किराए पर लिया था और वो नर्मदानगर की तरफ जाता दिखाई पड़ रहा है।

छात्र निशंक राठौर
छात्र निशंक राठौर

MP Crime: ऐसे में अब यहां कुछ और सवाल सामने आ जाते हैं अगर वो शहर के बाहर की तरफ बसे नर्मदापुरम की तरफ जा रहा था
शहर के भीतर रेलवे ट्रैक पर उसकी लाश कैसे पहुँची?
क्या निशांक के साथ और कोई भी था जो आगे या पीछे था?
क्या निशांक को किसी ने वापस शहर की तरफ आने को कहा था?
निशांक अचानक शहर के भीतर रेलवे ट्रैक पर कैसे पहुँच गया?
रविवार शाम हुई इस घटना के बाद पुलिस ने ट्रेन की टाइमिंग और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर

ये नतीजा निकाला है कि हो न हो ये मामला आत्महत्या का है। जबकि निशांक के पिता का दावा है कि निशांक कुछ भी कर सकता है लेकिन आत्महत्या नहीं कर सकता।
निशांक के पिता का दावा और मोबाइल पर दिखाए गए सिर तन से जुदा वाले मैसेज का आपस में क्या रिश्ता है इसके बारे में फिलहाल कुछ भी नहीं कहा जा सकता।
लेकिन सवालों के दायरे में पुलिस का शुरुआती नजीता भी है क्योंकि पुलिस आखिर किस आधार पर इसे बीटेक छात्र की आत्महत्या मान रही है?

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in