बस्ती में तेंदुए की दहशत, गांव वालों ने लाठी डंडों से किया मुकाबला

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

Leopard Attack: अगर जंगल का मस्तमौला तेंदुआ इंसान की बस्ती में आकर हमलावर हो जाए तो कोई क्या कर सकता है, बस ये बात सोच सोचकर रूह कांप सकती है। क्योंकि जंगल की ये बड़ी बिल्ली शिकार करने और झपट्टा मारने में सबसे तेज मानी जाती है। और जब तेंदुआ झपट्टा मारता है तो अच्छे से अच्छा जांबाज भी पस्त पड़ जाता है। ये सब कुछ किस्से कहानियों का नहीं बल्कि जीती जागती तस्वीरों का आंखों देखा हाल है, जब उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थ नगर जनपद के इटवा गांव में तेंदुए का आतंक दिखाई पड़ा।

तेंदुए ने नौ लोगों को जख्मी किया

यहां बड़ी मशक्कत और वन विभाग के कर्मचारियों की मुस्तैदी से एक तेंजुए को जैसे तैसे काबू में किया गया लेकिन तब तक तेंदुए के पंजे और उसके नुकीले पैने दांत नौ लोगों को लहुलुहान कर चुके थे। बताया जा रहा है कि तेंदुए के हमले से पांच लोग घायल हो चुके हैं, जिन्हें इलाज के लिए सीएचसी इटवा में भर्ती कराया गया है। 

लाठी डंडों से किया तेंदुए का मुकाबला

इस गांव में सोमवार की सुबह तेंदुआ एक घर में घुसा और लोगों पर हमला किया था। इसके बाद गांव वालों ने अपने बचाव में लाठी-डंडे से तेंदुए का मुकाबला किया.. लेकिन तेंदुआ कहां लाठी डंडे से काबू में आने वाला। गांव के लोग उसे पकड़ नहीं सके और वो रह रहकर अपनी गुर्राहट और अटैक से गांव वालों में दहशत मचाता रहा। सबसे दिलचस्प तो ये है कि गांव वालों और तेंदुए की भिड़ंत का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है। 
जब गांव के लोगों ने इस मामले की जानकारी वन विभाग को दी तब तक तेंदुआ 9 लोगों को घायल कर चुका था।  

ADVERTISEMENT

सुबह घुसा था गांव में 

जानकारी के मुताबित गांव में दहशत के चलते लोगों ने खुद को अपने घरों को बंद कर लिया था। घंटों की मशक्कत के बाद वन विभाग की टीम तेंदुए को पकड़ने में कामयाब रही। हैरानी की बात ये है कि गांव वालों के साथ हुए इस एनकाउंटर में तेंदुए को भी गहरी चोटें लगी हैं। वन विभाग का कहना है कि तेंदुए का इलाज के बाद उसे जंगल में छोड़ दिया जाएगा। 

बुजुर्ग पर किया तेंदुए ने हमला

गांव वालों का कहना है कि सुबह दक्षिण से तरफ से तेंदुआ गांव में घुसा और घर के आंगन में बैठे एक बुजुर्ग हमला किया। जिसके बाद चीख-पुकार मच गई और लोग इधर-उधर भागने लगे। इस बीच 24 साल का सोनू, 38 बरस का शरीफ, 12 साल के तौकीर पर तेंदुए ने हमला कर दिया। इसी बीच 22 सालके समीन ने लाठी से तेंदुए से वार किया लेकिन तेंदुआ समीर को पंजा मारकर वहां से भाग निकला। सभी घायलों को इलाज के लिए सीएचसी इटवा में भर्ती कराया गया है। 

ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT